मिज़ोरम पर निबंध Essay on mizoram in hindi

Essay on mizoram in hindi

Mizoram – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मिजोरम पर लिखे निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं । चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस जबरदस्त आर्टिकल को पढ़कर मिजोरम पर लिखे निबंध के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Essay on mizoram in hindi
Essay on mizoram in hindi

Image source – https://en.m.wikipedia.org/wiki/Mizoram

भारत देश के मिजोरम राज्य के बारे में – मिजोरम भारत देश का एक पहाड़ी राज्य है । जहां पर चारों तरफ ऊंचे ऊंचे पहाड़ स्थित हैं । मिजोरम राज्य का गठन 20 फरवरी 1987 को किया गया था । जब हमारा भारत देश ब्रिटिश शासन से मुक्त हो गया था तब मिजोरम राज्य का गठन करने का फैसला भारत सरकार के द्वारा किया गया था और पूरे नियम कानून के हिसाब से संसद में मिजोरम राज्य की स्थापना करने का प्रस्ताव पास करा कर इस राज्य के गठन के निर्माण कार्य पूरे किए गए थे । जब इस राज्य का गठन किया गया तब इस राज्य की राजधानी आइजोल को बनाया गया था ।

मिजोरम का सबसे सुंदर और सबसे बड़ा शहर आइजोल है । जिस शहर की सुंदरता वाकई में देखने के लायक है । मिजोरम मे 8 जिले हैं । मिजोरम भारत का 23 वे राज्य के रूप में पहचाना जाता है । मिजोरम उत्तर पूर्वी राज्य में स्थित है । मिजोरम मे जो लोग रहते हैं वह बहुत ही मेहनती हैं । मिजोरम प्रदेश के पश्चिम दिशा में बांग्लादेश लगा हुआ है । मिजोरम के पूर्व दिशा में म्यांमार लगा हुआ है । मिजोरम की राजधानी आइजोल में कई प्रचलित स्थान हैं , पर्यटक स्थान है । जहां पर देश-विदेश से लोग आते हैं और वहां पर घूम कर आनंद प्राप्त करते हैं ।

मिजोरम को सबसे पहले 1972 में संघ शासित प्रदेश भारत सरकार के द्वारा बनाया गया था । इसके बाद 1987 को इसे भारत का 23 वां राज्य बना दिया गया था । जिसके साथ ही मिजोरम के विकास के कार्य प्रारंभ कर दिए गए थे और वहां पर स्थित शहरों का विकास किया गया था । मिजोरम की जनसंख्या के बारे में बात करें तो मिजोरम की जनसंख्या 1097206 है । यदि हम मिजोरम के क्षेत्रफल की बात करें तो मिजोरम राज्य 21080 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है ।मिजोरम की भाषा के बारे में बात की जाए तो मिजोरम के लोग मिजोरम हिंदी , अंग्रेजी भाषा का उपयोग करते हैं ।

मिजोरम मे डाक सूचक संख्या तकरीबन 796 है । मिजोरम में जो वाहन चलते हैं उन सभी वाहनों की प्लेटों पर MZ लिखा जाता है । सबसे पहले मिजोरम को भारत में मिलाने का काम 1891 मे ब्रिटिश शासन के द्वारा किया गया था और मिजोरम को भारत में जोड़ दिया गया था । यदि हम मिजोरम के लोगों के धर्म के बारे में बात करें तो 19वीं शताब्दी के दौरान जब मिजोरम के लोग ईसाई धर्म के संपर्क में आए तब वह ईसाई धर्म  को अपनाने के लिए तैयार हो गए थे और वह ईसाई धर्म मे विश्वास करने लगे थे ।

मिजोरम में रहने वाले लोगों के कई कबीले भी हैं जिनके नाम इस प्रकार से हैं पवई , लुशाई , राल्ते , पैथ , कुकी , हमार , लाखें , मारा , पैंग आदि । यदि हम भारत के मिजोरम राज्य के नामकरण के बारे में बात करें तो 1954 में संसद से मिजोरम के नाम को बदलने का प्रस्ताव पास कराया गया था और इसका नाम मीजो पहाड़ी के नाम पर रखा गया था । इसके बाद इस राज्य को सभी मिजोरम राज्य के नाम से जानने लगे थे । यदि हम मिजोरम के विधानसभा की बात करें तो मिजोरम में विधानसभा सीटें 40 हैं । मिजोरम की राज्यसभा और लोकसभा की 1 सीटें हैं ।

मिजोरम का जो उच्च न्यायालय बनाया गया है वह उच्च न्यायालय गुवाहाटी में स्थित है । भारत देश का यह सबसे छोटा और कम जनसंख्या वाला प्रदेश है । जहां के लोग बहुत ही साहसी हैं । ब्रिटिश शासन से लेकर भारत की आजादी तक मिजोरम विकास से पीछे था । जब भारत देश को आजादी मिली तब मिजोरम को सुंदर बनाने का कार्य किया गया था । आज मिजोरम के लोगों का विकास और मिजोरम के शहरों का विकास हो गया है । यदि हम मिजोरम राज्य की संस्कृति के बारे में बात करें तो मिजोरम राज्य की संस्कृति बहुत ही प्राचीन समय की है ।

वहां के लोग सांस्कृतिक कार्यक्रम मे अपनी लगन दिखाते हैं और वहां के लोग नृत्य , संगीत को गाना एवं सुनना पसंद करते हैं । मिजोरम में जो मिजोरम भाषा बोली जाती है उस भाषा में रोमन लिपि का भरपूर उपयोग किया जाता है । मिजोरम के लगभग 80% लोगों ने 1890 के समय में धर्म परिवर्तन कर लिया था और सभी ने ईसाई धर्म को अपनाने का फैसला भी किया था । इसीलिए मिजोरम में ईसाई धर्म के जितने भी त्योहार होते हैं वह त्योहार मिजोरम के लोग एक साथ मिलकर मनाते हैं । मिजोरम के लोग राष्ट्रीय कृषि से संबंधित त्यौहार भी मनाते हैं ।

जब मिजोरम के लोग त्योहार मनाते हैं तब वह मिजोरम राज्य की वेशभूषा , कपड़े पहन कर नृत्य कर कर खुशी जाहिर करते हैं । मिजोरम के लोगों ने जब ईसाई धर्म अपनाया तब सभी बाइबिल ग्रंथ को मानकर उस में लिखें लेख को पढ़कर ईसाई धर्म का पालन करने लगे थे ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह जबरदस्त आर्टिकल मिजोरम पर  लिखा निबंध Essay on mizoram in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को शेयर करना ना भूलें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *