ईश्वर चन्द्र विद्यासागर अनमोल विचार “Ishwar chandra vidyasagar quotes in hindi”

Ishwar chandra vidyasagar quotes in hindi

दोस्तों ईश्वरचंद विद्यासागर एक बहुत ही महान समाज सुधारक थे,आइए पढ़ते हैं उनके महान विचारों को.

(1)मनुष्य कितना भी बड़ा क्यों न बन जाए उसे हमेशा अपना अतीत याद करते रहना चाहिए.

Why should man become so big, he should always remember his past.

(2)अपने हित से पहले समाज और देश के हित को देखना विवेक युक्त सच्चे नागरिक का धर्म होता है.

Before the interest of society and country before its own interest, it is the religion of a true citizen conscience.

(3)समस्त जीवो में मनुष्य सर्वक्षेस्त बताया गया है क्योंकि उसके अंदर आत्मविश्वास और आत्मज्ञान होता है.

Man has been declared omnibox in all the creatures because there is confidence and self-knowledge in him.

(4)अगर आपको सफल और प्रतिष्ठित बनना है तो आपको झुकना सीखना होगा क्योंकि जो झुकते नहीं है,समय की हवा उन्हें झुका देती है.

If you want to be successful and prestigious then you have to learn to bend because, because the one who does not bend, the wind of time gives him a bow.

(5)विद्या सबसे अनमोल धन है इसके आने मात्र से ही सिर्फ अपना ही नहीं बल्कि पूरे समाज का कल्याण हो जाता है

Vidya is the most precious treasure, it comes not only from her arrival but the welfare of the entire society

(6)एक मनुष्य का सबसे बड़ा कर्म दूसरों की भलाई और सहयोग होना चाहिए जो एक संपन्न राष्ट्र का निर्माण कर सकता है

One of the greatest deeds of a human being should be the goodness and cooperation of others who can create a prosperous nation

(7)बिना कष्ट किए जीवन एक बिना नाविक के नाव के जैसा है जिसमे खुद का कोई विवेक नहीं होता है एक हल्की हवा के झोंके में भी चल देता है.

Life without pain is like a boat without a sailor, in which there is no discretion of itself, it also moves in the light of a light breeze.

(8)दूसरों के कल्याण से बढ़कर दूसरा और कोई नेक काम और धर्म नहीं होता है

There is no other religion and religion than the welfare of others.

(9) जो व्यक्ति दूसरों के काम नहीं आता है वह वास्तव में मनुष्य नहीं है

The person who does not work for others is not actually a human

(10) संसार में सफल और सुखी वह लोग हैं जिनके अंदर विनय हो और विनय विद्या से ही आती है

Successful and happy people in the world are those who are modest and come from modesty

(11)अगर कोई मनुष्य बड़ा बनना चाहता है तो छोटे से छोटे काम भी करे क्योकि स्वावलंबी ही श्रेष्ठ होते है.

If a person wants to become big, then do even small things too because self-supporting is superior.

दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट Ishwar chandra vidyasagar quotes in hindi पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पर ही लाइक करना ना भूलें और हमारी पोस्ट को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *