बाढ़ का दृश्य पर निबंध Essay on flood scene in hindi

बाढ़ का दृश्य पर निबंध Baad ka drishya essay in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सब,आज का हमारा आर्टिकल बाढ़ का दृश्य पर निबंध आप सभी को प्राकृतिक आपदा बाढ़ के बारे में जानकारी देगा इस आर्टिकल में आप बाढ़ के दृश्य के बारे में जानकारी ले पाओगे तो चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के इस निबंध को

Essay on flood scene in hindi
Essay on flood scene in hindi

image source- https://commons.wikimedia.org/wiki/File:2008_Hanoi_flood,_01.jpg

दोस्तों बाढ़ एक ऐसी आपदा है जो कई दिनों से लंबे समय तक बरसात होने की वजह से आ सकती है या फिर किसी बांध आदि के टूट जाने पर बाढ़ आ सकती हैं वास्तव में बाढ़ एक ऐसी आपदा है जिसके जरिए हमें कई सारे नुकसान हो सकते हैं इससे जन धन की हानि होती है और प्राकृतिक संपदाओं का नुकसान भी होता है.इससे मनुष्य,जीव जंतुओ सभी को नुकसान उठाना पड़ता है. हमारे देश में समय-समय पर बाढ़ जैसी आपदाएं आती रहती हैं.

यह घटना लगभग 2 साल पुरानी है जब मैं अपने एक दोस्त के साथ पास की ही नदी मैं नहाने गया था.नदी के चारों और घर बने हुए थे कुछ कच्चे थे तो कुछ पक्के. उस समय बरसात का मौसम था हल्की हल्की बूंदाबांदी हो रही थी मौसम बहुत सुहाना था जब हम उस नदी के पास पहुंचे तो हमने देखा कि बहुत से लोग वहां पर घूमने और स्नानादि करने आए हैं.नदी के आस-पास बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए थे पशु पक्षी, जीव जंतु नदी के आसपास देखने को मिल रहे थे. मैं और मेरा दोस्त दोनों नदी के अंदर प्रवेश करने लगे और नहाने लगे हमें बहुत ही अच्छा लग रहा था कि तभी बहुत जोरों की बारिश होने लगी.

बारिश इतनी तेज थी की नदी में बहुत तेजी से लहरें उठने लगी हम जल्दी जल्दी उस नदी में से निकले हम पानी से बचने के लिए नदी के पास में ही एक पेड़ के नीचे छुपे हुए थे.पानी बरसते हुए काफी देर हो चुकी थी तभी उस नदी की तेज धार के साथ नदी का पानी पुल पर चढ़ गया और गायो और कुछ लोगों को अपने साथ ले गया. पानी की धारा बहुत ही तेज थी यह दृश्य देखकर हमको डर लगने लगा और हम दोनों वहां से भागने लगे तभी हमने देखा की पूरा पुल पानी में डूबा हुआ है उसके दूसरी तरफ जाना लगभग नामुमकिन है.

हम नदी से बहुत ऊपर एक पेड़ के किनारे पर बैठे रहे हमने देखा कि बहुत से पक्षी पेड़ों पर छुप कर बैठे हैं गाय,बकरी नदी के ऊपर पेड़ के नीचे छुप कर बैठे हुए हैं बहुत सारे लोग उस नदी के आस-पास थे.हमने वहां से निकल जाना ही उचित समझा और नदी के ऊपर बने गांव में जाकर छुप गए और पानी बंद होने का इंतजार करने लगे और जब पानी बंद हुआ तो गांव में चारों ओर रोना गाना शुरू हो गया.गांव के नदी के आसपास के कई घर टूट चुके थे बहुत से लोग मारे जा चुके थे बाढ़ का पानी इतना तेज था कि कच्चे घरों को अपने साथ डूबा ले गया.

हमने नदी के पास जाकर जब यह दृश्य देखा तो हमें बहुत ही दुख हुआ.इस बाढ में बहुत से गांव वालों के कपड़े आदि बहते हुए दिख रहे थे.गाय,बकरी जैसे पशु भी उसमें मरे हुए तैरते हुए दिखाई दे रहे थे कुछ लोग वहां पर आंसू बहा रहे थे किसी का भाई, किसी की बहन,किसी की मां,किसी की बेटी उस प्राकृतिक बाढ़ की वजह से बेमौत मारे जा चुके थे यह दृश्य बहुत ही दुखदाई था जब पानी थोड़ा कम हुआ तो आसपास के गांव वाले भी मदद के लिए आगे आए.

बहुत सारे लोगों को उन्होंने खींच-खींचकर बाहर निकाला और उनकी जान बचाई वहां पर पुलिस की जीप भी आ चुकी थी वह अपनी पूरी कोशिश कर रहे थे इस बाढ़ की वजह से आने जाने वाले मार्ग या उस पुल पर आने जाने के लिए रोक लगा दी गयी थी क्योंकि नदी का पानी लगातार लहरें खा रहा था नदी पूरी भरी हुई थी उस नदी में बहुत सारे बड़े-बड़े पेड़ भी तैरते हुए नजर आ रहे थे क्योंकि बाढ़ इतनी तेज थी की बहुत सारे पेड़ टूटकर उस नदी में गिर गए थे.चारों और चीखे ही चीखे सुनाई दे रही थी कुछ लोगो को एंबुलेंस के जरिए हॉस्पिटल पहुंचाया गया.यह दृश्य सच में मुझे जीवन भर याद रहेगा.

हमारे देश में समय-समय पर बाढ़ आती रहती है इससे बचने के लिए सरकार को कुछ उपाय करने की जरूरत है जिससे जन धन की हानि ना हो बहुत सारे लोग इस बाढ़ की वजह से बेघर हो जाते हैं,धन संपत्ति सब उनकी नष्ट हो जाती है,किसी किसी के अपने उससे बहुत दूर चले जाते हैं हमें बाढ़ पीड़ित लोगों की मदद करनी चाहिए जिससे कुछ हद तक उनकी मुसीबत कम हो सके.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल Essay on flood scene in hindi पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा इसी तरह के आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे नई पोस्ट का अपडेट आपको मिल सके

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *