यदि किताबें न होती हिंदी निबंध Yadi pustak na hoti essay in hindi

Yadi pustak na hoti essay in hindi

yadi kitabe na hoti toh essay in hindi-दोस्तों कैसे हैं आप सभी,आज का हमारा आर्टिकल यदि पुस्तक ना होती पर निबंध आप सभी के लिए बहुत ही हेल्पफुल है दोस्तों हम सभी जानते हैं कि पुस्तके हमारे जीवन में बहुत ही महत्व रखती हैं पुस्तके हमें ज्ञान देती हैं. पुस्तके ही हमें ज्ञानवान बनाती हैं पुस्तकों के जरिए हम इंसान बन पाते हैं कहते हैं कि ज्ञान के बगैर एक इंसान पशु के समान ही होता है.पुस्तकों से मिलने वाले ज्ञान की वजह से ही इंसान महान बन पाता है,वह सफल हो पाता है

वास्तव में जीवन में पुस्तकों का बहुत ही ज्यादा महत्व है बदलते जमाने में इंटरनेट तेजी से विकसित हुआ हो इंटरनेट पर हम बहुत सारी वेबसाइट के जरिए नई-नई ज्ञान की जानकारी ले सकते हैं लेकिन फिर भी पुस्तकों का महत्व कम नहीं हुआ है वास्तव में पुस्तकें ही हैं जो हमारी जीवनसंगिनी है हमारी साथी हैं वास्तव में पुस्तकों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व है लेकिन अगर कोई कहे कि यदि पुस्तक ना होती तो तो वास्तव में हमारे जीवन पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता.

Yadi pustak na hoti essay in hindi
Yadi pustak na hoti essay in hindi

यदि पुस्तक ना होती तो जीवन में कुछ भी अच्छा ना होता पुस्तके ना होने के कारण लोग ज्ञानवान नहीं बन पाते.आजकल हम देखें तो हम स्कूल, कॉलेज जाते हैं तो हमारे शिक्षक हमें शिक्षा प्रदान करते हैं लेकिन कुछ ऐसी बातें होती हैं जो हम शिक्षक के द्वारा सही तरह से नहीं समझ पाते अगर पुस्तक ना हो तो हम कंफ्यूजन में ही रह जाएगे और हम आगे नहीं बढ़ पाएंगे.पुस्तक नहीं होगी तो हमारा मनोरंजन भी नहीं होगा बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो पुस्तकें पढ़कर अपना समय व्यतीत करते हैं पुस्तको के बगैर उनका मनोरंजन भी नहीं होगा उन्हें जीवन में बोरियत महसूस होगी.

यदि पुस्तक ना होती तो एक इंसान को ज्ञान लेने में बहुत ही कठिनाई महसूस होती क्योंकि पुस्तकें ज्ञान का खजाना है पुस्तकें हमें ज्ञानवान बनाने में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं.अगर हम इंटरनेट के द्वारा पढ़ाई करते हैं तो ज्यादा समय देने से हमारी आंखें खराब होती हैं हमारी मानसिक स्थिति पर भी ज्यादा इंटरनेट उपयोग करने पर प्रभाव पड़ता है वही पुस्तकें का ज्यादा उपयोग करने से ऐसा कुछ भी नहीं होता वास्तव में पुस्तकें ज्ञान के साथ हमको बहुत कुछ देती हैं वह हमको नुकसान नहीं पहुंचाती.

बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिनके दोस्त नहीं हैं पुस्तकें एक दोस्त बन जाती हैं पुस्तकों के बगैर इंसान बोरियत महसूस करेगा. जब इंसान घर पर रहता है तो उसे एक दोस्त की जरूरत होती है और वास्तव में पुस्तक एक दोस्त की तरह उनके साथ ही रहती हैं.
बहुत सी ऐसी बातें होती हैं जिनका ज्ञान शिक्षक हमें नहीं करवाता है और वह ज्ञान हम पुस्तक से आसानी से ले सकते हैं. पुस्तकों की बहुत ही कम कीमत होती है और इससे हम ज्ञान प्राप्त करके जीवन में आगे बढ़ सकते हैं.

जब हम किसी शिक्षक के द्वारा कोई ज्ञान प्राप्त करते हैं तो कई बार ऐसा होता है कि हम उस ज्ञान को भूल जाते हैं और कभी कभी कंफ्यूज हो जाते हैं कि हमने क्या और किस तरह से पढ़ा लेकिन अगर हमारे पास पुस्तक होती है तो वह बात हम पुनः पढ़के आसानी से उसको कंठस्थ कर सकते हैं और पढ़ाई में भी अव्वल साबित हो सकते हैं.अगर हम कुछ भी भूल जाते हैं तो जाहिर सी बात है हम पुस्तक में देख सकते हैं लेकिन अगर पुस्तक ही नहीं होगी तो क्या हम शिक्षक को बार बार फोन लगाकर या उनसे मिलकर पूछेंगे.

अगर हर कोई छात्र इसी तरह से शिक्षकों को बार-बार फोन लगाकर या मिलकर किसी विषय के बारे में जानकारी बार बार लेगा तो शिक्षक को ज्यादा समय नहीं मिल पाएगा इसलिए हम भूल जाने पर पुस्तकों का उपयोग कर सकते हैं और ज्ञान को प्राप्त कर सकते हैं पुस्तकों के बगैर वास्तव में हमें ज्ञान अर्जित करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

अक्सर छोटे बच्चों को शिक्षक पढ़ाते हैं तो उन्हें बहुत ही कम समझ में आता है लेकिन किताबों में वह चित्र देख देखकर आसानी से पढ़ पाते हैं और समझ पाते हैं किताबें पढ़ाई करने का एक बहुत ही बेहतरीन माध्यम है लेकिन किताबों के बगैर अगर हम जिंदगी की बात करें तो हमारे जीवन में एक अधूरापन होगा साथ में ज्ञान लेने में भी प्रॉब्लम आएगी.

अगर किताबें नहीं होंगी तो लोग इंटरनेट की ओर ज्यादा रुख करेगे और उसके दिमाग के साथ में उसकी आंखों पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ सकता है इसलिए वास्तव में पुस्तके हमारे जीवन में सबसे महत्वपूर्ण योगदान निभाती हैं. पुस्तकों के बगैर हम कल्पना ना करें तो ही अच्छा है क्योंकि पुस्तकें हमारी साथी हैं पुस्तकों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया है ये आर्टिकल Yadi pustak na hoti essay in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *