जल ही जीवन है पर निबंध water is life essay in hindi

jal hi jeevan hai essay in hindi

दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं जल ही जीवन है पर निबंध । इस निबंध को आप जरूर पढ़िए और यह जानिए कि जल का हमारे जीवन में क्या महत्व है । चलिए अब हम पढ़ेंगे जल ही जीवन है पर निबंध ।

जल के बिना मनुष्य का जीवन नहीं चल सकता है। मनुष्य के शरीर के अंदर सबसे ज्यादा पानी की मात्रा पाई जाती है । मनुष्य हर घंटे में पानी पीता है , यदि मनुष्य को पानी नहीं मिलेगा तो वह जीवित नहीं रह पाएगा । एक बार मै भटकते भटकते हुए एक जंगल में पहुंच गया था । दिन का समय था ,बहुत तेज धूप पड़ रही थी । उस धूप के कारण मुझे बहुत अधिक प्यास लग रही थी । प्यास लगने के कारण मैं चल नहीं पा रहा था । उस समय मुझे महसूस हुआ कि पानी के बिना मनुष्य अपने जीवन को नहीं जी सकता है ।

jal hi jeevan hai essay in hindi
jal hi jeevan hai essay in hindi

जब मुझे पानी मिला तो वह पानी मुझे अमृत के समान लगा । हमारे पृथ्वी के चारों ओर पानी ही पानी है लेकिन पीने योग्य पानी कुछ ही परसेंट है । जिस पानी को हम पीकर अपनी प्यास बुझाते हैं । हम सभी यह जानते हैं कि पानी हमारे जीवन में कितना महत्व रखता है । फिर भी हम पानी को बर्बाद करते रहते हैं। हम सभी को पानी बचाना चाहिए ,नदी तालाब के किनारे पर कभी भी कपड़े नहीं धोना चाहिए। नदी तालाब के किनारे गंदगी नहीं करना चाहिए। जिससे कि वह पानी दूषित ना हो । जब हम दूषित उस पानी को पीएंगे तो हमें कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं जिस पानी को पिकर कर हम अपनी प्यास बुझाते हैं उसी पानी को हम गंदा क्यों करते हैं ।

हमें बरसात के पानी को इकट्ठा करके रखना चाहिए। कुए तालाबों के पानी को गंदा नहीं करना चाहिए । हमें यह बात लोगों को बताना चाहिए कि जल के बिना हमारा जीवन अधूरा है हमें उतना ही पानी का उपयोग करना चाहिए जितने पानी की हमें आवश्यकता है । हमें पानी व्यर्थ में नहीं बहाना चाहिए जिससे कि आने वाले समय में पानी की कमी ना हो । हमारे पृथ्वी पर 2% शुद्ध जल है जो कि पीने के लायक है उस पानी को पी कर हम अपनी प्यास बुझाते हैं । यदि हम पानी को दूषित करते रहे तो आने वाले समय में पीने योग्य पानी नहीं बचेगा और हमें अपनी जान गवाना पढ़ सकती है । मैंने कुछ लोगों को देखा है कि वह नहाते समय बहुत सारा पानी बेकार में बहा देते हैं जबकि नहाने में एक बाल्टी पानी लगता है । कुछ महिलाएं बर्तन धोने में बहुत सारा पानी बर्बाद कर देती हैं। बर्तन मांजने में लगी रहती है उधर नल चालू रहता है उसमें से पानी बर्बाद होता रहता है । हमें उन लोगों को रोकना चाहिए उनको बताना चाहिए कि आज हम जल को बचा कर रखे तो कल आने वाले समय में हमारे बच्चों को भी जल प्राप्त हो पाएगा । कुछ लोग अपने वाहनों को धोने के लिए बहुत सारा पानी बेकार में बहा देते हैं जबकि उसके बाहन को एक से दो बाल्टी से ही साफ किया जा सकता है ।

जब हमारे शरीर में पानी की कमी हो जाती है तब हमें बहुत सारी बीमारियां हो जाती हैं और डॉक्टर हमारे शरीर में जल की पूर्ति करने के लिए ग्लूकोज की बोतल चढ़ाता है । उस ग्लूकोस की बोतल से हमारे शरीर के अंदर पानी की कमी दूर होती है । जब हम खाना खाते हैं तब हमें पानी की आवश्यकता पड़ती है । गर्मियों के समय मैं हमें सबसे अधिक पानी की आवश्यकता होती है । जब गर्मी का मौसम आता है तब हमें बहुत जल्दी प्यास लगने लगती है । जब तक हम पानी नहीं पी लेते तब तक हमें अच्छा नहीं लगता है । जल ही जीवन है एवं जल के बिना हम नहीं जी सकते हैं । हमें यह प्रण लेना चाहिए कि हम कभी भी पानी की एक बूंद बर्बाद नहीं करेंगे । हमें कितने पानी की आवश्यकता होगी उतना ही पानी उपयोग में लाएंगे ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जल ही जीवन है पर निबंध jal hi jeevan hai essay in hindi आपको पसंद आए तो शेयर जरूर करें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *