परीक्षा के कठिन दिन पर निबंध Uff yeh pariksha essay in hindi

Uff yeh pariksha essay in hindi

उफ ये परीक्षा वास्तव में जब भी परीक्षा के दिन समीप आते हैं तो ज्यादातर हर एक स्टूडेंट एक तरह की परेशानी में आ जाता है वह परीक्षा की तैयारी करने में लग जाता है और परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए अच्छी तैयारी भी करता है।

Uff yeh pariksha essay in hindi

कुछ स्टूडेंट ऐसे भी होते हैं जो परीक्षा समीप आने पर एक तरह के तनाव में भी आ जाते हैं, किसी को परीक्षा आने पर तैयारी करने में अच्छा लगता है तो किसी किसी को घबराहट सी होने लगती है वास्तव में परीक्षा जब आने वाली होती हैं तो हर एक विद्यार्थी एक तरह से सचेत हो जाता है वह परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए प्रयत्न करता जाता है और परीक्षा की तैयारी करने के लिए एक टाइम टेबल बनाता है और उस हिसाब से पढ़ाई करता है।

वास्तव में यह परीक्षा विद्यार्थियों को काफी जागरूक बना देती है वह अपने सभी कार्यों को सही ढंग से करते हैं वह सही समय पर जागते हैं। कुछ विद्यार्थी तो परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए रात में काफी समय तक जागते हैं कुछ छात्र सुबह काफी देर से जागते हैं वहीं कुछ फेल हो जाने के डर से बहुत ही जल्दी जागने लगते हैं वास्तव में यह परीक्षा के दिन ऐसे ही होते हैं।

जब भी कोई हमारे घर पर परीक्षा के दिनों के समय में मेहमान आता है तो वास्तव में छात्रों को एक अजीब सा गुस्सा भी आता है क्योंकि मेहमानों की वजह से उनकी पढ़ाई में डिस्टर्ब होता है वह इस समय किसी भी तरह का अन्य काम ज्यादातर नहीं करना चाहते। परीक्षा के यह दिन वास्तव में विद्यार्थी के जीवन के लिए बहुत ही अहम होते हैं यह दिन और भी ज्यादा उनके लिए महत्वपूर्ण तब हो जाते हैं जब यह परीक्षा बोर्ड की हो।

विद्यार्थी ज्यादा से ज्यादा अपना ध्यान अपनी तैयारी की ओर लगाते हैं कुछ विद्यार्थी तो ये सोचते हैं की कब हमारी परीक्षाएं पूरी होंगी और हम पूरी तरह से अपने जीवन में आजाद होकर पहले जैसी जिंदगी जी पाएंगे, वह सोचते हैं की उफ्फ ये परीक्षा कब पूरी होंगी। कोई-कोई से विद्यार्थी सोचते हैं की परीक्षा के दिन देर से आए तो कितना अच्छा हो हम और भी अच्छी तरह से अपनी तैयारी कर सकते हैं। जब परीक्षा नजदीक आती है और कोई बच्चा सुबह जल्दी पढ़ाई करने के लिए नहीं जागता तो उनकी मां उन्हें जल्दी जगाती है और परीक्षा की तैयारी करने के लिए कहती हैं।

कभी-कभी तो परीक्षा के समय विद्यार्थी के जीवन में आया हुआ इस बदलाव के कारण विद्यार्थी क्रोधित भी हो जाता है। अक्सर होता है कि कुछ विद्यार्थी सालभर अपनी परीक्षा की कोई खास तैयारी नहीं करते और जैसे ही एग्जाम पास में आ जाते हैं तो वह अपनी तैयारी की ओर विशेष ध्यान देने लगते हैं। विद्यार्थियों को वास्तव में नियमित रूप से परीक्षा की तैयारी करना चाहिए। अगर वह शुरू से ही अपनी परीक्षा की अच्छी तैयारी करेंगे तो परीक्षा के समय उन्हें कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा वह बहुत ही अच्छी तरह से अपनी परीक्षा की तैयारी करके परीक्षा में अच्छे अंक ला पाएंगे।

ये लेख Uff yeh pariksha essay in hindi अपने दोस्तों में शेयर जरुर करे.

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *