शिक्षक दिवस पर निबंध Teacher day essay in hindi

Teacher day essay in hindi

shikshak diwas essay in hindi language-दोस्तों कैसे हैं आप सभी,आज हम आपके लिए लाए हैं शिक्षक दिवस पर निबंध हमारे आज का निबंध स्कूल,कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए लिखा गया है कोई भी स्कूल,कॉलेज का विद्यार्थी हमारे द्वारा लिखित शिक्षक दिवस पर निबंध को पढ़कर जानकारी ले सकता है साथ में अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए भी आप इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें तो चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के इस निबंध को

Teacher day essay in hindi
Teacher day essay in hindi

प्रस्तावना-

हम सभी जानते हैं कि शिक्षक हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं शिक्षक ही हमें ज्ञानवान बनाते हैं जिससे हम सही और गलत के बारे में जान पाते हैं.हमारे देश में शिक्षक प्राचीन काल से ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहे हैं इसी वजह से शिक्षकों को सम्मान देने के लिए हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है वास्तव में शिक्षक दिवस हर एक विद्यार्थी और शिक्षक के लिए महत्वपूर्ण होता है इस दिन शिक्षक और विद्यार्थी कई तरह से शिक्षक दिवस बनाते हैं.

शिक्षक दिवस क्यों मनाते हैं-

शिक्षक दिवस विशेष रूप से शिक्षकों को सम्मान देने के लिए मनाते हैं शिक्षक हमें पढ़ाते हैं हर साल शिक्षक दिवस मनाकर हम उन्हें सम्मान देते हैं शिक्षक दिवस इसलिए भी मनाया जाता है क्योंकि इस दिन हमारे देश के शिक्षक डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था इनका जन्म 5 सितंबर 1818 में हुआ था इनके अनुरोध पर ही शिक्षकों को सम्मान देने के लिए हर साल शिक्षक दिवस मनाया जाता है.

शिक्षक दिवस कैसे बनाते हैं-

शिक्षक दिवस जिस दिन मनाया जाता है उस दिन स्कूल कॉलेजों की छुट्टी रखी जाती है और शिक्षक दिवस के दिन विद्यार्थी शिक्षकों का कई तरह से सम्मान करते हैं उनके मान सम्मान में कई तरह के स्कूल कॉलेजों में कार्यक्रम रखे जाते हैं जिसमें शिक्षकों का सम्मान के बारे में जानकारी दी जाती है और डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में भी बात की जाती है.

इस दिन शिक्षक दिल से अपने कर्तव्य को निभाने के बारे में सोचते हैं और विद्यार्थी भी शिक्षक दिवस के दिन शिक्षक के प्रति अपने कर्तव्य को निभाने की शपथ लेते हैं क्योंकि शिक्षक विद्यार्थी के जीवन में सबसे महत्वपूर्ण होता है शिक्षक और विद्यार्थी दोनों ही कई तरह की शिक्षाप्रद कविताएं, भाषण आदि बोलकर इस कार्यक्रम को मनाते हैं और सभी को शिक्षक के प्रति अपने कर्तव्य को निभाते हैं.

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारे में-

डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1818 को हुआ था ये एक ब्राह्मण परिवार से थे ये भले ही गरीब थे लेकिन पढ़ाई के प्रति उनमें काफी जागरूकता थी इन्होंने अपने कॉलेज की पढ़ाई में दर्शन शास्त्र से एमए किया और उसके बाद ये दर्शनशास्त्र के अध्यापक बन गए उन्होंने अपनी शिक्षा का ज्ञान चेन्नई,बनारस,मैसूर, कोलकाता आदि के कॉलेजों में दिया.उन्होंने लंदन में भी विद्यार्थियों को शिक्षा दी वह शिक्षा को सबसे महत्वपूर्ण मानते थे वह अपने शिक्षकों को कई तरह से बधाइयां भी देते थे वास्तव में डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक महान शिक्षक थे लेकिन 17 अप्रैल 1975 को उनका देहांत हो गया था.

शिक्षक दिवस का महत्व-

जैसे की हम सभी जानते हैं की शिक्षक और शिक्षा दोनों ही हमारे लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं शिक्षक लेकर ही हम किसी विषय के बारे में सही और गलत विचार कर सकते हैं और वह शिक्षा हमें शिक्षक ही प्रदान करते हैं शिक्षक साल भर हमें शिक्षा देते रहते हैं.बदलते जमाने के साथ शिक्षकों के सम्मान में थोड़ी सी कमी भी आई है हमे शिक्षक दिवस मनाने के साथ में सही तरह से सभी शिक्षकों का अपने जीवन में महत्व को समझना चाहिए जिससे हम अपने भविष्य को उज्जवल बना सके.

ये दिन शिक्षकों को भी हमेशा याद रहता है क्योंकि इस दिन वह दिल से प्रण लेते हैं कि हम अपने कर्तव्य का सही तरह से पालन करेंगे और वो विद्यार्थियों को और भी अच्छी तरह से शिक्षा प्रदान करते है.शिक्षक देश के विद्यार्थियों का भविष्य बनाकर देश का भविष्य निर्धारित करता है हमारे जीवन में वास्तव में शिक्षक दिवस का महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि शिक्षक दिवस के जरिए हम शिक्षकों के महत्व को समझकर उनका मान सम्मान करने के प्रति प्रेरित होते हैं.

उपसंहार-

जैसे की हम सभी ने जाना कि वास्तव में शिक्षक हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और शिक्षक दिवस भी हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है हमें शिक्षकों का मान सम्मान करना चाहिए और शिक्षक दिवस के दिन हर एक विद्यार्थी को, शिक्षक को सबसे महत्वपूर्ण समझकर उनसे दिल से शिक्षा ग्रहण करनी चाहिए और शिक्षकों को भी सोचना चाहिए कि देश के विद्यार्थियों के जरिए वो देश की तस्वीर बदल सकते हैं उन्हें विद्यार्थियों को सही तरह से उचित ज्ञान प्रदान करना चाहिए

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया है ये आर्टिकल shikshak diwas essay in hindi language पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Teacher day essay in hindi कैसा लगा इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *