समाज सेवा पर निबंध व कविता social service essay, poem in hindi

social service essay, poem in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं समाज सेवा पर हमारे द्वारा लिखित यह निबंध आप इसे जरूर पढ़ें और अपने ज्ञान को बढ़ाएं समाज सेवा वास्तव में मनुष्य का एक ऐसा गुण है जिसके कारण वह हमेशा हमेशा के लिए याद किया जाता है जो भी व्यक्ति समाज सेवा करता है लोग उस रेर्णी रहते हैं आज हम देखें तो समाज में कई तरह की समस्याएं होती हैं गरीबी, अनपढ़ता, छुआछूत कई तरह की कुप्रथा जो कि समाज को आगे नहीं बढ़ने देती हैं अगर हम इन समस्याओं को दूर करने के लिए आगे बढ़े तो वास्तव में समाज की सेवा होगी।

social service essay, poem in hindi
social service essay, poem in hindi

मनुष्य एक ऐसा जीव है जो अपने समाज के लिए भी कुछ करना चाहता है, देश के लिए भी कुछ करना चाहता है, वह अपनी और अपने समाज में फैली गरीबी को दूर करना चाहता है इसके लिए वह प्रयत्न करता है इसके अलावा हम देखें तो शिक्षा एक समाज को आगे बढ़ाती है, समाज को ज्ञान प्रदान करती है जिससे समाज निरंतर आगे बढ़ता है हम सभी को चाहिए कि समाज में शिक्षा का प्रचार प्रसार करें जिससे समाज का हर एक नागरिक पढ़ा लिखा हो और उसमें सोचने समझने की क्षमता हो।

हम सभी को समाज सेवा करनी चाहिए बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो विभिन्न तरह की कुप्रथाओं की वजह से समाज में अपनी स्थिति को खोते जा रहे हैं देश के हर एक नागरिक का कर्तव्य है कि वह समाज में फैली इन प्रथाओं के खिलाफ आवाज उठाये, महिलाओं का शोषण बाल विवाह, दहेज प्रथा, सती प्रथा जैसी कुप्रथाओं का विरोध करें क्योंकि हम सब मिलकर विरोध करेंगे तो वास्तव में हमारे समाज में एक बदलाव हमें देखने को मिलेगा।

हम सब जीवन में पैसा कमाने के लिए मेहनत करते हैं लेकिन यदि हम समाज सेवा का यह कार्य नहीं कर सकते तो हमारा मनुष्य होना ही व्यर्थ है क्योंकि पशु, पक्षी, जानवर भी दो वक्त के खाने के लिए अपना गुजारा कर लेते हैं मनुष्य होने के नाते हमारा कुछ दायित्व हमारे समाज के प्रति भी है कि हम समाज सेवा करें, समाज में फैली इन बुराइयों को दूर करें यही हमारा कर्तव्य है।

समाज में अगर कुछ लोग अमीर हैं और कुछ लोग गरीब हैं हमें चाहिए कि उन गरीबों को ऊपर उठाने के लिए हम प्रयत्न करें यही समाज सेवा है इसके लिए हमें गरीबों की मदद करनी चाहिए, महिलाओं को भी आगे बढ़ाने का प्रयत्न हम सभी को मिलकर करना चाहिए क्योंकि महिलाएं आगे बढ़ेगी तभी हमारा देश तेजी से आगे बढ़ेगा।

समाज में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो केवल स्वार्थी होते हैं वह अपना स्वार्थ ही देखते हैं वह समाज सेवा के बारे में नहीं सोचते वास्तव में ऐसे लोगों का जीवन व्यर्थ ही है हमें समाज की सेवा करनी चाहिए, समाज को आगे बढ़ाने के लिए हर एक प्रयत्न करना चाहिए, हमें बिल्कुल भी स्वार्थी नहीं होना चाहिए हम सभी का कर्तव्य है कि हम समाज सेवा करें, समाज सेवा करने से वास्तव में मन का सुकून तो मिलता ही है लोग हमें हमेशा याद भी रखते हैं वह हमें कभी नहीं भूलते।

poem on social service in hindi

आओ समाज सेवा करें

देश के लिए कुछ सहयोग करें

देश में आगे बढ़ते चले

अपने कदम आगे बढ़ाते चलें

 

गरीबी और अनपढ़ को दूर करें

समाज की कुप्रथाओं का हम विरोध करें

अब हम आगे बढ़ते चलें

समाज के लिए कुछ अच्छा करते चलें।

 

निस्वार्थ भाव हम सब कुछ करें

समाज के हित में हम आगे बढ़े

आओ समाज सेवा करें

देश के लिए कुछ सहयोग करें।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल social service essay in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल social service poem in hindi कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *