चूहे पर निबंध Rat essay and poem in hindi

Essay on rat in hindi language

essay on chuha in hindi-दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों अक्सर स्कूल की परीक्षाओं में बच्चों से जानवरों पर निबंध लिखने के लिए कहा जाता है इसलिए हम बच्चों की हेल्प के लिए, उनकी स्कूल की परीक्षा में निबंध लिखने के लिए आप सभी के लिए लाए हैं चूहे पर निबंध तो चलिए पढ़ते हमारे आज के इस निबंध को

Rat essay and poem in hindi
Rat essay and poem in hindi

चूहा एक छोटा सा जानवर होता है यह स्तनधारी जानवर है यह अक्सर भारत में ज्यादातर घर-घर में पाया जाता है इसकी एक लंबी पूंछ होती है, चार पैर होते हैं आगे 2 पैर जो होते हैं उनका वो हाथों की तरह भी इस्तेमाल करता है इसके लंबे लंबे दांत होते हैं यह दांत उसके कई चीजें कुतरने के काम आते हैं यह अक्सर दीवालो को, कपड़ों को, रोती को कुतरते रहते हैं यह घरों में अपने लिए एक रहने के लिए पोल बना लेते हैं जिसमें वह अपने और अपने परिवार के साथ रहते हैं जिस वजह से घर में रहने वाले लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

कई बार घर के लोग चूहों को मारने के लिए जहरीला पदार्थ भी रख लेते हैं यानि चूहे मारने की दवाई भी रख देते हैं चूहों का जीवनकाल लगभग 2 वर्ष रहता है लेकिन कुछ और ज्यादा समय भी सकते हैं। चूहा बहुत फुर्तीला तो होता है लेकिन उसे सही तरह से नहीं दिखता लेकिन इनकी सूंघने की क्षमता अत्याधिक होती है

चूहा भगवान श्री गणेश की सवारी भी कहा जाता है चूहों का दिमाग बहुत तेज होता है यदि यह किसी पतले से रास्ते में चला जाए और रास्ता टेड़ा मेडा हो तो उसकी याददाश्त इतनी तेज होती है कि वह आसनी से एक सकता है। यह फुर्तीला भी बहुत होता है इसको अगर हम पकड़ने की कोशिश करें तो यह बहुत ही तेजी से भागता है यह जब भी बिल्ली की आवाज सुनता हैं या बिल्ली को देखता हैं तो बहुत ही फुर्ती से भागता हैं हम इनके बराबर फुर्तीले नहीं होते।

मनुष्य के हृदय की गति धड़कन लगभग 72 होती है लेकिन इनकी दिल की धड़कन 300 से भी ऊपर होती है यह बहुत ही फुर्तीला जीव होता है यह कई रंगों का होता है। घर में पाए जाने वाले चूहे काले भूरे रंग के होते हैं लेकिन यह सफेद रंग के भी होते हैं जिन्हे लोग अक्सर पालना पसंद करते हैं। सफेद रंग के चूहे फुर्तीले नहीं होते क्योंकि उन्हें लोग पालते हैं। चूहों के लिए हर साल 4 अप्रैल को वर्ल्ड रेट डे मनाया जाता है।

एक चुहिया का लगभग 21 दिनों तक गर्भकाल होता है फिर यह लगभग 5 या इससे ज्यादा चूहों को जन्म देती है। चूहों के बारे में सबसे अच्छी बात यह है जो हम नहीं जानते कि चूहे पानी में भी तैर सकते हैं और तो और यह पानी में कुछ दिनों तक तैर सकते हैं उन्हें पानी में तैरने में कोई भी परेशानी नहीं होती वह बड़ी आसानी से तैर सकते हैं। चूहे हमारे घर में पाए जाते हैं लेकिन उससे कई तरह की बीमारियां होने का खतरा होता है जिससे हमें बचना चाहिए

बिल्ली का सबसे बड़ा शत्रु बिल्ली होती है। चूहों के बारे में एक और खास बात यह है कि अंतरिक्ष में सबसे पहले एक चूहे को ही भेजा गया था वास्तव में चूहे बहुत ही छोटे होते हैं यह बहुत ही शरारती होते हैं बच्चे इन्हें देखने में भी पसंद करते हैं लेकिन घरेलू चूहे हर किसी के हाथ में नहीं आ पाते क्योंकि यह फुर्तीले होते हैं। एक बात और यह है की हमारे भारत देश में एक चूहो का मंदिर भी है जिस मंदिर में चूहे रहते हैं और लोग उनको भोजन के लिए अनाज आदि खिलाते हैं

चूहे पर कविता cat and rat poem in hindi

चूहे ने मारी बिल्ली मे लात
चूहा आगे बिल्ली पीछे
बिल्ली बोली म्याऊं म्याऊं
तूने क्यों मुझमें दे दी लात

चूहा ना कुछ बोलता
पीछे देख देखकर भागता
बिल्ली मौसी आओ मजा चखाऊ
तुमको दुनिया की सैर कराऊ

मेरे बिल में तुम आ जाओ
है दम है तो मुझे खा जाओ
बिल्ली बोली म्याऊं म्याऊं
तूने क्यों मुझमें दे दी लात

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल Essay on rat in hindi language पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Rat essay and poem in hindi कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *