रामापीर का जीवन परिचय Ramapir biography in hindi

Ramapir biography in hindi

दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं एक ऐसे महान बाबा रामापीर के बारे में जानकारी जिन्होंने हिंदू एवं मुस्लिम एकता के लिए बहुत कुछ किया तो दोस्तों चलिए शुरू करते हैं इनके बारे में जानकारी, बाबा रामापीर जिनका समाधि स्थल रुणिचा है जहां पर काफी धूमधाम से मेला भी लगता है। यह एक ऐसा स्थान है जहां पर भारत ही नहीं पाकिस्तान से भी कई लोग आते हैं।

Ramapir biography in hindi
Ramapir biography in hindi

image source-https://hi.wikipedia.org/wiki/

दरअसल रामापीर जिन्हें लोग बावरी कहते हैं एक ऐसे बाबा हैं जिन्होंने हिंदू, मुस्लिम एकता के लिए अपने जीवन भर कार्य किया। दरअसल यह बात तब की है जब हमारे भारत देश में कई अन्य देशों के मुस्लिम शासकों ने आक्रमण कर दिया और हिंदुओं पर कई तरह के अत्याचार किए। हिंदुओं का धर्मांतरण भी उनके द्वारा किया गया तभी ऐसे ही महान बाबाओं ने जन्म लिया और हिंदू, मुस्लिम एकता के लिए उन्होंने कार्य किया।

ऐसे ही बाबाओं में से एक हैं महान बाबा रामदेव यानी रामापीर, रामापीर के बारे में लोगों का मानना है कि यह भगवान श्री कृष्ण के अवतार हैं इनका जन्म 1409 में बाड़मेर में हुआ था इनके पिता का नाम अजमाल जी तंबर एवं माता जी का नाम मैणादे था।

ऐसा माना जाता है कि इनके माता-पिता को कोई संतान नहीं हो रही थी जिस वजह से वह काफी परेशान थे उनके माता-पिता भगवान श्री कृष्ण के भक्त थे। एक बार की घटना है कि कुछ किसान अपने खेत में अन्य बोने के लिए जा रहे थे लेकिन अजमाल जी मिल गए लेकिन किसानों ने इस तरह अजमाल जी के मिलने पर अपशगुन जताया और अजमाल जी को तरह-तरह के ताने दिए इससे दुखी होकर अजमाल जी श्री कृष्ण भगवान के समक्ष गए और उन्होंने अपनी बैठक सुनाई।

तभी भगवान श्री कृष्ण की कृपा से ही उनके यहां पर रामापीर जी का जन्म हुआ जन्म के बाद उन्होंने कई ऐसे कार्य किए जो काफी प्रसिद्ध हैं। यह पोकरण के शासक भी रहे थे लेकिन इन्होंने एक बाबा के रूप में लोगों की सेवा की और हिंदू, मुस्लिम एकता को लेकर कार्य किए इसी के साथ में इन्होंने गरीबों की मदद की, छुआछूत के खिलाफ उन्होंने आवाज उठाई और ऐसे कई कार्य किए जो आज भी प्रसिद्ध है।

बाबा रामापीर के बारे में कई कथाएं भी हैं जिनके बारे में हमें जरूर जानना चाहिए।

दोस्तों मेरे द्वारा लिखी रामापीर बाबा जी की जीवनी आपको कैसी लगी हमें जरूर बताएं, इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले। 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *