वृद्धाश्रम पर कविता Poem on old age homes in hindi

Poem on old age homes in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं वृद्धा आश्रम पर हमारे द्वारा लिखी कविता को। दोस्तों वृद्धाश्रम एक ऐसा स्थान होता है जहां पर वृद्ध लोग रहते हैं। वृद्ध लोग जिनके बच्चे जिन्हें वृद्धाश्रम में छोड़ जाते हैं वह उन्हें अपने साथ नहीं रखते वास्तव में जब बच्चे अपने मां-बाप को वृद्धाश्रम में छोड़ जाते हैं और अपने मां बाप के बुढ़ापे का सहारा नहीं बनते तो बुजुर्ग मां-बाप को काफी दुख होता है। हमें अपने मां बाप को सम्मान देना चाहिए, बुढ़ापे में उनका सहारा बनना चाहिए, उन्हें बुढ़ापे में कभी भी अकेला नहीं छोड़ना चाहिए चलिए पढ़ते हैं वृद्धा आश्रम पर हमारे द्वारा लिखी इस कविता को

Poem on old age homes in hindi
Poem on old age homes in hindi

बेटा वृद्धाश्रम में छोड़ गया

अपने पिता को वृद्धाश्रम में छोड़ गया

पाया था वो सब भूल गया

पिता को अकेला छोड़ गया

 

जिसने जन्म दिया उसको भूल गया

आंखों में आँशु दे गया

वृद्धाश्रम में छोड़ गया

जीवन मे दुख दे गया

 

बुढ़ापे में सहारा ना बना

बाप को बोझ समझने लगा

वृद्धाश्रम के भरोसे छोड़ गया

बेटा वृद्धाश्रम में छोड़ गया

 

बेटा वृद्धाश्रम में छोड़ गया

अपने पिता को वृद्धाश्रम में छोड़ गया

पाया था वो सब भूल गया

पिता को अकेला छोड़ गया

इसी तरह की कविताओं Poem on old age homes in hindi को पढ़ने के लिए इसे शेयर जरूर करें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *