बाल विवाह पर कविता Poem on child marriage in hindi

Poem on child marriage in hindi

दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं बाल विवाह पर हमारे द्वारा लिखी कविता। बाल विवाह की वजह से कई लड़के लड़कियों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिन लड़के लड़कियों को जिस उम्र में पढ़ाई करनी चाहिए उस उम्र में वह शादी करके अपने बचपन को खो देते हैं।

बाल विवाह को हमारे समाज से दूर कर देना चाहिए क्योंकि बाल विवाह की वजह से देश के युवा युवती का भविष्य बर्बाद होता है चलिए पढ़ते हैं बाल विवाह पर हमारे द्वारा लिखी इस बेहतरीन कविता को

Poem on child marriage in hindi
Poem on child marriage in hindi

बाल विवाह को दूर करें हम

इस जीवन में आगे बढ़े हम

हर बच्चे का जीवन सँवारे हम

जीवन को अलग ढंग से जिए हम

 

बच्चों पर अत्याचार ना करें हम

विवाह करके उनका जीवन बर्बाद ना करें हम

बाल विवाह के खिलाफ खड़े हो जाएं हम

हर मुश्किल से लड़ जाए हम

 

गांव से शहर तक लोगों को जागरूक करते चलें

बाल विवाह के विरोध में आवाज उठाते चलें

बच्चों के जीवन को बचाते चले

हर संभव कोशिश हम करते चलें

 

बाल विवाह होगा तो देश बर्बाद होगा

कम उम्र में ही बच्चों का जीवन बर्बाद होगा

देश की समस्या को दूर करते चलें

हर संभव प्रयत्न हम करते चलें

दोस्तों यदि आपको बाल विवाह पर हमारे द्वारा लिखी कविता Poem on child marriage in hindi पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें और बाल विवाह के विरोध में आवाज जरूर उठाये।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *