नई शिक्षा नीति पर निबंध Nai shiksha niti essay in hindi

Nai shiksha niti essay in hindi

नई शिक्षा नीति के अंतर्गत हमारे देश में शिक्षा को बढ़ावा दिया गया है जिससे कि सभी लोग शिक्षित होकर देश और समाज का विकास कर सके । नई शिक्षा के अंतर्गत हम शिक्षा प्राप्त करके अज्ञानता को दूर भगा सकते है । कुछ लोग बीच मैं ही अपनी शिक्षा को छोड़ देते हैं और वह अनपढ़ रह जाते हैं ।

हमारे देश के सांसद विचार करते हैं की शिक्षा को किस तरह से आगे बढ़ाया जा सकता है और लोगों को ज्यादा से ज्यादा शिक्षा प्राप्त करने के लिए जागरूक कर सके, वह कौन सा कारण है जिसके कारण कई लोग शिक्षा से दूर भागते हैं और शिक्षित नहीं हो पाते इस बारे में संसद में कई बार बहस हो चुकी है और शिक्षा के क्षेत्र को कैसे बढ़ाया जा सके इसके विषय में भी कई काम किए जा रहे हैं ।

नई शिक्षा नीति के अंतर्गत सरकार द्वारा हर गांव में 1 किलोमीटर के अंतर में स्कूल खोले गए जिसका उद्देश्य यह है की गांव के हर वर्ग के लोग शिक्षा प्राप्त कर सकें, हमारे देश की शिक्षा व्यवस्था में सुधार हो सके जिससे कि देश के नागरिक शिक्षित होकर अपने और अपने गांव शहर का विकास कर सकें ।

Nai shiksha niti essay in hindi
Nai shiksha niti essay in hindi

https://khabar.ndtv.com/news/india/report-on-new-education-policy-may-come-in-june-1835585

हमारी नई शिक्षा नीति का उद्देश्य था कि हमारे देश में सभी को शिक्षा का अधिकार मिले चाहे वह किसी भी धर्म का हो । हमारे देश में अनुसूचित जनजाति के लोग पुराने समय से ही पिछड़े हुए हैं उनको आगे बढ़ाने के लिए हर एक गांव में स्कूल बनाकर शिक्षा प्रदान करना है जिससे की गांव के अनुसूचित जनजाति के लोग आगे बढ़ सकें और शिक्षा प्राप्त कर सकें । हम जानते हैं कि हमारा विकास और हमारे देश का विकास तभी संभव है जब हमारे देश के नागरिक शिक्षित होंगे, पढ़ेंगे , लिखेंगे और आगे बढ़ेंगे ।

बढ़ती हुई जनसंख्या हमारे देश में बेरोजगारी बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है पर यह बढ़ती हुई जनसंख्या हम तभी रोक पाएंगे जब लोग शिक्षित होंगे जब वह जान जाएंगे कि ज्यादा संतान होने से बेरोजगारी बढ़ेगी और बढ़ती हुई यह बेरोजगारी देश की सबसे बड़ी समस्या है अगर इस समस्या को खत्म करना है तो गांव और शहर के पिछड़े हुए व्यक्तियों को शिक्षित करना पड़ेगा चाहे वो किसी भी धर्म का हो ।

नई शिक्षा के अंतर्गत राष्ट्रीय शिक्षा नीति को तीन भागों में बांटा गया है जैसे कि प्राथमिक शिक्षा , उच्च शिक्षा , और माध्यमिक शिक्षा। हमारे देश के सभी नागरिकों को शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार है, गांव के ऐसे कई लोग हैं जो बीच में से ही पढ़ाई को छोड़ देते हैं उन्हें काफी परेशानी का सामना करना होता है वह अपने बच्चों को पढ़ाई ना कराकर काम करवाते हैं जिसके कारण वह बच्चा शिक्षा से दूर हो जाता है । हमारे देश के संविधान के हिसाब से सरकार को इस समस्या का समाधान करना होगा और उनकी मजबूरी को खत्म करके शिक्षा की ओर लाना होगा जिससे कि वह लोग शिक्षित होकर ज्ञान की ओर बढ़ सकें ।

शिक्षा के साथ साथ खेलकूद में भी सभी को आगे बढ़ाना है जिससे कि उनका मानसिक विकास हो सके। सरकार के द्वारा कई कार्यक्रम किए जाते हैं जिनका उद्देश्य सिर्फ एक ही है कि लोग शिक्षा की ओर बढ़े और अपना विकास कर सकें । शिक्षा की इस व्यवस्था को सुधारने के लिए कई साधन सरकार की ओर से दिए जाते हैं और सरकार कई कार्यक्रम के माध्यम से बच्चों को स्कूल जाने के लिए प्रेरित करती है क्योकि स्कूल जाने से ही बच्चे का पूर्ण विकास संभव है।

यदि जब बच्चा स्कूल नहीं जाएगा तो वह कैसे शिक्षा प्राप्त कर पाएगा और वह कैसे आगे बढ़ेगा? आज हमारे देश में शिक्षा प्राप्त करने के कई साधन सरकार की ओर से फ्री में दिए जाते हैं जो सरकारी स्कूल होते हैं वहां पर स्कूल की किताबें , बैग और ड्रेस आदि की व्यवस्थाएं सरकार के माध्यम से की जाती हैं जिससे कि सभी वर्ग के लोग शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ सकें । जब तक सभी वर्ग के लोग शिक्षा के क्षेत्र में आगे नहीं बढ़ेंगे तब तक उनका विकास संभव नहीं है ।

पहले जो किसान खेती करते थे उनको पता नहीं होता था कि वह किस तरीके से खेती करें जिससे की उनकी फसल की पैदावार ज्यादा से ज्यादा बढ़ सके लेकिन आज हर गांव के लोग पढ़ाई कर रहे हैं और शिक्षा प्राप्त करके खेती के क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं और शिक्षा के माध्यम से ही हमारे देश के कई लोग डॉक्टर, इंजीनियर बनकर अपना और देश का नाम रोशन कर रहे हैं ।

इस लेख Nai shiksha niti essay in hindi को शेयर करे.

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *