मेरी मातृभूमि भारत पर निबंध my motherland essay in hindi

my motherland essay in hindi

मेरी मातृभूमि भारत है मेरे पूरे देश में कई तरह के लोग रहते हैं और कई तरह की भाषाएं बोली जाती हैं। जब मैं यह सोचता हूं की अगर मैं किसी और देश में जन्म लेता तो मुझे अच्छी संस्कृति और संस्कार प्राप्त नहीं हो पाते क्योंकि मैं अपनी मातृभूमि को जन्म देने वाली मां के बराबर मानता हूं और मुझे गर्व है कि मेरा जन्म भारत की मातृभूमि पर हुआ है ।

my motherland essay in hindi
my motherland essay in hindi

हमारे भारत की मातृभूमि की जो संस्कृति है वह हम सभी को एक दूसरे से बांधे रखती है । हमारे देश की इस मातृभूमि पर कई वीरों ने जन्म लिया है । कई ऐसे साधु महात्माओ ने जन्म लिया है जिन साधु महात्माओं से हम सभी ज्ञान लेकर अपना और अपने देश का विकास करते हैं । हमारे देश की मातृ भूमि पर कई तरह की फसल उगाई जाती है और उस फसल को देश विदेशों में भेजकर व्यापार किया जाता है । हमारे भारत की मातृभूमि कई वीर जवानों के खून से बनी है और जब भी देश को नौजवानों की आवश्यकता होती है तब हमारे देश के नौजवान युवा अपना योगदान देने से पीछे नहीं हटते क्योंकि हमारे देश में जब कोई बच्चा जन्म लेता है तो उसकी मां बचपन से ही उसको देश भक्ति सिखाती हैं ।

जब बच्चे अपनी मां से हमारे भारत के महान पुरुषों की गाथा सुनते हैं तो उनके खून में उबाल आ जाता है और वह भी देश भक्त बन कर अपने देश के विकास में अपना योगदान देना चाहता हैं । मुझे मेरी मातृभूमि सबसे ज्यादा प्यारी है और मैं अपनी मातृभूमि पर किसी तरह का कोई भी संकट आने नहीं दूंगा । अगर मेरी मातृभूमि पर किसी तरह का कोई संकट आया तो मैं अपनी जान की परवाह ना करके मेरी मातृभूमि की रक्षा करूंगा । मेरी मातृभूमि को हरी-भरी करने के लिए मेरे भारत के किसान बड़ी मेहनत करते हैं और हम सभी की भूख मिटाने के लिए सर्दियों में भी आधी रात को उठकर खेतों में पानी देते और कठिन परिश्रम के बाद जब फसल आती है तो फिर फसल हम लोग खरीद कर अपनी भूख मिटाते हैं ।

हमारे देश के किसान और हमारे देश के जवान इस मातृभूमि को सुंदर बनाने में अपना योगदान देते हैं । जब हम रात में अपने घरों में सोते हैं तब हमारे देश के जवान भारत की सीमाओं पर बंदूक लेकर दुश्मनों से हमारी रक्षा करते हैं और जब कोई आतंकवादी हमारे देश में घुसने की कोशिश करते हैं तो वह अपनी जान की परवाह ना करके उन आतंकवादियों से लड़ाई करते हैं । हमारे देश की मातृभूमि पर कई वीरो ने बलिदान दीया है और आज भी हमारे देश में कई ऐसे वीर जन्म लेते हैं जिनका मकसद भारत की मातृभूमि की रक्षा करना होता है ।

भारत की इस मातृभूमि को मैं नमन करता हूं । जब मैं पढ़ाई करने के लिए अमेरिका गया तब मेरे साथ में जो लोग रहते थे उन लोगों से मैं बड़े गर्व से कहता था कि मैं भारत का रहने वाला हूं और जब मैं अपनी पढ़ाई खत्म करके हमें देश आ रहा था तब मुझे इतना आनंद महसूस हो रहा था कि मानो स्वर्ग में जा रहा हूं । जब मैं अपने देश में आया तो मुझे यह महसूस हो रहा था की मैं स्वर्ग में लौट आया हूं और मे मन में यह बात सोच रहा था की मैं कभी भारत की मातृभूमि को छोड़कर नहीं जाऊंगा और मेरी मातृभूमि की रक्षा करूंगा । इस देश को जब भी मेरी जरूरत पड़ेगी तो मैं जरूर अपना योगदान दूंगा । हमारा भारत एक ऐसा देश है जहां के लोग राष्ट्रीय पर्व सभी साथ मिलकर मनाते हैं । कई ऐसे त्योहार भी हमारे भारत में मनाए जाते हैं जो सभी साथ मिलकर मनाते हैं । मेरे भारत मैं चारों तरफ हरियाली ही हरियाली दिखाई देती है हमारे भारत का वातावरण स्वच्छ और शांत है ।

दोस्तों अगर यह आर्टिकल my motherland essay in hindi आपको पसंद आए तो जरूर मैसेज करें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *