कुटीर उद्योग पर निबंध Kutir udyog essay in hindi

Kutir udyog essay in hindi

कुटीर उद्योग वह उद्योग है जिसके माध्यम से हम अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं और हमारे परिवार के सपनों को भी पूरा कर सकते हैं । कुटीर उद्योग शुरू करने के लिए हमको एक समूह की आवश्यकता होती है औऱ वह समूह हम परिवार के सदस्य मिलकर बना सकते हैं या पड़ोसियों से मिलकर भी बना सकते हैं । समूह बनाने के बाद हमको एक योजना तैयार करनी होगी । हम समूह के माध्यम से कोई ऐसा उद्योग लगाएं जिससे हम सभी को बहुत आमदनी हो जिससे हम अपने परिवार के सपनों को पूरा कर सकें ।

Kutir udyog essay in hindi
Kutir udyog essay in hindi

उद्योग लगाने के लिए हम भारत सरकार के द्वारा भी सहायता ले सकते हैं । भारत सरकार कुटीर उद्योग लगाने के लिए सभी को लोन देती है , वह लोन लेकर हम छोटा उद्योग लगा सकते हैं । जैसे चटाई बनाना , कपड़े सिलाई का काम , जूता बनाने का काम , हथकरघा , दलिया बनाना , रस्सा बनाना , इस तरह के व्यवसाय हम समूह के माध्यम से करके बाजारों में बेचकर बहुत सारा धन कमा सकते हैं । जिससे हमारे परिवार का जीवन यापन हो सके , इसके अलावा हम मिट्टी के बर्तन , खिलौने , मोमबत्ती , और बच्चों के खिलौने , बनाकर मार्केट में बेचकर बहुत मुनाफा कमा सकते हैं ।

आजकल सरकार कुटीर उद्योग खोलने के लिए बहुत सारी योजनाएं चला रही हैं , उन योजनाओं का कई लोग लोन लेकर डेयरी उद्योग खोलकर लाभ ले रहे हैं , जिससे उनको बहुत इनकम हो रही है । हम भी पशुपालन के लिए लोन ले सकते हैं , मत्स्य पालन कर सकते हैं , कीट पालन भी कर सकते हैं , जिससे हम आगे बढ़ सकें और अपने परिवार को एक अच्छी जिंदगी दे सकें ।

आज हम देख रहे हैं कि गांव भी शहर की ओर आ रहे हैं । जिससे यह आवश्यक हो गया है कि हम सभी को एक समूह के रूप में मिलकर उद्योग लगाना चाहिए । जिससे बेरोजगारी को दूर किया जा सके और हमारे साथ साथ दूसरों को भी रोजगार दे सके । जिससे हमारे देश में बेरोजगारी ना हो और सभी अपनी जिंदगी आसानी से जी सकें ।

जिंदगी जीने के लिए और अपने सपनों को पूरा करने के लिए पैसों की आवश्यकता होती है । पैसा दो जगह से आ सकता है नौकरी करने से या व्यवसाय करने से. नौकरियां तो किसी किसी को ही मिल पाती है लेकिन हम उद्योग लगाकर लोगों को रोजगार दे सकते हैं ।नौकरियां उत्पन्न कर सकते हैं । हमारे देश के कई लोग इन योजनाओं के माध्यम से लोन लेकर एक अच्छा उद्योग खोलकर अपना जीवन यापन कर रहे हैं । कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता उसको करने के लिए दिमाग की जरूरत पड़ती है और जब हम किसी क्षेत्र में मेहनत के साथ साथ दिमाग लगाते हैं तो वह काम पूरी तरह से सफलता की ओर बढ़ता है ।

जब तक हमारा विकास नहीं होगा तब तक हमारे देश का विकास होना संभव नहीं है । ऐसे कई लोग हैं जो नौकरियों के भरोसे बैठे हैं की कब सरकार हम को नोकरी देगी । मैं उनसे कहना चाहता हूं कि आप नौकरी लेने के भरोसे मत बैठो बल्कि लोगों को नौकरी देने का काम करो , जिससे आपका भला होगा और आपके साथ – साथ दूसरों का भी भला होगा । जिसको आप नौकरी दे रहे हैं उसका भी भला होगा । कोई सा भी देश हो जिस देश में कुटीर उद्योग को बढ़ावा दिया जाता है , उस देश में कभी बेरोजगारी नहीं होती है ।

हमारे देश में कई सालों पहले भी कुटीर उद्योग का काम होता था । हर घर में हर व्यक्ति कोई ना कोई चीज बनाकर उसको बाजार में बेचकर अपना घर चलाता था । लेकिन आज हम सब भूल गए हैं , बस यही कारण है कि हमारे देश में बेरोजगारी बढ़ रही है ।

दोस्तों मैं आपसे कहना चाहता हूं कि अगर बेरोजगारी को खत्म करना है , तो हमारे देश में उद्योग लगाना आवश्यक है और जब भारत के नागरिक अपना अपना उद्योग करने लगेंगे तो इस देश से बेरोजगारी पूरी तरह से खत्म हो जाएगी । हम अपनी जिंदगी अच्छी तरह से जी सकेंगे और अपने परिवार के सपनों को पूरा कर सकेंगे ।

हमे बताये हमारी ये पोस्ट Kutir udyog essay in hindi केसी है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *