ज्ञान ही शक्ति है पर भाषण Knowledge is power speech in hindi

Knowledge is power speech in hindi

Knowledge is power – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ज्ञान ही शक्ति है पर भाषण लेकर आए हैं । तो चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल को पढ़कर ज्ञान ही शक्ति है के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Knowledge is power speech in hindi
Knowledge is power speech in hindi

नमस्कार दोस्तों, मैं अरुण नामदेव आप सभी लोगों का इस कार्यक्रम में स्वागत वंदन अभिनंदन करता हूं । मैं यहां पर उपस्थित सभी विद्यार्थियों का भी स्वागत करता हूं कि उन्होंने इस कार्यक्रम में पधारकर अपने जीवन में खुशी लाने का काम किया है क्योंकि आज हम इस कार्यक्रम में ज्ञान ही शक्ति है पर बातचीत करने जा रहे । जिस बातचीत से सभी विद्यार्थियों को कुछ ना कुछ सीखने को मिलेगा । मैं सबसे पहले उस व्यक्ति को धन्यवाद देना चाहता हूं जिसने यह कार्यक्रम रखा और विद्यार्थियों को अच्छा जीवन जीने के लिए ज्ञान के बारे में बताने के लिए यह कार्य किया है ।

मैं हमारे स्कूल के प्रिंसिपल महोदय को भी दिल से धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने इस कार्यक्रम की परमिशन दी । यहां पर उपस्थित सभी विद्यार्थियों के माता-पिता को बता देना चाहता हूं कि हमारे इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिले के मुख्य शिक्षा अधिकारी हैं जो कुछ ही क्षणों में हमारे बीच में उपस्थित होंगे । इससे पहले मैं आपको ज्ञान ही शक्ति है पर कुछ बातें बताने जा रहा हूं । दोस्तों , विद्यार्थियों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यदि किसी व्यक्ति का विकास संभव है तो वह ज्ञान से ही संभव है ।

ज्ञान के बिना किसी भी व्यक्ति को सफलता प्राप्त नहीं होती है । ज्ञान मनुष्य की सबसे बड़ी शक्ति होती है । जिस शक्ति के बिना मनुष्य अपने जीवन को अंधकार से बाहर नहीं निकाल सकता है ।  जब भारत देश में कम लोग शिक्षित थे तो भारत देश पिछड़ा हुआ था , गरीबी की हालत में था और भारत के नागरिक सफलता प्राप्त करने में असमर्थ थे । परंतु जब हमारे भारत देश में शिक्षा का विकास हुआ , लोग शिक्षित होने लगे और पढ़ाई की ओर अपने कदम आगे बढ़ाने लगे तब हमारा देश धीरे-धीरे विकास की ओर बढ़ता गया था ।

आज हमारे भारत देश का जो शिक्षा स्तर है वह स्तर बहुत ही आगे बढ़ चुका है और हर क्षेत्र में भारत सफलता प्राप्त कर रहा है । इसीलिए ज्ञान ही मनुष्य की सबसे बड़ी शक्ति होती है । जिस शक्ति से मनुष्य सफलता प्राप्त करता है ।  मैंं विद्यार्थियों के माता-पिता को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उन्होंने अपने बच्चे और बच्चियों को स्कूल में शिक्षा दिलाने के लिए भेजा और बच्चों के उज्जवल भविष्य की नींव रखी । मैं आप लोगों को बता देना चाहता हूं कि हमारे इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिक्षा विभाग के अधिकारी पधार चुके हैं ।

मैं हमारे प्रिंसिपल महोदय से निवेदन करता हूं कि वह उनको सम्मान पूर्वक यहां पर लाएं और यथावत स्थान पर बैठाएं । अब मैं माननीय प्रिंसिपल महोदय से निवेदन करता हूं कि वह हमारे मुख्य अतिथि को मंच पर लाएं और फूल माला पहनाकर उनका इस कार्यक्रम में स्वागत वंदन अभिनंदन करें । मैं अब हमारे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महोदय से निवेदन करता हूं कि वह मंच पर आकर ज्ञान ही शक्ति है पर दो शब्द कहें ।

यहां पर उपस्थित सभी शिक्षकगण प्रिंसिपल महोदय और सभी विद्यार्थी आप सभी लोगों को मैं धन्यवाद देता हूं कि आपने मुझे इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया । जैसा कि हम जानते हैं कि ज्ञान के बिना सब कुछ अधूरा है  यह बात सही है । मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि शिक्षा प्राप्त करने के बिना क्या कोई डॉक्टर बन सकता है ? नहीं बन सकता । क्या शिक्षा प्राप्त किए बिना कोई कलेक्टर बन सकता है ? नहीं बन सकता । क्या शिक्षा प्राप्त किए बिना कोई देश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकता है ? नहीं दे सकता ।

इसीलिए  कहा गया है कि ज्ञान ही शक्ति है । जिस शक्ति के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा होता है । इसीलिए ज्ञान प्राप्त करना मनुष्य का प्रथम अधिकार है । इसलिए हमारे भारत देश में शिक्षा की विशेष व्यवस्था की गई है । जो गरीब समुदाय के बच्चे हैं उन बच्चों के लिए भी फ्री में शिक्षा दिलाने की व्यवस्था भारत सरकार के द्वारा की गई है । जिससे कि सभी भारतीय बच्चे शिक्षा प्राप्त करके देश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें और अज्ञान का जो अंधेरा मनुष्य के जीवन में छाया हुआ है वह अज्ञान का अंधेरा ज्ञान प्राप्त करके दूर किया जा सकता है ।

मैं यहां पर उपस्थित सभी विद्यार्थियों से यही आशा करता हूं कि वह निरंतर अपने जीवन में ज्ञान प्राप्त करने से कभी पीछे नहीं हटेंगे । इसी बात के साथ मैं अपनी वाणी को विराम देता हूं जय हिंद जय भारत धन्यवाद ।

मैं यहां पर उपस्थित सभी लोगों से एक बार फिर निवेदन करता हूं कि वह तालियां बजाकर शिक्षा विभाग के अधिकारी महोदय के सुंदर भाषण के लिए उनका उत्साहवर्धन करें । अब हम इस कार्यक्रम की बेला को समाप्ति की ओर ले जाते हैं और मैं यहां पर उपस्थित सभी विद्यार्थियों से आशा करता हूं कि वह अपने जीवन में निरंतर ज्ञान प्राप्त करते रहेंगे और राष्ट्र हित में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते रहेंगे । इसी बात के साथ मैं अपनी वाणी को विराम देता हूं धन्यवाद जय हिंद जय भारत ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह जबरदस्त आर्टिकल ज्ञान ही शक्ति है पर भाषण Knowledge is power speech in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूलें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *