भोजपुरी गायिका कविता यादव का जीवन परिचय kavita yadav bhojpuri singer biography in hindi

kavita yadav bhojpuri singer biography in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी, आज हम आपके लिए लाए हैं एक भोजपुरी गायिका कविता यादव के जीवन के बारे में।कविता यादव तेजी से प्रसिद्ध होती एक ऐसी गायिका हैं जिन्होंने समर सिंह के साथ में गाना गाए हैं और भोजपुरी में तेजी से प्रसिद्ध होती जा रही हैं चलिए जानते हैं इनके जीवन में और भी बेहतरीन बातें।

kavita yadav bhojpuri singer biography in hindi
kavita yadav bhojpuri singer biography in hindi

image source-https://bhojpuriyanews.com/

कविता यादव एक ऐसी गायिका हैं जिन्हें बचपन से ही गाना गाने का शौक था बचपन में वह अपने स्कूल में भी गाना गाया करती थी उनके गाने सभी पसंद करते थे। धीरे-धीरे उनकी गाने का शौक उन पर हावी होता गया वह अपने गाने के शौक को अपना पेशन बनाना चाहती थी।कुछ दिनों बाद जब वह बड़ी हुई तो उनके माता-पिता ने उनकी शादी कर दी जब उनकी शादी हुई तब उन्होंने अपने पति से कहा कि वह गाना गाना चाहती हैं।

उनके पति ने जब यह सुना तो उन्होंने कविता यादव की यह इच्छा पूरी करने का प्रयत्न किया और गाना सीखने वाली एक क्लास ज्वाइन करवा दी। अब कविता यादव गाना सीखने के लिए निरंतर क्लास में जाति और अपने गाने को और भी बेहतर बनाने की कोशिश करती कुछ समय बाद ही उन्होंने भोजपुरी के कई ऐसे गाने गाए जो धीरे-धीरे काफी प्रसिद्ध होने लगे और कविता यादव लोगों के बीच में एक पहचान बना पाई।

कविता यादव ने समर सिंह जी के साथ मिलकर कई भोजपुरी गाने गाए हैं। आलोक इनके राइटर हैं धीरे-धीरे कविता यादव ने भोजपुरी में और भी अच्छा सुधार किया और कई ऐसे गाने गाए जो आज प्रसिद्ध हैं। चलिए अब हम जानते हैं इनके कुछ प्रसिद्ध गानों के बारे में।

इनका एक गाना अईला बंबई से होली में कमाई के बलम है इसमें भी समर सिंह एवं कविता यादव ने मिलकर गाना गाया है और इसके गीत आलोक यादव ने दिए हैं। इसमें संगीत आलोक एवं मनोज ने दिए इसके अलावा इनके और भी कुछ गाने जैसे कि तोहरे चलते बेच दिहले पापा मोर भईसिया है जिसका स्वर समर सिंह एवं कविता यादव के ही हैं।

यह गाना भी काफी प्रसिद्ध हुआ इसमें म्यूजिक भी आलोक एवं मनोज ने दिया है इसके डायरेक्टर सुनील बाबा हैं इस तरह के कई गाने कविता यादव ने हम सभी के लिए दिए हैं जो धीरे-धीरे प्रसिद्ध होते जा रहे हैं। कविता यादव लोगों के बीच में एक बड़ी ही प्रसिद्धि प्राप्त कर रही हैं। हम सभी को जीवन में भी की तरह अपने शौक को पेशन बनाना चाहिए क्योंकि जो अपने शौक को पेशन बनाता है वह जीवन में आगे जरूर बढ़ता है।

तो दोस्तों हमें जरूर बताएं कि कविता यादव पर हमारे द्वारा लिखी यह जीवनी आपको कैसी लगी इसे अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *