कारगिल विजय दिवस पर निबंध kargil vijay diwas essay in hindi

kargil vijay diwas essay in hindi

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से कारगिल विजय दिवस पर लिखे इस निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं । चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल को पढ़कर कारगिल विजय दिवस के बारे में जानते हैं । कारगिल युद्ध भारत एवं पाकिस्तान के बीच में हुआ था । इस कारगिल युद्ध में भारत की जीत हुई थी ।इससे पहले मैं आपको बता दूं कि कारगिल युद्ध क्यों हुआ था ? और किस लिए हुआ था । 1971 को भारत एवं पाकिस्तान के बीच में बहुत भयंकर युद्ध हुआ था ।

kargil vijay diwas essay in hindi
kargil vijay diwas essay in hindi

image source –https://www.jagranjosh.com/current-affairs

परमाणु परीक्षण को लेकर काफी तनाव दोनों देशों के बीच हुआ था । कश्मीर मुद्दा और लद्दाख मुद्दे से दोनों देशों के बीच तनाव बहुत घातक हो गया था । बहुत समय तक यह युद्ध चलता रहा और दोनों देशों ने यह निर्णय लिया की युद्ध से कुछ भी प्राप्त नहीं किया जा सकता है । 1999 को पाकिस्तान के लाहौर में एक घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किए गए थे । जिसमें जम्मू कश्मीर का मुद्दा अहम था । इस घोषणा पत्र के अनुसार दोनों देश कश्मीर मुद्दे को द्विपक्षीय वार्ता के द्वारा शांति से हल करेंगे ।

किसी भी तरह की कोई भी लड़ाई कश्मीर को लेकर के नहीं की जाएगी । यह सब घोषणा पत्र में लिखा था । जब पाकिस्तान के द्वारा घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किए गए तब वह सामने की लड़ाई भारत से नहीं लड़ सकता था ।इसलिए पाकिस्तान के सैनिकों ने भारत की सीमा के अंदर घुसपैठियों को घुसाना प्रारंभ किया और उन्होंने एक मिशन बनाया भारत की सीमा पर कब्जा करने का । कई समय तक वह अपनी साजिशों में लगे रहे ।

भारत के सैनिकों को जब इस बात का अंदेशा हुआ तब भारत ने अपने 2000000 सैनिकों की फौज को तैयार किया और ऑपरेशन विजय के नाम से इन 20 लाख सैनिकों को भेजा । भारत के सभी सैनिकों ने डटकर सामना किया और कारगिल युद्ध में पाकिस्तान के सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब दिया । इस युद्ध में पाकिस्तान बहुत बुरी तरह से हार गया था । वह दोबारा से भारत के सामने खड़ा नहीं हो सकता था । इतनी बुरी हार से उसके पसीने छूट गए थे ।

भारत की सैन्य शक्ति बहुत मजबूत थी , आज भी मजबूत है । पाकिस्तान की सेना यह जानती थी कि भारतीय सैन्य बल बहुत ही शक्तिशाली है । इसलिए इस युद्ध को बंद कर देना चाहिए और पाकिस्तान के सैनिकों ने सरेंडर कर दिया था । इस युद्ध की समाप्ति कर दी गई । इस युद्ध की समाप्ति 26 जुलाई के अंत में हुई थी । इस युद्ध में भारत के लगभग 527 सैनिक वीरगति को प्राप्त हुए थे । इन सभी सैनिकों की याद में 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है ।

कारगिल में शहीद हुए सैनिकों को याद किया जाता है क्योंकि उन्होंने देश की सीमाओं पर अपना बलिदान देकर कारगिल युद्ध को जीता था । कारगिल युद्ध भारत के लिए बहुत बड़ा युद्ध था क्योंकि भारत का मान सम्मान उसी से जुड़ा हुआ था । भारत के सैनिकों ने अपनी शक्ति से पाकिस्तानी सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब देकर इस युद्ध में जीत हासिल की थी ।

इसीलिए भारत के सभी राज्यों में सभी जिलों में प्रतिवर्ष 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है ।कारगिल विजय दिवस पर कई तरह के कार्यक्रम किए जाते हैं , उनको श्रद्धांजलि दी जाती है । कारगिल विजय दिवस  के शुभ अवसर पर भारत के वीरों को आहुति दी जाती है , उनको याद किया जाता है । उस दिन सभी मिलकर भारतीय वीरों को याद करते हैं ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह जबरदस्त लेख कारगिल विजय दिवस पर निबंध kargil vijay diwas essay in hindi यदि पसंद आए तो शेयर अवश्य करें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *