अंतरजातीय विवाह निबंध inter caste marriage essay, quotes in hindi

Antarjatiya vivah essay in hindi

दोस्तों आज हम आपको अंतरजातीय विवाह के बारे में बताने वाले हैं ।हमारे देश भारत में कई धर्म के लोग रहते हैं । जब शादी की बात आती है तो सभी धर्म के लोग अपने धर्म के लोगों के बीच ही शादी विवाह करते हैं ।पुराने समय के लोग अपने बच्चों की शादी अपनी ही जाति के बीच करते हैं।

inter caste marriage essay, quotes in hindi
inter caste marriage essay, quotes in hindi

आज यह दुनिया बदल चुकी है हर व्यक्ति शिक्षित हो रहा है बच्चे और बच्ची अपनी पसंद की शादी करने की दिशा में जा रहे हैं ,अपनी इच्छा के अनुसार जीवनसाथी चुनने का अधिकार सभी को है । पुराने समय के लोग जब अपने बच्चे का विवाह करते थे तो वह मां बाप अपने बच्चों से उनकी पसंद के बारे में नहीं पूछते थे । जब वह विवाह हो जाता था तब लड़का लड़की एक दूसरे का चेहरा देखते थे । कई लोग तो शादी करने के बाद एक दूसरे से संतुष्ट नहीं होते थे लेकिन अपने परिवार की इज्जत के लिए वह अपना पूरा जीवन बिता देते थे ।

इंटर कास्ट मैरिज की शुरुआत मुंबई से हुई और आज भी वहां पर कई समाज के लोग इंटर कास्ट मैरिज करते हैं । आज लड़का और लड़की का विवाह होता है तो वह एक दूसरे को जानने और पहचानने के लिए एक दूसरे से बातचीत करते हैं जब उनके बीच मेल मिलाप हो जाते हैं तब वह विवाह करने के लिए तैयार होते हैं । आज सभी लोगों की सोच बदलती जा रही है कई लड़के तो अपने कॉलेज में ही किसी लड़की से प्रेम करने लगते हैं और उसी लड़की से विवाह करते हैं लेकिन प्रेम करने के बाद विवाह करके कुछ फायदे भी होते हैं और कुछ नुकसान भी होते हैं ।

जब कोई लड़का किसी लड़की से प्रेम करता है तो हो सकता है की उस लड़की के घर वाले उस विवाह के लिए तैयार ना हो क्योंकि हमारे देश मे अपनी ही जाति के लोगों के साथ विवाह संबंध बनाना ही समाज स्वीकार करता है । मैं उन लोगों के माता-पिता से कहना चाहता हूं कि जब लड़का और लड़की एक दूसरे को अच्छी तरह से पहचानते हैं और वह अपना जीवन साथ में बिताने के लिए तैयार हैं तो उनको रोकना नहीं चाहिए क्योंकि अगर आप अपने बच्चों की शादी जो उनकी मर्जी के खिलाफ करते हो तो वह अपना जीवन संतुष्टि के साथ नहीं बिता पाएंगे ।

आज हमारे देश के कई पढ़े-लिखे बच्चे अपनी पसंद की शादी करने में विश्वास करते हैं और उनके मां-बाप भी उनका साथ देते हैं क्योंकि वह जानते हैं कि विवाह जन्म जन्मों का बंधन होता है । जहां अपने बच्चे की इच्छा हो वहीं पर उसका विवाह कराना चाहिए । हमारे देश के कुछ लोग अंतरजातीय विवाह के खिलाफ होते हैं समाज के कई लोग अंतरजातीय विवाह करने पर विरोध जताते हैं उनका कहना है कि अगर अंतर्जातीय विवाह होने लगे तो हमारी समाज खत्म हो जाएगी फिर समाज का क्या मतलब रहेगा ।

अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देने के लिए सरकार भी आगे आ रही है और जो व्यक्ति अंतरजातीय विवाह करता है उस व्यक्ति को सरकार के माध्यम से इनाम दिया जाता है और हमारे भारत की केंद्र सरकार ने यह योजना भी बनाई है कि अगर कोई लड़का किसी अन्य जाति की लड़की से शादी करेगा तो उसको ढाई लाख रुपए दिया जाएगा जिससे कि वह लड़का लड़की अपना जीवन किसी भी परेशानी के बिना जी सकें ।

जब सरकार इस अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देना चाहती है तो समाज के लोग अंतरजातीय विवाह के खिलाफ क्यों होते हैं ? जब इस तरह की प्रथा हमारे भारत में शुरू हो जाए तो हमारा भारत दिन-प्रतिदिन विकास करने लगेगा और हमारे देश के सभी लोग अंतरजातीय विवाह से खुश रहेंगे। जब लड़का लड़की आपस में सहमति बनाकर विवाह करेंगे तो उनके जीवन में किसी भी तरह का कोई भी समस्या नहीं होगी।

inter caste marriage quotes in hindi

  1. आजकल के आधुनिक जमाने में कई शादियां अंतर्जातीय विवाह के रूप में होती हैं
  2. बड़े शहरों में सबसे ज्यादा अंतरजातीय विवाह होते हैं क्योंकि वहां के युवक युवतियां एक नई सोच के साथ जीवन में आगे बढ़ते हैं
  3. आजकल के अमीर लोगों की सोसाइटी में अंतरजातीय विवाह नॉर्मल होता है, वह अपने से ऊंची या नीची जाति की लड़की से शादी करने में झिझकते नहीं हैं
  4. जब कोई किसी से प्यार करता है तो वह जाति बंधन नहीं देखता और फिर अंतर्जातीय विवाह एक दूसरे की सहमति से हो जाता है
  5. जमाना बदल रहा है लोगों को भी अपनी सोच बदलनी चाहिए और अंतरजातीय विवाह को एक्सेप्ट करना चाहिये
  6. मेरे ख्याल से वैवाहिक संबंधों में एक दूसरे की सोच मिलना जरूरी होता है जाति बंधन जरूरी नहीं होता
  7. आने वाले समय में अंतरजातीय विवाह अधिक होने की संभावना है
  8. आजकल के लोगों की सोच बदल रही है, लोग अंतरजातीय विवाह को एक्सेप्ट कर रहे हैं

दोस्तों हमें बताएं कि आपको हमारा यह लेख inter caste marriage essay, quotes in hindi कितना पसंद आया इस आर्टिकल को शेयर करना ना भूलें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *