गौतम बुद्ध Gautam buddha-inspirational short story about patience in hindi

Inspirational short story about patience in hindi

दोस्तों,कहते हैं कि अगर जिंदगी में हम को एक सफल इंसान बनना है तो हमें धैर्य से काम लेना होगा,आज हम आप सभी के साथ में जो घटना शेयर करने वाले हैं वह कुछ ऐसी ही है,यह घटना आपको बताएगी कि हमको हमारे जीवन में धैर्य रखने की क्या जरूरत होती है,दोस्तों गौतम बुद्धा जी जिन्हें हम हमारा भगवान मानते हैं,किसी गांव की ओर अपने शिष्यों के साथ जा रहे थे तो रास्ते में एक जंगल पड़ा. अब सभी को जोर से प्यास लगने लगी,तो गौतम बुद्ध जी ने अपने एक शिष्य से कहा कि तुम आस-पास जाकर देखो,हो सकता है यहां कहीं पानी पीने के लिए मिल जाए,वह अपने गुरु की बात सुनकर जाता है और काफी दूर जाने के बाद उसको एक नदी के आस-पास बहुत सारे लोग नहाते हुए दिखते हैं तो उसने उन्हें देखा कि काफी सारे लोग उस नदी में कपड़े धो रहे है,काफी सारे लोग नहा रहे हैं तो उसने सोचा कि पानी गंदा हो गया है,उसने सोचा की में गंदा पानी अपने गुरु के लिए नहीं ले जा सकता तो वहां से वापस अपने गुरु गौतम बुद्ध जी के पास पहुंचा और उसने उनसे कहा कि महाराज मुझे पानी नहीं मिल पाया तो गौतम बुद्ध जी ने अपने एक ओर शिष्य से कहा कि आप एक काम करें पानी लेने के लिए जाएं तो वह अपने गुरु की बात सुनकर जंगल में पानी लेने के लिए गया और उसको दूरी पर एक नदी दिखाई देती है.

वहां पर भी लोग नहा रहे थे,कपड़े धो रहे थे,उसने कुछ समय तक इंतजार किया और उसके बाद में पानी लेकर गौतम बुद्ध जी के पास पंहुचा,गौतम बुद्ध ने पूछा की ये पानी कहा से और कैसे लाये तोह गौतम बुद्ध जी के पूछने पर वह कहने लगा कि में एक नदी के किनारे पर गया,वहां पर काफी सारे लोग नहा रहे थे,और कपडे भी धो रहे थे लेकिन मैंने कुछ समय धैर्य रखा और जब पानी में से सभी लोग चले गए तो मैंने पानी लेने के लिए अपने कदम आगे बदाये,कुछ टाइम बाद उस पानी में उपस्थिति धूल मिट्टी के कण नीचे पानी की सतह में जाकर जम गए और अच्छा पानी ऊपर रह गया तो इस तरह से मैंने ऊपर के पानी को अपनी बोतल में भरा और आपके समक्ष प्रस्तुत किया तो गौतम बुद्ध जी ने इस बात से अपने सभी शिष्यों को एक शिक्षा दी की अगर आप सभी वाकई में जिंदगी में कुछ करना चाहते हो या जिंदगी में कुछ पाना चाहते हो या फिर किसी भी मुसीबत से निकलना चाहते हो तो मुसीबत रूपी धूल के कणों को दूर करने के लिए धैर्य से काम लीजिये,हमारे जीवन से परेशानिया अपने आप दूर होने लगती हैं और हम कामयाबी के लिए प्रयास कर सकते हैं इसलिए कभी भी मुसीबत आए तो घबराइए मत धैर्य से काम लीजिए.

दोस्तों अगर आपको हमारी ये Gautam buddha-inspirational short story about patience in hindi पसंद आये तोह इसे शेयर जरुर करे और हमारा फेसबुक पेज like करना ना भूले.

इन्हें भी जरुर पढें-गौतम बुद्ध की शिक्षाप्रद कहानी Gautam Buddha angulimal story in hindi  पेड़ की चोटी Inspirational story in hindi

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *