पक्षियों की स्वतंत्रता पर कविता Hindi poems on birds freedom

Hindi poems on birds freedom

Hindi poems on birds freedom-दोस्तों कैसे हैं आप सभी,आज का हमारा आर्टिकल पक्षियों की आजादी पर कविता आप सभी को बहुत ही प्रेरणा देगी दोस्तों हम सभी जानते हैं की पक्षी प्रकृति कि एक बहुत ही सुंदर कृति है.पक्षियों को आजाद होना चाहिए बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो सिर्फ अपने मनोरंजन के लिए पक्षियों को पिंजरे में बंद रखते हैं लेकिन वास्तव में पक्षियों की खुशी उनके जैसे ही अन्य पक्षियों के साथ में घूमने फिरने और विचरण करने में ही है हमें उनकी खुशी को देखते हुए उन्हें आजाद करना चाहिए और इस प्रकृति में उन्हें जिंदगी को सही तरह से जीना चाहिए.आज मैंने पक्षियों की स्वतंत्रता के ऊपर एक स्वरचित कविता लिखी है आप इसे  जरूर पढ़ें

Hindi poems on birds freedom
Hindi poems on birds freedom

बंद पक्षियों को ना कभी खुशी मिलती है
आजाद होकर उनके दिल को खुशी मिलती है
पक्षियों के साथ बिचरना उनको बहुत भाता है
आजाद होना उनको रास बहुत आता है

उनको अब साथियों की जरूरत पड़ती है
अब ना किसी पिंजरे की जरूरत पड़ती है
झूम झूमकर वो गाने बहुत गाते हैं
हर किसी के द्वार पर वो बहुत भाते हैं

पेड़ पर बैठकर चहचहाते नजर आएंगे
हर किसी के दिल में वो समा जाएंगे
बंद पक्षियों को ना कभी खुशी मिलती है
आजाद होकर उनके दिल को खुशी मिलती है

Related-पशु पक्षी पर कविता Pashu pakshi par kavita in hindi

दोस्तो हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल Hindi poems on birds freedom पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारी ये कविता केसी लगी जिससे इसी तरह के नये नये आर्टिकल लिखने के प्रति हमे प्रोत्साहन मिल सके.इसी तरह के नए-नए आर्टिकल सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारी किसी भी पोस्ट को आप छोड़ ना पाए.

3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *