स्कूल बस पर निबंध Essay on school bus in hindi

Essay on school bus in hindi  

दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं स्कूल बस पर निबंध आप इसे पढ़ें और इस विषय पर निबंध लिखने के लिए यहां से अच्छी से अच्छी तैयारी करें, चलिए आज के हमारे इस आर्टिकल को पढ़ते हैं।

स्कूल बस एक ऐसी बस होती है जो विशेष रूप से स्कूल के छात्रों के लिए चलती है, स्कूल बस स्कूल के बस छात्रों को अपने घर से लेते हुए स्कूल की ओर जाती है। स्कूल बसों के ड्राइवरों को विशेष रूप से प्रशिक्षण दिया जाता है जिससे स्कूल के छात्रों की सुरक्षा हो सके।

essay on school bus in hindi
essay on school bus in hindi

स्कूल बसों के ड्राइवर को यातायात के नियमों का पूरी तरह से पालन करना होता है, उनको बस चलाने का लाइसेंस भी लेना पड़ता है साथ में विशेष सावधानी रखने की भी निर्देश उन्हें दिए जाते हैं, स्कूल बसों में कई सारी कुर्सियां होती हैं जिन पर बैठकर विद्यार्थी अपने स्कूल जाते हैं श्याम को यही स्कूल बस छात्रों को अपने-अपने घर छोड़ते हुए जाती हैं।

स्कूल बस मैं छात्रों की सुविधा के लिए केवल उतनी ही सवारी भरी जाती हैं जितनी स्कूल बसों में सीट होती हैं इससे बच्चों के लिए बस सुविधा जनक होती हैं। अक्सर शहर के स्कूलों की बसे आसपास के गांव के लोगों को शहर कि स्कूलों तक पहुंचाती हैं जिससे आसपास के गांव के बच्चों को शहर में अच्छी से अच्छी शिक्षा प्राप्त होती है।

स्कूल बस के ड्राइवरों को विशेष रूप से प्रशिक्षण दिया जा सके जिससे आपातकालीन स्थिति में वह खुद को और छात्रों को मुसीबत से निकाल सकें। स्कूल बस केवल स्कूल के कामकाज के लिए ही उपयोग में ली जाती हैं, स्कूल की बसों पर स्कूल का नाम भी लिखा होता है जिससे एक तरह से स्कूल का प्रचार भी होता है जिससे ज्यादा से ज्यादा स्कूल में बच्चे एडमिशन लेते हैं।

अक्सर गांव एवं शहर के अलग-अलग चौराहे पर से स्कूल बसें छात्रों को लेते हुए जाती हैं छात्रों की सुरक्षा एवं सुविधा के लिए स्कूल बसों में सभी तरह की व्यवस्था होती है। छोटे बच्चों को आप बस में चढ़ाने के लिए एवं उतारने के लिए एक व्यक्ति होता है जिसकी जिम्मेदारी बच्चों को बस में लाने एवं ले जाने की होती है, स्कूल के बसों में कई सारे बच्चे हंसी खुशी से जाते हैं क्योंकि स्कूल के बसों में उन्हें उनके जैसे ही और भी कई सारे बच्चे खेलकूद करने के लिए मिल जाते हैं।

कई सारे स्कूल के बच्चे स्कूल की बसों में हंसी मजाक, खेलकूद करते देखे जाते हैं। कई बच्चों को स्कूल की बसों में बैठना बहुत ही पसंद आता है लेकिन कुछ बच्चे बसों में बैठना पसंद नहीं करते।

कई बच्चे अपने मां बाप के साथ उनके वाहनों के जरिए स्कूल पहुंचते हैं लेकिन ज्यादातर मां-बाप अपने बच्चों को स्कूल की बसों में भेजना पसंद करने लगे हैं क्योंकि बहुत से मां-बाप के पास इतना समय नहीं होता कि वह रोज रोज बच्चों को स्कूल छोड़ सकें।स्कूल के अधिकारियों को बच्चों की जिम्मेदारी लेनी पड़ती है।

दोस्तों मेरे द्वारा लिखा यह आर्टिकल स्कूल बस पर निबंध Essay on school bus in hindi आप सभी को कितना पसंद आया हमें जरूर बताएं इस आर्टिकल को शेयर करना ना भूलें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *