भारतीय समाज में नारी का महत्व essay on samaj me nari ki bhumika in hindi

essay on samaj me nari ki bhumika in hindi

भारतीय समाज में नारी की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका रही है । भारत की जो नारी होती हैं वह अपनी संस्कृति की हिफाजत करती हैं और अपने परिवार के साथ साथ अपने देश के मान सम्मान को बचाए रखती हैं । आज हम आपको भारतीय समाज में नारी की क्या भूमिका है यह बताने वाले हैं ।

भारतीय समाज में नारी हर क्षेत्र में अपना योगदान देकर नारी समाज को ऊंचाइयों पर पहुंचा रही हैं । हमारे भारत की महिलाएं बचपन से ही परिवार को ठीक तरह से चला कर , पढ़ाई के क्षेत्र में भी आगे बढ़कर , हमारे भारत के संस्कार को अपनाकर अपना और भारत का मान बढ़ाती हैं । आज नारी हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त कर रही हैं । विदेशों में भी भारतीय नारी को सर्वश्रेष्ठ नारी कहा जाता है । पूरे विश्व में भारतीय नारी की चर्चा की जाती है।

essay on samaj me nari ki bhumika in hindi
essay on samaj me nari ki bhumika in hindi

हमारे देश भारत में ही नारी हर रिश्तो को निभाने में विश्वास रखती हैं और अपने परिवार के साथ साथ समाज को भी सही रास्ते पर चलाने का काम करती हैं। जब किसी लड़की का विवाह होता है तो वह अपने परिवार के द्वारा संस्कार प्राप्त करके अपने पति के घर जाकर पूरे परिवार को संभालती हैं । जब उनके बच्चे हो जाते हैं तो उनको सही रास्ता दिखाना , सही संस्कार देना यह सब भारतीय नारी ही सिखाती हैं। आज हमारे भारत की नारी घर चलाने के साथ साथ घर से बाहर निकल कर नौकरियां भी करने लगी हैं और अपने पति का साथ देती हैं । आज भारत की नारी सभी क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं और समाज को आगे बढ़ा रही हैं ।

मैं तो यही कहूंगा कि समाज को बनाने और समाज को सही रास्ता दिखाने में नारी की बहुत ही बड़ी भूमिका है । हम सभी को भारत की नारी का सम्मान करना चाहिए क्योंकि हमारे भारत की नारी हर रिश्तो को जिम्मेदारी से निभाती हैं । हमारे देश में पुराने समय से ही नारी को समाज का निर्माता कहा गया है। हमारे देश में कई ऐसी महान महिलाओं ने जन्म लिया है और अपना योगदान समाज को सही रास्ते पर लाने के लिए किया है जैसे कि इंदिरा गांधी ,सरोजिनी नायडू, झांसी की रानी । इनके द्वारा यह बताने की कोशिश कर रहा हूं कि नारी समाज भी आज किसी क्षेत्र में पीछे नहीं है।

फिर भी पुराने समय से ही समाज के द्वारा नारी पर कई अत्याचार किए जा चुके हैं । आज भी हम कुछ परिवारों में देखते हैं की दहेज के कारण महिलाओं को जला दिया जाता है ,आज हम देखते हैं कि जब कोई महिला सरकारी ऑफिसों में काम करने जाती है, प्राइवेट ऑफिसों में काम करने जाती है तो वहां के आसपास के लोग उस महिला को बुरी नजर से देखते हैं । जब कोई महिला बाजार में सामान लेने के लिए जाती है तो कई लोग उनको बुरी नजर से देखते हैं और बुरी बुरी बातें करते हैं इतनी यातनाएं सहन करने के बाद भी हमारे देश की नारी हार नहीं मान रही है। भारत की नारी अपने परिवार के साथ साथ समाज को साथ लेकर आगे बढ़ रही हैं । पहले जो अत्याचार महिलाओं के ऊपर किए जाते थे अब महिलाओं पर कोई अत्याचार नहीं कर सकता क्योंकि महिलाएं पढ़ने लिखने लगी हैं ,उनको अपने अधिकार मालूम हो चुके हैं और सरकार भी ऐसे लोगों पर सख्त कार्यवाही करने लगी है जो महिलाओं को परेशान करते हैं उनको प्रताड़ित करते हैं।

आज समाज ने भी अपनी सोच बदली है और देश की नारी को आगे बढ़ाने के लिए तरह तरह के कार्यक्रम, योजनाएं समाज के द्वारा बनाई जाती हैं जिससे कि इन महिलाओं को आगे बढ़ाया जा सके क्योंकि इस समाज के यह लोग जानते हैं की महिलाओं के द्वारा ही यह समाज बनती है ,परिवार बनता है । अगर हम सभी इन महिलाओं पर अत्याचार करेंगे तो यह सबसे बड़ा पाप है।

दोस्तों यह लेख essay on samaj me nari ki bhumika in hindi आपको अच्छा लगे तो शेयर जरूर करें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *