नारी शक्ति पर निबंध Essay on nari shakti in hindi language

Essay on nari shakti in hindi language

हेलो दोस्तों कैसे हो आप सभी,आज का हमारा नारी शक्ति पर निबंध आप सभी के लिए बहुत ही हेल्पफुल है.यहा से आप नारी शक्ति के ऊपर बहुत ही अच्छी जानकारी पा सकते हैं.आप अपने स्कूल,कॉलेज की परीक्षा में निबंध लिखने के लिए यहां से जानकारी पा सकते है तो चलिए पढ़ते है हमारे आज के इस निबंध को

Essay on nari shakti in hindi language
Essay on nari shakti in hindi language

प्रस्तावना

नारी एक शक्ति है प्राचीन काल से ही अभी तक ऐसे कई उदाहरण हमें देखने को मिलते हैं जिससे साबित होता है कि नारी एक शक्ति की तरह है. देखा जाए तो नारी स्वभाव से बहुत ही अच्छी होती हैं नारी पर जब भी अत्याचार होता है तो वह कभी-कभी इतना विकराल स्वरूप रख लेती है कि वह लोगों का नाश करके ही छोड़ते हैं. नारी मां का स्वरुप है वास्तव में हमारे समाज में इस नारी शक्ति का महत्वपूर्ण योगदान है लेकिन कुछ लोग नारी को केवल तुच्छ या कमजोर समझते हैं उन लोगों की यह भूल है क्योंकि नारी आज के जमाने की सबसे बड़ी शक्ति है.

नारी के कुछ महत्वपूर्ण गुण

वैसे देखा जाए तो नारी स्वभाव से बहुत ही सरल और मीठे स्वभाव की होती है लेकिन नारी के अंदर कुछ गुण भी देखने को मिलते हैं नारी के अंदर सहनशीलता होती है. अगर हम देखे कि बचपन से बुढ़ापे तक नारी सब कुछ सहन करती जाती है वह किसी को जवाब भी नहीं देती. बचपन में नारी को बोझ समझा जाता है और जैसे जैसे वह बड़ी होती जाती है उसको बोझ होने का एहसास होता जाता है.परिवार वाले उसकी शादी कर देते हैं, शादी के बाद जब वह ससुराल में आती हैं तो वह सबकी सुनती है उसमें सहनशीलता का गुण प्रमुख रूप से होता है.

इसके अलावा नारी में संघर्ष करने का गुण भी होता है. अगर वह कुछ भी कार्य करती है तो ज्यादातर उसमें पीछे नहीं हटती वह उस कार्य की सफलता के लिए लगातार संघर्ष करती है यह गुण नारी के अंदर विद्यमान होता है.नारी के अंदर धैर्य भी बहुत अधिक होता है लेकिन जब यह हद से ज्यादा हो जाए यानी कि अगर कोई नारी को हद से ज्यादा तंग करे तो फिर नारी शक्ति का रुप ले लेती है और जब नारी शक्ति बनती है तो अच्छे-अच्छे पीछे हटते हुए नजर आते हैं.

नारी शक्ति के कुछ उदाहरण

नारी शक्ति के रूप में हम कई महिलाओं को जानते हैं जो एक शक्ति के रूप में उभरी है.झांसी की रानी लक्ष्मीबाई जोकि अकेली ही दुश्मनों के छक्के छुड़ा देती थी.दरहसल झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का कम उम्र में विवाह हुआ था और कुछ सालों में ही उनके पति झांसी के राजा का स्वर्गवास हो गया जिस वजह से झांसी की रानी लक्ष्मीबाई बनी लेकिन कुछ लोगों ने एक नारी को राज्य संभालने से मना किया लेकिन झांसी की रानी लक्ष्मीबाई ने अपने राज्य की सुरक्षा के लिए सुरक्षा की डोर अपने हाथ में संभाली.

वह तब तक लड़ती रही जब तक की उनकी सांस रही. वह किसी से भी पीछे नहीं हठी और साहसपूर्ण अपनी वीरता से लगातार कोशिश करती रही और साबित कर दिखाया कि नारी एक शक्ति की तरह है.

Related-नारी शक्ति पर स्लोगन Slogans on nari shakti in hindi

पहले की और आज की नारी

देखा जाए तो पहले के जमाने में भी बहुत सारी ऐसी नारियों ने जन्म लिया जिन्होंने नारी को कमजोर ना समझते हुए,अपने आपको कमजोर न समझते हुए साहसपूर्ण डटकर सामना किया और अच्छे-अच्छे के छक्के छुड़ा दिए लेकिन पहले नारी की स्थिति कुछ कमजोर थी.देश में नारी से संबंधित कई कुप्रथाएं थी जैसे कि पर्दा प्रथा, नारी शिक्षा पर जोर ना देना, नारी को केवल घर गृहस्ती के कार्य के लिए ही समझना, समाज में कोई भी महत्वपूर्ण स्थान ना होना, या अपने खुद के निर्णय लेने का अधिकार ना होना लेकिन बदलते जमाने में इस आधुनिक युग में पूरी तरह से तो नहीं लेकिन कुछ हद तक इस तरह की कुप्रथाएं खत्म होती जा रही हैं और नारी भी कमजोर नहीं है.

आज नारी देखा जाए तो हर एक क्षेत्र में भाग लेती है.आज नारी पुरुषों की तरह डॉक्टर है,इंजीनियर भी है कलेक्टर भी है और प्रधानमंत्री भी रह चुकी है,यह देश की मुख्यमंत्री है नारी हर एक क्षेत्र में है. वास्तव में नारी पुरुषों से बिल्कुल भी कमजोर नहीं है नारी देश की सबसे बड़ी शक्ति है और आने वाले समय में वास्तव में नारी सबसे आगे बढ़ेगी लेकिन यह भी हम कह सकते हैं कि आज भी नारी सुरक्षित नहीं है. नारी पर कई तरह के अत्याचार किए जा रहे हैं लेकिन हो सकता है कि लोग नारी की शक्ति को पहचाने और उसका सम्मान करें.

उपसंहार

वास्तव में नारी देवी स्वरूपा है यह सबसे शक्तिशाली है लेकिन आजकल के जमाने में भी लोग नारी को कमजोर,निस्सहाय समझते हैं. हम सभी को समझने की जरूरत है कि अगर नारी पर हम किसी तरह के अत्याचार करते हैं तो उसकी सहनशीलता खत्म हो जाएगी और नारी अपनी शक्ति से वास्तव में बहुत कुछ कर डालेगी.नारी शक्तिशाली है यह झांसी की रानी का अवतार है हमें नारी का सम्मान करना चाहिए और हर घर में नारी की इज्जत होना चाहिए

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल Essay on nari shakti in hindi language पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *