मानवता पर निबंध Essay on humanity in hindi

Essay on humanity in hindi

manavta essay in hindi-दोस्तों कैसे हैं आप सभी दोस्तों आज की हमारी पोस्ट Essay on manushyata in hindi दोस्तों मनुष्यता हर मनुष्य के लिए आवश्यक है हर मनुष्य को अपनी मनुष्यता दिखाना चाहिए और जीवन में एक अच्छा इंसान बनना चाहिए दोस्तों मनुष्यता एक इंसान के द्वारा दूसरे इंसान पर किए गए वह अच्छे कर्म होते हैं जिससे दूसरे इंसान को खुशी मिलती है

Essay on humanity in hindi
Essay on humanity in hindi

हमारे चारों ओर बहुत सारे जीव जंतु,मनुष्य होते हैं जो कहीं ना कहीं किसी कारण से दुखी होते हैं उनका दुख दूर करना ही मनुष्यता कहलाता है,मान लेते हैं कोई अपाहिज है उस अपाहिज को एक जगह से दूसरी जगह पर पहुंचाना या उसकी मदद करना मनुष्यता है.

मनुष्यता हर मनुष्य को अपनाना चाहिए दोस्तों हम सभी का जीवन सिर्फ दो वक्त का खाना खाने के लिए नहीं हुआ है मनुष्य का जन्म इसलिए हुआ है कि वह दुनिया में कुछ ऐसा कर जाए की हजारों सालों तक दुनिया उसे याद रखें.वाकई में मनुष्य एक ऐसा जीव है जो वह कर सकता है,दुनिया में कोई भी नहीं कर सकता.

अगर किसी के पास बहुत सारा धन है उसको दूसरों की भलाई के लिए लगाना चाहिए क्योंकि इंसान किसी भी चीज को अपने साथ नहीं ले जाता है,दोस्तों इंसान को सभी से प्रेम से बात करना चाहिए इंसान को हमेशा बड़ों का आदर करना चाहिए,प्रेम करना चाहिए और हमेशा दूसरों के साथ अच्छा बर्ताव करना चाहिए तभी हमारा देश आगे बढ़ सकता है और हम भी आगे बढ़ सकते हैं.

मनुष्यता मनुष्य के लिए अति आवश्यक है,वह इंसान जो गरीब है दुखी है हमें उसके लिए वह करना चाहिए,प्यासे को पानी भूखे को खाना खिलाना ही मनुष्यता कहलाता है और इतना ही नहीं हमें किसी से भी नहीं डरना चाहिए और हमेशा दूसरों की मदद करने के लिए आगे बढ़ना चाहिए यही मनुष्यता कहलाता है,अब तक बहुत सारे ऐसे लोग हुए हैं जिन्होंने ऐसे कर्म किए हैं और मनुष्यता के ऐसे कई उदाहरण दिए हैं की हजारों सालों बाद भी आज उन्हें याद किया जाता है,महादानी कर्ण जिसने दान में  अपना सुरक्षा कवच भी दान कर दिया था उसे मौत का डर नहीं था क्योंकि वह एक मनुष्य था,राजा बलि जिन्होंने अपना पूरा राज दान कर दिया था दोस्तों हम सभी को मनुष्य के कर्म करना चाहिए.

हमें दूसरों की मदद के लिए हमेशा तत्पर खड़े होना चाहिए और हर समय हर जगह दूसरों के लिए कुछ भी करने से नहीं डरना चाहिए दोस्तों जब हम मनुष्यता अपनाते हैं तो हमारे समाज में हमारे देश में एक अच्छा वातावरण होता है और हमारा देश एक नई ऊंचाई पर एक विकास की उपाय ऊंचाई पर पहुंचता है क्योंकि किसी भी देश की विकास शीलता वहां के लोगों पर निर्भर करती है. हमारे देश में हर व्यक्ति दूसरों के लिए सोचने लगा तोह इससे बढ़कर हमारे देश के लिए खुशी की बात नहीं हो सकती.

जो व्यक्ति दुखी है उसके आंसू पोंछना ही मनुष्य के कर्म होते हैं बहुत से जानवर जो दुखी हैं उनकी सेवा करना की मनुष्यता का करम है हमारी गौ माता जिसकी सेवा हम सभी को करना चाहिए यही मनुष्य का कर्तव्य है हमें अपने दोस्तों के साथ परिवार वालों के साथ रिश्तेदारों के साथ अच्छा व्यवहार करना चाहिए और कुछ भी करने से पहले यह सोच लेना चाहिए कि हम ये अपने खुद के लिए नहीं बल्कि हमारे देश के लिए कर रहे हैं.

क्योंकि यही एक मनुष्य का कर्तव्य है,दोस्तों मनुष्य को हमेशा यह प्रयास करना चाहिए की उससे दूसरों को बिल्कुल हानि ना पहुंचे और उससे दूसरे हमेशा खुश रहे और मनुष्य को कुछ ऐसा करना चाहिए कि पूरी दुनिया उसे याद रखें उसे भूल ना भूल पाए यही मनुष्य का कर्तव्य है उदाहरण के तौर पर हमारे देश को आजादी दिलाने वाले महात्मा गांधी जी आज भी याद किए जाते हैं क्योंकि उन्होंने सिर्फ अपने बारे में नहीं बल्कि देश के बारे में,देशवासियों के बारे में सोचा था इसलिए आज वह भूले नहीं भूलाये जाते क्योंकि वह हमारे देश को आजादी दिला कर गए है जो हमारे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण थी.

हम अंग्रेजों की गुलामी से तड़प तड़प के मर रहे थे महात्मा गांधी जी और उनके कुछ सहयोगीयो ने अपने देश के लिए ऐसा कर दिखाया जिसे देश हमेशा याद रखेगा यही मनुष्यता है दोस्तों हम सभी को सिर्फ हमारे बारे में ही नहीं बल्कि दूसरों के बारे में सोचना चाहिए क्योंकि परोपकार ही सबसे बड़ा धर्म होता है.

मनुष्य से लेकर जानवरों तक जानवर से लेकर पशु-पक्षियों तक हर जीव पर हमें परोपकार करना चाहिए,हमें मनुष्य के कर्तव्य निभाना चाहिए,पशु पक्षियों को पानी पिला उनकी हर तरह से हमें मदद करना चाहिए हम सभी को उन्हें गुलाम नहीं बनाना चाहिए बहुत से लोग पशु पक्षियों को पिंजरे में बंद रखते हैं हमको चाहिए कि उनको आजादी की सांस लेने दें क्योंकि हम मनुष्य हैं हमको दूसरों के बारे में सोचना चाहिए.

दोस्तों मनुष्य ऐसा जीव है जो हर असंभव काम को भी संभव कर सकता है इसलिए मनुष्य को हर प्राणी की मदद करना चाहिए उसके पास जो है वह दूसरों की भलाई के लिए लगाना चाहिए यही मनुष्यता है,इससे हमको ही नहीं हमारे परिवार वालों को भी बहुत लाभ मिलता है क्योंकि इससे हमारे समाज में अच्छाई पैदा होती है जो कभी खत्म नहीं होती दोस्तों इसलिए हमको मनुष्यता अपनाना चाहिए और जीवन में हमेशा दूसरों के बारे में सोचना चाहिए दूसरों की मदद के लिए हमेशा तत्पर खड़े होना चाहिए.

अगर आपको हमारी पोस्ट Essay on manushyata in hindi पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाईक करना न भूले और हमे कमेन्ट्स के जरिये बताये की आपको हमारा ये आर्टिकल Essay on humanity in hindi कैसा लगा.हमारी अगली post को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सबस्क्राइब करें.

अगर आपको हमारे इस आर्टिकल Essay on humanity in hindi में कुछ भी गलत लगे तो हमे सूचित करे,हम इसे पुनः अपडेट करेंगे.

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *