रक्तदान महादान पर निबंध Essay on blood donation in hindi

Essay on blood donation in hindi

Rakt daan essay in hindi-दोस्तों कैसे हैं आप सभी,आज का हमारा आर्टिकल रक्तदान महादान पर निबंध आप सभी की स्कूल, कॉलेज की परीक्षा में लिखने के लिए मददगार साबित होगा. आप यहां से अच्छी और बेहतरीन जानकारी ले सकते हैं हमारे आज के इस आर्टिकल में हमने रक्तदान को सबसे बड़ा दान बताया है चलिए पढ़ते हैं आज के इस आर्टिकल को

Essay on blood donation in hindi
Essay on blood donation in hindi

जब से यह दुनिया बनी है तबसे दान की प्रथा चली आ रही है अगर कोई जरूरतमंद है और हम उसे कोई उसकी उपयोग में लाई जाने वाली चीज को दे देते हैं तो उसे हम दान कहते हैं.दान के रूप में हम कई तरह की चीजें दे सकते हैं कई प्रकार का दान होता है लेकिन जो सबसे बड़ा दान यानी महादान होता है वह रक्तदान होता है.सच मानें तो रक्तदान सिर्फ रक्तदान नहीं है यह जीवन दान है जो रक्तदान करता है वह रक्तदान नहीं बल्कि किसी को जीवनदान करता है ऐसा माना जाता है.आज हम देखें तो बहुत सारे लोग बीमार,पीड़ित हैं अगर हम रक्तदान करके किसी की मदद करें तो वास्तव में यह दान सबसे बड़ा दान समझा जा सकता है.

रक्तदान कौन कर सकता है

रक्तदान महिला या पुरुष कोई भी कर सकता है लेकिन कुछ बातें हैं जो रक्तदान करने वालों को और डॉक्टरों को पता होना चाहिए क्योंकि तब ही रक्तदान किया जा सकता है. रक्तदान करने वाले व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 साल से ऊपर होना चाहिए तभी वह रक्तदान कर सकता है

दूसरा यह है कि जो व्यक्ति रक्तदान करने वाला है उसे किसी भी तरह की बीमारी नहीं होनी चाहिए और अगर कोई बड़ी बीमारी जैसे कि शुगर,कैंसर,TV आदि है तो वह बिल्कुल भी रक्तदान नहीं कर सकता. रक्तदान केवल स्वस्थ व्यक्ति को ही करना चाहिए.

कुछ महिलाएं जो बच्चों को दुग्धपान करवाती हैं और कुछ महावारी में हैं तो वह रक्तदान नहीं कर सकती. अगर आप शराब के आदी हैं या आप ने 2 या 3 दिन पहले ही शराब पी हुई है तो भी आपको रक्त दान नहीं करना चाहिए.खून में अगर किसी भी तरह का संक्रमण हो तो हमें रक्तदान करने से बचना चाहिए अगर कोई व्यक्ति कमजोर है तो भी उसको रक्त दान नहीं करना चाहिए.रक्तदान शरीर से स्वस्थ व्यक्ति को करना चाहिए.

रक्तदान का महत्व या फायदे rakt daan ke fayde

वास्तव में रक्त दान सबसे बड़ा दान माना जा सकता है जब हम रक्तदान करते हैं तो हमारा रक्त उस व्यक्ति को चढ़ाया जाता है जो या तो किसी बीमारी से पीड़ित होता है जिसे खून की जरूरत होती है या फिर जिस की दुर्घटना होती है और उसे खून की जरूरत होती है उसी को हमारे द्वारा दिया गया रक्त चढ़ाया जाता है जिससे सामने वाले व्यक्ति की जान बचती है.वह अपने जीवन को बचा पाता है और उसके परिवार वाले भी आपको धन्यवाद कहते हैं.

कुछ लोग ऐसे होते हैं जो रक्त की कमी के वजह से अपने जीवन को त्याग देते हैं अगर उन्हें रक्त मिल जाए तो वास्तव में उनका जीवन बच सकता है. हम रक्तदान करके पुण्य अर्जित करते हैं इसलिए भी रक्तदान महादान माना जाता है रक्तदान करने से हमें पूण्य तो मिलता ही है,हमें दुआएं भी मिलती हैं साथ में अगर हम रक्तदान करते हैं तो कई बीमारियों से भी मुक्त हो जाते हैं.

अगर आप को हृदय से संबंधित कुछ भी समस्या है तो रक्तदान करने से यह समस्या काफी हद तक कम हो सकती है.रक्तदान करने से शरीर में नया रक्त बनता है जिस वजह से शरीर में फुर्ती आती है,तंदुरुस्ती आती है जो व्यक्ति मोटापे से परेशान हैं अगर वह रक्तदान करते हैं तो कुछ हद तक वजन कम करने में भी रक्तदान मदद करता है इसलिए हम देखें तो रक्तदान के लाभ ही लाभ हैं. रक्तदान के महत्व को देखते हुए हर एक व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए.

रक्तदान कहां से करें

रक्तदान करने के लिए समय-समय पर कई तरह के शिविर लगाए जाते हैं जिसमें कोई भी महिला या पुरुष अपना रक्तदान कर सकते हैं और दूसरों को जिंदगी दे सकते हैं वह जीवनदान दे सकते हैं.रक्तदान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए भारत में कई संस्थाएं भी चलती हैं जो लोगों को प्रेरित करती हैं कि रक्तदान करें और दूसरों की जान बचाय.

लालच में ना करें

बहुत सारे लोग ऐसे भी होते हैं जो रक्तदान किसी लालच में आकर करते हैं रक्तदान वास्तव में एक महादान है इसे आप तभी दान करें जब आप पूर्ण रुप से स्वस्थ हो .आप किसी के दवाब में आकर कभी भी रक्तदान ना करें कुछ लोग पैसों के लालच में आकर रक्तदान करते हैं आप रक्तदान केवल अपनी स्वेच्छा से ही करें.

भ्रांतियां

रक्तदान से संबंधित लोगों में कई तरह की भ्रांतियां होती हैं कि अगर हम रक्तदान करेंगे तो कमजोर हो जाएंगे. रक्तदान करने से लोग अपने शरीर की कमजोरी समझते हैं लेकिन वास्तव में रक्तदान करने से ऐसा कुछ भी नहीं होता. 21 दिनों के अंदर ही हमारे शरीर में रक्त पुनः बन जाता है और खून का संचार और भी बेहतरीन अच्छी तरह से होता है. आप तरोताजा महसूस करते हैं अगर कोई व्यक्ति स्वस्थ है तो रक्तदान करने से उसको किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता.

उपसंहार

वास्तव में रक्तदान महादान होता है हम सभी को जीवन में जरूर ही रक्त दान करना चाहिए वस इसके लिए हमें स्वस्थ होना चाहिए. रक्तदान वास्तव में कोई दान नहीं बल्कि जीवनदान है यह सबसे बड़ा दान है हमें समय-समय पर रक्तदान करते रहना चाहिए

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया है ये आर्टिकल Essay on blood donation in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *