केन्द्रीय विद्यालय पर निबंध essay on kendriya vidyalaya in hindi

essay on kendriya vidyalaya in hindi

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं । चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय के बारे में जानते हैं ।

essay on kendriya vidyalaya in hindi
essay on kendriya vidyalaya in hindi

केंद्रीय विद्यालय के माध्यम से भारत के केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों के बच्चों के लिए प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा दी जाती है । केंद्रीय विद्यालय में शासकीय कर्मचारियों के बच्चों को शिक्षा देने की व्यवस्था है । इस विद्यालय के माध्यम से शासकीय कर्मचारियों के बच्चों को शिक्षा देकर विकास की ओर बढ़ाना है । केंद्रीय विद्यालय की शुरुआत सन 1963 से की गई थी और आज भी भारत के सभी जिलों में केंद्रीय विद्यालय मौजूद हैं । केंद्रीय विद्यालय को केंद्र सरकार के द्वारा चलाया जाता है ।

केंद्रीय विद्यालय की देखरेख एवं जो भी पैसा केंद्रीय विद्यालय में खर्च होता है वह पूरा पैसा केंद्र सरकार देती है । केंद्रीय विद्यालय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से अनुबंधित किया गया है । भारत देश के सभी राज्यों के जिलों में केंद्रीय विद्यालयों की संख्या 1199 से भी अधिक है । भारत देश के साथ-साथ विदेशों में भी लगभग तीन केंद्रीय विद्यालय चल रहे हैं । विदेशों में जो भारतीय नागरिक रहते हैं एवं भारतीय दूतावास है उनके बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में शिक्षा दी जाती है ।

प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा के माध्यम से उन बच्चों को आगे बढ़ाया जाता है । केंद्रीय विद्यालय की पूरी व्यवस्था केंद्र सरकार के मंत्रालय विकास मंत्रालय देखती है । केंद्रीय विद्यालय में बच्चों के पढ़ने एवं खेलने कूदने की व्यवस्था की गई है । केंद्रीय विद्यालय में मनोरंजन की भी व्यवस्था की गई है ।बेहतर से बेहतर तकनीकों के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय में बच्चों को शिक्षा दी जाती है । बच्चों के खेलने , कूदने के साथ-साथ अच्छे भोजन की व्यवस्था भी केंद्रीय विद्यालय में की गई है ।

केंद्रीय विद्यालय में बच्चों को निशुल्क ड्रेस एवं किताबें भी केंद्र सरकार के माध्यम से मुहैया कराई जाती हैं । केंद्रीय विद्यालय में पानी की उचित व्यवस्था , शौचालय की उचित व्यवस्था की गई है । बैठने की व्यवस्था , उचित लेब की व्यवस्था भी केंद्रीय विद्यालय में की गई है । केंद्रीय विद्यालय में बच्चों के खेलने के लिए गार्डन एवं खेलने के लिए मैदान भी बनाए गए हैं । तरह तरह के खेल बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में खिलाए जाते हैं ।

केंद्र सरकार के माध्यम से बच्चों को बेहतर से बेहतर शिक्षा देने के लिए केंद्रीय विद्यालय में उचित साधन उपलब्ध कराए जाते हैं जिसका पूरा खर्चा केंद्र सरकार उठाती है । केंद्रीय विद्यालय के माध्यम से उन कर्मचारियों के बच्चों को उच्च शिक्षा देने पर जोर दिया गया है जिन कर्मचारियों के ट्रांसफर किए जाते  हैं । जिस कर्मचारी का ट्रांसफर किया जाता है उनके बच्चों की यह विद्यालय शैक्षणिक आवश्यकताओं की पूर्ति करता है । इन कर्मचारियों के साथ-साथ अर्धसैनिक बलों के कर्मचारी के बच्चे भी शामिल हैं ।

केंद्रीय विद्यालय के माध्यम से बच्चों के अंदर राष्ट्रीय एवं देशभक्ति की भावना जागृत की जाती है । भारत के अलावा विदेश के तीन देशों यानी मास्को , काठमांडू , तेहरान आदि देशों में भी भारत के केंद्रीय विद्यालय स्थित हैं । जहां पर भारतीय दूतावास के बच्चे शिक्षा प्राप्त करते हैं । सभी केंद्रीय विद्यालयों में सुबह के समय प्रार्थना भी बच्चों से कराई जाती है । प्रार्थना कराने से बच्चों में अच्छे संस्कार की जागृति होती है ।

15 दिसंबर 1963 से लेकर आज तक केंद्रीय विद्यालयों की स्थिति काफी मजबूत है । अच्छी व्यवस्थाएं केंद्रीय विद्यालय को दी गई हैं । केंद्रीय विद्यालयों की मौजूदगी से उन कर्मचारियों की समस्या का हल हुआ है जिन कर्मचारियों का ट्रांसफर हो जाता है । उनके बच्चे की पढ़ाई का नुकसान ना हो इसी के लिए केंद्रीय विद्यालय खोले गए हैं । केंद्रीय विद्यालय में उच्च कोटि के शिक्षक होते हैं जिनके माध्यम से बच्चों को ज्ञान प्राप्त होता है ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह बेहतरीन लेख केंद्रीय विद्यालय पर निबंध essay on kendriya vidyalaya in hindi आपको पसंद आए तो सब्सक्राइब अवश्य करें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *