कठपुतली पर निबंध essay on kathputli in hindi

essay on kathputli in hindi

दोस्तो आज हम आपके लिए लाए है कठपुतली पर निबंध । चलिए अब हम जानेंगे कठपुतली के बारे में।

कठपुतली का खेल हमारे भारत मे पुराने समय से ही दिखाया जाता रहा है । जो कलाकर कटपुतली का खेल दिखता है वह 4 से 5 कटपुतली को बारीक धागे से बांध कर एवं गीत गाकर नाटक प्रस्तुत करता है । कई लोग उस नाटक को देखने के लिए आते हैं और कलाकार को पैसा देते हैं । कठपुतली का खेल पुराने समय में अच्छा लगता था । गांव में कठपुतली का खेल देखने के लिए भीड़ एकत्रित हो जाती है। जब कोई कलाकार गांव में कठपुतली का खेल दिखाने के लिए आता है तब गांव के लोग अपना जरूरी काम छोड़कर कठपुतली का खेल देखने के लिए आ जाते हैं । कठपुतली का खेल देखकर सभी बच्चे अपना मनोरंजन करते । कठपुतली के माध्यम से कई राजाओं की कहानी बताई जाती थी । यह बच्चों का सबसे अच्छा खेल हैं । जब किसी गांव या शहर में कठपुतली का खेल दिखाने के लिए कलाकार आते थे तो भारी मात्रा में भीड़ एकत्रित हो जाती थी।

essay on kathputli in hindi
essay on kathputli in hindi

कठपुतली का खेल राजस्थान का सबसे प्रिय खेल रहा है । राजस्थान के साथ-साथ हमारे भारत के कई राज्य में यह खेल लोकप्रिय रहा है । कठपुतली खेल के माध्यम से आजकल सरकार गांव गांव जाकर योजनाओं का प्रचार भी कर रही है । कठपुतली के माध्यम से दहेज प्रथा के बारे में बताया जाता है और गांव के लोगों को जागरूक किया जाता हैं । चुनाव के समय कठपुतली के कलाकार को गांव गांव भेज कर कठपुतली का खेल दिखाकर कई पार्टियां प्रचार करवाती हैं । कठपुतली के माध्यम से नशाखोरी को कम करने के लिए, बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार कठपुतली का खेल सभी गांव में करवाती है ।

आज भी कठपुतली का यह खेल सबसे अच्छा खेल माना जाता है । राजस्थान के भाट जाति के लोग कठपुतली बना कर बहुत अच्छा नाटक करते हैं और उस नाटक को देखने में आनंद आता है । कठपुतली का खेल दिखाते समय कलाकार गीत संगीत गाता है। जब कठपुतली का खेल दिखाता है तब राजस्थानी गीत सबसे प्यारा लगता है और हमें आनंद भी आता है । जब वह किसी राजा महाराजा की कहानी का खेल दिखाता है तब उसके हिसाब से कठपुतली की डिजाइन करता है । एक पुतली को राजा बनाता है तो दूसरी पुतली को रानी बनाता है और अन्य पुतलियों को प्रजा के रूप में बनाता है ।

कठपुतली का कलाकार कठपुतली को कई रंगों से सजाता है और उनको तरह तरह के वस्त्र पहनाता है जिससे कि वह जब खेल दिखाएं तो वह कठपुतलियां सुंदर दिखें । खेल के हिसाब से वह एक गीत तैयार करता है और उस गीत को खेल दिखाते समय गाता है। कठपुतली के माध्यम से हीर रांझा ,लैला मजनू ,की कहानी बताई जाती है जिस कहानी को देखकर लोग मनोरंजन करते हैं ।

कई कठपुतलियों को जो कर बनाया जाता है और गांव के बच्चों को खेल दिखाया जाता है । उस खेल को देख कर बच्चे खुश होते हैं और कलाकार को एक ₹2 देकर जाते हैं । भारत के कई लोग कठपुतली का खेल दिखा कर अपना जीवन यापन करते हैं । यह मनोरंजन का सबसे अच्छा खेल माना जाता है । इस खेल के माध्यम से लोग जागरूक होते हैं पूरे विश्व में कठपुतली दिवस भी मनाया जाता है । 21 मार्च को पूरा विश्व कठपुतली दिवस मनाता है क्योंकि यह सबसे पुराना और सबसे अच्छा खेल है । इस खेल के माध्यम से लोग पुराने समय से ही मनोरंजन करते आ रहे हैं । जब हमारे देश में कहीं पर मेला लगता है तो उस मेले में कई कलाकार कठपुतली का खेल दिखाते हैं और मेला में सभी लोग कठपुतली का खेल जरूर देखते हैं । कठपुतली का खेल भीड़ वाली जगह पर दिखाया जाता है । कठपुतली का खेल गांव गांव जाकर दिखाया जाता है । कठपुतली का खेल स्कूलों में भी दिखाया जाता है । कई प्रतियोगिताओं में आजकल विद्यार्थी भी कठपुतली का खेल सीखकर दिखाते हैं ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख कठपुतली पर निबंध essay on kathputli in hindi आपको पसंद आए तो सब्सक्राइब जरूर करें धन्यवाद।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *