दशहरा पर निबंध Dussehra essay in hindi

Dussehra essay in hindi

दोस्तों आज हम बच्चों के लिए लाए हैं हमारे पावन त्योहार दशहरा के बारे में निबंध। अक्सर स्कूल की परीक्षाओं में दशहरा पर निबंध लिखने के लिए दिया जाता है बच्चे हमारे इस निबंध का उपयोग अपने स्कूल की परीक्षा में लिखने के लिए कर सकते हैं चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के दशहरे पर लिखे इस निबंध को

Dussehra essay in hindi
Dussehra essay in hindi

दशहरा हमारा पावन पर्व है कहते हैं इस दिन भगवान श्री राम ने लंका पति रावण को मार डाला था इसी वजह से दशहरा मनाया जाता है दरअसल श्री रामचंद्र जी जब 14 वर्ष वर्ष के बनवास मे थे तब लंकापति रावण ने माता सीता का अपहरण कर लिया था तब श्री रामचंद्र जी ने लंका पर चढ़ाई की और रावण के भाई और पुत्रों को मार डाला उसके बाद दशहरा के दिन श्री रामचंद्र जी ने दशानन यानी रावण को मार डाला था। दरअसल लंकापति रावण के 10 सिर थे भगवान श्रीराम ने रावण के 10 सिर काट दिए थे और आखिर में उसका बध कर दिया था।

दशहरा नवदुर्गाओं के बाद दसवें दिन आता है इस दशहरे के दिन गांव गांव शहर शहर में रावण के पुतले बनाए जाते हैं और उनका दहन किया जाता है। दशहरा के कुछ दिन पहले से रामायण भी होती है कभी-कभी महीनों से रामायण होती है तो कभी-कभी 10 दिन के लिए भी रामायण या रामलीला होती है और दसवें दिन आखिर में राम रावण का वध कर देते हैं।

शहरों में बहुत ऊंचाई के रावण के पुतले बनाए जाते हैं बहुत सारे लोग, बच्चे, बूढ़े, नौजवान, औरतें उस रावण के पुतले को जलते हुए देखने के लिए जाते हैं और लोग खुश होते हैं चारों तरफ पताखा चलते हैं, खुशियां मनाई जाती हैं क्योंकि लंकापति रावण को हम सभी एक बुराई का पुतला समझते हैं इस दिन बुराई पर अच्छाई की विजय हुई थी और इसके बाद श्री रामचंद्र जी अयोध्या जाने के लिए तैयारी करते हैं।

हर साल दशहरा दीपावली के 20 दिन पहले मनाया जाता है इस दशहरा को लोग विजयादशमी भी कहते हैं क्योंकि भगवान श्रीराम ने इस दिन बुराई पर यानी लंकापति रावण पर विजय पाई थी। हम सभी इस दशहरे को दुर्गा पूजा के नाम से भी जानते हैं वास्तव में दशहरा हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है हम इस त्योहार के दिन बुराई को दूर कर देते हैं और अच्छाई को अपनाने का प्रण लेते हैं।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल Dussehra essay in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *