डीएसपी कर्नल राजीव कुमार के बारे में Dsp karnal rajiv kumar biography in hindi

Dsp karnal rajiv kumar biography in hindi

Dsp karnal rajiv kumar – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से डीएसपी कर्नल राजीव कुमार के बारे में बताने जा रहे हैं ।तो चलिए हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल पर डीएसपी कर्नल राजीव कुमार के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Dsp karnal rajiv kumar biography in hindi
Dsp karnal rajiv kumar biography in hindi

Image source – https://m.tribuneindia.com/news/archive

डीएसपी कर्नल राजीव कुमार के बारे में – डीएसपी राजीव कुमार भारत देश के हरियाणा राज्य के करनाल मे कार्यरत हैं । जो भारतीय नागरिकों के प्रति अपनी सभी जिम्मेदारियां निभाने के लिए जाने जाते हैं । कानून व्यवस्था को बनाए रखने में यह काफी मेहनत करते हैं । यह सुर्खियों में अक्सर आते रहते हैं । जब डीएसपी राजीव कुमार के पास कोई केस पहुंचता है तब वह उस केस की छानबीन ठीक तरह से कराते हैं । जब डीएसपी राजीव कुमार के पास कोई मामला आता है तब वह उस मामले को जल्द से जल्द सुलझा कर लोगों को न्याय  दिलाने का काम करते हैं ।

डीएसपी राजीव कुमार करनाल के लोगों के लिए पुलिस डिपार्टमेंट में रहकर अच्छे-अच्छे कार्य कर रहे हैं जिस कार्य की प्रशंसा वहां के नागरिक के द्वारा की जा रही है ।  कई ऐसी वारदातें होती है जिन वारदातों को सुलझाने मे काफी समय लगता है परंतु करनाल के डीएसपी राजीव कुमार वारदातों को कम समय में ही सुलझा देते हैं । अभी पूरे भारत देश में लॉक डाउन चल रहा है और सभी लोग लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं । भारत देश के हरियाणा राज्य के करनाल में पुलिस डिपार्टमेंट में कार्यरत डीएसपी राजीव कुमार बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं ।

अभी की एक घटना जो सुर्खियों में छाई हुई है वह घटना यह है कि एक मकान मालिक ने अपने किराएदार को घर से बाहर निकाल दिया था क्योंकि उस किराएदार के पास किराए का पैसा देने के लिए नहीं था । जब मकान मालिक ने किराएदार को घर से बाहर निकाला तब किराएदार के द्वारा पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी और डीएसपी राजीव कुमार उस मामले की जांच करने के लिए पहुंचे थे । इसके बाद डीएसपी राजीव कुमार ने मकान मालिक को बुलाया और उससे बातचीत की उससे कहा कि अभी लॉक डाउन चल रहा है इस समय तुम किराए ना देने पर किराएदार को घर से बाहर नहीं निकाल सकते हो ।

उसके बाद मकान मालिक ने कहा कि मैंने घर से बाहर निकालने की बात नहीं की थी ।जब मकान मालिक के द्वारा किराए की बात की गई तब करनाल के डीएसपी राजीव कुमार के द्वारा मकान मालिक को यह कहा गया कि तुम इनको घर से बाहर मत निकालो किराया में दे दूंगा । परंतु मकान मालिक ने डीएसपी से कहा कि मैं तुम्हें जानती ही नहीं हूं । इसकी क्या गारंटी है कि तुम किराया दे दोगे । यह सुनकर करनाल के डीएसपी राजीव कुमार ने किराएदार का किराया मकान मालिक को दे दिया था और किराएदार को दूसरा घर उपलब्ध करा दिया था ।

उसके खाने-पीने की व्यवस्था भी करनाल के डीएसपी राजीव कुमार के द्वारा करा दी गई थी । इस तरह से करनाल के डीएसपी राजीव कुमार अपने कामों के लिए पहचाने जाते हैं । लॉक डाउन के समय में वह करनाल में कई शक्तियों के साथ लोगों को लॉक डाउन का पालन करा रहे हैं । उन्होंने पत्रकारों से भी यह कहा था कि जो लोग लॉक डाउन का ठीक तरह से पालन नहीं कर रहे हैं उन पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी । जिससे कि लोग लॉक डाउन का पालन सही तरह से करें । इसके लिए उन्होंने पुलिस पोस्ट को भी यह निर्देश दिए हैं कि किसी को भी लॉक डाउन का पालन ना करने पर छोड़ा ना जाए ।

राजीव कुमार ने यह भी कहा है कि पूरे करनाल शहर पर नजर रखी जा रही है । ड्रोन के माध्यम से भी शहर पर नजर रखी जा रही है  कि कोई लॉक डाउन का उल्लंघन तो नहीं कर रहा है । यदि कोई लॉक डाउन का उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो उसकी वीडियो कैमरे मैं कैद हो जाएगी फिर हम उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर सकते हैं । लॉक डाउन का उल्लंघन करने बालो के खिलाफ केस दर्ज कर सकते हैं जिससे लोगों को यह पता चलेगा कि यदि वह नियम तोड़ देंगे तो उनको सजा मिलेगी । करनाल के डीएसपी राजीव कुमार शहर की हर घटना पर नजर रखते हैं । उनका कहना है कि यदि मुजरिम को गलत कार्य करने से पहले ही रोक दिया जाए तो शहर के अंदर घटनाएं नहीं होगी ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह बेहतरीन आर्टिकल डीएसपी कर्नल राजीव कुमार के बारे में Dsp karnal rajiv kumar biography in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें उसके बाद अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूले ।दोस्तों यदि आपको इस आर्टिकल को पढ़ते समय कुछ गलती या कमी नजर आए तो आप हमें कृपया कर उस गलती के बारे में हमारी ईमेल आईडी पर अवश्य बताएं जिससे कि हम उस गलती को सुधार कर यह आर्टिकल आपके समक्ष पुनः प्रस्तुत कर सकें  धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *