दूरदर्शन वरदान या अभिशाप निबंध व नारे Doordarshan vardan ya abhishap essay, slogan in hindi

Doordarshan vardan ya abhishap essay, slogan in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं दूरदर्शन वरदान या अभिशाप पर निबंध। दूरदर्शन हम सभी के लिए वरदान है या अभिशाप यह जानना बहुत ही जरूरी है। दूरदर्शन आज हम देखें तो हर एक की जरूरत है बच्चे, बूढ़े, नौजवान हर किसी को दूरदर्शन अपनी और आकर्षित करती है।

एक तरह से देखें तो दूरदर्शन एक वरदान की तरह भी कार्य करता है क्योकि दूरदर्शन से बच्चों, नौजवानों सभी को कई तरह की शिक्षाप्रद जानकारी प्राप्त होती है जिससे उनके जीवन में बदलाव आता है वह मनोरंजन के साथ-साथ में शिक्षा ग्रहण करते हैं, यह बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। किसी भी विद्यार्थी या नौजवान के लिए यह किसी वरदान की तरह ही होता है लेकिन कहते हैं कि किसी चीज का यदि कुछ फायदा होता है तो उसका कुछ नुकसान भी जरूर होता है।

हम यदि दूरदर्शन का कुछ ज्यादा ही उपयोग करते हैं तो हमारा समय खराब होता है। विद्यार्थी जो पढ़ाई करते हैं जिनके लिए समय बहुत ही महत्वपूर्ण होता है पर ज्यादा समय दूरदर्शन के साथ बिताने की वजह से यह एक अभिशाप की तरह भी हो जाता है एवं दूरदर्शन पर कई ऐसी चीजें भी दिखाई जाती हैं जो विद्यार्थियों को ज्यादा देखना नहीं चाहिए। कभी-कभी मनुष्य विद्यार्थी एवं नौजवान दूरदर्शन इतने ज्यादा देखते हैं कि उनका अधिकतर समय इसमें चला जाता है एवं उनका भविष्य अंधकारमय हो जाता है।

दरअसल दूरदर्शन पर ऐसे कई मनोरंजक कार्यक्रम भी आते हैं जो लोगों को अपनी ओर खींचते हैं, विद्यार्थी इस वजह से अपनी पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान ना देते हुए समय को बर्बाद करते हैं तो दूरदर्शन एक अभिशाप की तरह ही हो जाता है। हम सभी को दूरदर्शन जरूर देखना चाहिए लेकिन एक सीमा में रहकर ही इसको देखना चाहिए, अधिक समय तक दूरदर्शन देखना एक अभिशाप की तरह हो सकता है। इसकी हद से ज्यादा लत लगना व्यक्ति का भविष्य अंधकारमय में डालना है।

  1. हमने दूरदर्शन वरदान या अभिशाप इस पर हमने कुछ नारे भी लिखे हैं आप इन्हें जरूर पढ़ें
  2. दूरदर्शन वरदान है लेकिन हद से ज्यादा देखना इससे केवल नुकसान है
  3. दूरदर्शन का सदुपयोग करें, इसका ना दुरुपयोग करें
  4. दूरदर्शन को अभिशाप ना बनने देंगे, इसका ना दुरुपयोग होने देंगे
  5. छात्रों का हम ख्याल रखें, दूरदर्शन के अभिशाप से बचें
  6. दूरदर्शन का सदुपयोग करें, हम जीवन में आगे बढ़े
  7. ज्ञान की बातें हम सीखें लेकिन हद से ज्यादा हम दूरदर्शन ना देखें
  8. आदत होती है बड़ी खराब, दूरदर्शन बन जाती है अभिशाप

दोस्तों मुझे बताएं कि दूरदर्शन वरदान या अभिशाप पर निबंध व नारे आपको कैसे लगे, इन्हें अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *