कश्मीर की प्राकृतिक सुंदरता Dharti ka swarg kashmir essay in hindi

Dharti ka swarg kashmir essay in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज हम आपको धरती के स्वर्ग कश्मीर के बारे में बताने वाले हैं कश्मीर जो कि अपनी प्राकृतिक सुंदरता की वजह से प्रसिद्ध है यहां की झीलें,धार्मिक स्थल,पर्वत,गुफा,हरे-भरे वनो, रंग बिरंगे फूल,पौधों की वजह से कश्मीर को जाना जाता है.

Dharti ka swarg kashmir essay in hindi
Dharti ka swarg kashmir essay in hindi

कश्मीर की सैर करने के लिए लोग मार्च से सितंबर के महीने के बीच आते हैं यहां पर देश विदेश से भारी संख्या में लोग आते हैं कश्मीर भारत की प्राकृतिक खूबसूरती है जम्मू कश्मीर में बहुत सारे स्थान और उनकी प्राकृतिक सुंदरता देखने को मिलती हैं मान्यता के अनुसार जम्मू शहर की स्थापना 14वी सदी में हुई थी अकबर ने यहां की खूबसूरती से प्रभावित होकर यहां पर मस्जिद और उद्यान बनवाएं थे.

सन 1839 से यहां पर महाराजा रणजीत सिंह ने शासन किया और फिर 1846 में डोंगर शासको ने रंजीत सिंह से इसे खरीद लिया था. यहां पर यात्री गणों को विभिन्न प्रकार की झीले,गुफाएं,पर्वत,मंदिर देखने को मिलते हैं यह पर वैष्णो देवी मंदिर, रणवीरेश्वर मंदिर, शंकराचार्य मंदिर,मानसर झील, सुरिनसर झील, डल झील, वूलर झील, बाग बगीचे, आदि है.

वैष्णो देवी मंदिर- यह जम्मू कश्मीर का एक बहुत ही प्रसिद्ध वैष्णो देवी का मंदिर है यह मंदिर जम्मू से लगभग 62 किलोमीटर की दूरी पर है.हम रेल या फिर टैक्सी के जरिए 48 किलोमीटर दूर कटरा तक पहुंच सकते है वहां से 14 किलोमीटर की चढ़ाई करना पड़ती है जो कि हम पैदल या पालकी या घोड़े के द्वारा कर सकते हैं इस मंदिर में देश-विदेश से हजारों लाखों श्रद्धालु आते हैं इस मंदिर की ख्याति दूर दूर तक फैली हुई है इस मंदिर के दर्शन करना लोग अपना सौभाग्य मानते हैं

रणवीरेश्वर मंदिर- यह मंदिर भगवान शिव शंकर के पारदर्शी 12 शिवलिंग का मंदिर है इसे महाराज रणवीर सिंह ने बनवाया था यहां पर भी भारी संख्या में श्रद्धालु भगवान शिव शंकर के शिवलिंग के दर्शन के लिए आते हैं.

मानसर झील- यह झील जम्मू से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी पर है यह जंगलों से गिरी हुई एक बेहद खूबसूरत झील है जिसे देखने भी श्रद्धालु आते हैं और नौका में सवार होकर भृमण करते हैं

सुरिनसर झील- इसकी लंबाई मानसर झील से कम हैं यह बहुत ही खूबसूरत है यह जम्मू से 42 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है
डल झील- श्रीनगर से कुछ दूर स्थित डल झील है जो कि बहुत ही प्रसिद्ध झील है इस के किनारे स्थित हजरत बल मस्जिद है ये दिखने में बहुत ही खूबसूरत हैं
वूलर झील- यह झील श्रीनगर से लगभग 32 किलोमीटर दूरी पर स्थित है इसके आसपास बड़े-बड़े ऊंचे ऊंचे पर्वत हैं ये झील इन पर्वत पहाड़ों से घिरी हुई है और दिखने में बहुत ही शोभायमान लगती है यह झील भारत में स्वच्छ पानी की सबसे बड़ी झील है.

शंकराचार्य मंदिर- इस मंदिर का निर्माण राजा ललितादित्य ने किया था शंकराचार्य मंदिर कश्मीर के अनंतनाग नामक शहर में स्थित है यह मंदिर बेहद खूबसूरत है और ऊंची पहाड़ी पर स्थित है इस मंदिर को देखकर हर कोई प्रभावित होता है.

बाग बगीचे- जम्मू कश्मीर के शहर श्रीनगर में बहुत सारे बाग-बगीचे स्थित हैं श्रीनगर में निशात बाग़, शालीमार बाग,चश्मे शाही आदि स्थित है जो इस शहर की खूबसूरती दर्शाते हैं इन बगीचों को मुगल काल में बनवाया गया था अकबर के बेटे शाहजहां ने इन्हें बनवाया था.बाग-बगीचों में रंग बिरंगे फूल लगे हुए हैं जिनकी प्रशंसा शब्दों में नहीं की जा सकती यहां पर स्थित गार्डन ऑफ़ लव भी काफी प्रसिद्ध है.

वास्तव में जम्मू-कश्मीर की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है जम्मू कश्मीर के धार्मिक स्थल,झील, तालाब आदि वाकई में प्रशंसनीय हैं श्रद्धालु एक बार इसे देखते हैं तो यहीं पर रम जाना चाहते हैं क्योंकि यह बहुत सुंदर है यह धरती का स्वर्ग है वास्तव में जम्मू कश्मीर की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है.जम्मू कश्मीर में हमें और भी कई सारे धार्मिक स्थल नदियां झील बाग-बगीचे देखने को मिलते हैं जो हर किसी को देखने जाना चाहिए क्योंकि बाकई में इन स्थानों को देखने के बाद ऐसा लगता है कि वास्तव में स्वर्ग धरती पर ही आ गया है.

दोस्तों हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया कश्मीर की सुंदरता पर यह आर्टिकल Dharti ka swarg kashmir essay in hindi कैसा लगा अगर आप चाहें हमारे अगले आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाना है तो हमें सब्सक्राइब जरूर करें और इसे अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें और Facebook पेज लाइक करना ना भूलें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *