कोरोना महामारी के कारण बच्चो की शिक्षा पर प्रभाव पर निबंध Corona mahamari ke karan bacchon ki shiksha par kya prabhav pada essay in hindi

Corona mahamari ke karan bacchon ki shiksha par kya prabhav pada essay in hindi

Corona mahamari – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा पर प्रभाव पर लिखे निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं । तो चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल को पढ़कर कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा पर प्रभाव पर लिखे निबंध के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Corona mahamari ke karan bacchon ki shiksha par kya prabhav pada essay in hindi
Corona mahamari ke karan bacchon ki shiksha par kya prabhav pada essay in hindi

कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा पर प्रभाव के बारे में – कोरोनावायरस के कारण पूरी दुनिया महामारी से जूझ रही है । कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा प्रभावित हुई है क्योंकि कोरोना संक्रमण के कारण पूरे देश के अंदर लॉक डाउन किया गया है जिस लॉक डाउन में सभी स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं । जब स्कूलों को बंद किया गया तब बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं हो सकी है क्योंकि बच्चे को स्कूल से ही शिक्षा प्राप्त होती है । बच्चे के घर के बाद स्कूल ही होता है जहां पर उसका मानसिक संतुलन ठीक होता है क्योंकि स्कूल के माध्यम से ही बच्चा  शिक्षा प्राप्त कर आने वाले भविष्य में अपने जीवन को सफलता की ऊंचाई पर ले जाता है ।

जब कोरोना महामारी के कारण स्कूल बंद कर दिए गए तब बच्चों की शिक्षा का काफी नुकसान हुआ है । कोरोना महामारी के कारण सभी बच्चों को उचित शिक्षा प्राप्त नहीं हो पाई है , सभी बच्चों की शिक्षा अधूरी रह गई है । भारत देश के सभी राज्यों के स्कूलों को बंद करने के बाद सरकार ने भी चिंता व्यक्त की है कि बच्चों की शिक्षा का काफी नुकसान हो रहा है । इसलिए सरकार के द्वारा यह प्रयास किए जा रहे हैं कि बच्चों को ऑनलाइन एजुकेशन के माध्यम शिक्षा दी जाए क्योंकि बच्चे ही आने वाले समय में देश के भविष्य हैं ।

लॉक डाउन , महामारी के कारण बच्चों को शिक्षा नहीं दी जा सकी है । बच्चों को यदि निरंतर शिक्षा से नहीं जोड़ा जाए तो वह शिक्षा के मार्ग से भटक सकते हैं । स्कूल के माध्यम से बच्चों को शिक्षा नहीं दी जाए तो उनका जीवन अंधकार में भटक जाता है । इसी कारण से कोरोना महामारी के कारण सभी बच्चों की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है । जिस नुकसान की पूर्ति करने के लिए भारत देश के सभी राज्यों के द्वारा सभी स्कूलों में ऑनलाइन एजुकेशन प्रारंभ करने पर जोर दिया जा रहा है क्योंकि जब तक कोरोनावायरस पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाता तब तक स्कूलों को पुनः प्रारंभ नहीं किया जा सकता ।

कोरोना संक्रमण का खतरा काफी बढ़ता जा रहा है । बच्चों के स्वास्थ्य को देखते हुए स्कूलों को बंद किया गया है । बच्चों की शिक्षा का नुकसान तो हुआ है लेकिन बच्चों की शिक्षा के नुकसान की भरपाई कैसे की जाए यह चिंता का विषय है । बच्चे को थोड़ा-थोड़ा ज्ञान स्कूल के माध्यम से दिया जाता है जिस ज्ञान को प्राप्त करके वह आगे बढ़ते हैं । कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा काफी प्रभावित हुई है । बच्चों को जो शिक्षा दी गई है वह शिक्षा लॉक डाउन के कारण भूल ना जाएं इसके लिए ऑनलाइन एजुकेशन के माध्यम से शिक्षा दी जा रही है ।

अब बच्चों को फिर से शिक्षित करने की जिम्मेदारी शिक्षकों के ऊपर है । शिक्षक किस तरह से सभी बच्चों की अधूरी छूटी हुई पढ़ाई की भरपाई किस तरह से करेंगे यह  जवाबदारी  उन पर ही है । कुछ घर ऐसे भी थे जिन घरों में बच्चों को उनके माता-पिता के द्वारा पढ़ाई कराई गई थी । उन बच्चों पर स्कूल बंद होने का ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा हैं । सबसे ज्यादा प्रभाव उन बच्चों पर पड़ा जिनके घर वाले शिक्षित नहीं थे । उनके बच्चे कोरोना महामारी के कारण बंद रहे स्कूल से प्रभावित हुए हैं , उनकी शिक्षा प्रभावित हुई है । इसी कारण से सरकार ने ऑनलाइन एजुकेशन प्रारंभ करने का फैसला किया है ।

जिससे कि बच्चों की शिक्षा का नुकसान ना हो । ऑनलाइन एजुकेशन इस समय की मांग है जिसके माध्यम से कई बच्चे शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं । भारत देश ही नहीं बल्कि विदेश भी कोरोना महामारी के कारण प्रभावित हुए हैं । जहां के स्कूल भी प्रभावित हुए हैं और वहां के बच्चों को भी कोरोना महामारी के कारण शिक्षा से दूर रहना पड़ा है ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह बेहतरीन आर्टिकल कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा पर प्रभाव पर निबंध Corona mahamari ke karan bacchon ki shiksha par kya prabhav pada essay in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूलें । दोस्तों  यदि आपको इस लेख में कुछ कमी या गलती नजर आए तो आप हमें कृपया कर उस गलती या कमी के बारे में हमारी ईमेल आईडी पर अवश्य बताएं जिससे कि हम उस गलती को दूर करके यह आर्टिकल आपके समक्ष पुनः प्रस्तुत कर सकें धन्यवाद ।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *