आज का दौर पर निबंध Aaj ka daur essay in hindi

Aaj ka daur essay in hindi

Aaj ka daur – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आज का दौर पर लिखे निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं तो चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल को पढ़कर आज का दौर पर लिखे निबंध के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हैं । 

Aaj ka daur essay in hindi
Aaj ka daur essay in hindi

आज के दौर के बारे मे – आज के दौर में दुनिया बदलती जा रही है । बढ़ती हुई महंगाई और बेरोजगारी आज के दौर की सबसे बड़ी समस्या है जिस समस्या से गरीब परिवार जूझ रहा है । आज के दौर में सभी अपने अपने मतलब के लिए कार्य कर रहे हैं । आज के दौर मे किसी को किसी की फिक्र नहीं है । आज के दौर में भाई भाई पर विश्वास नहीं करता है क्योंकि आज के दौर में सभी लोग अपनी इंसानियत को भूलते जा रहे हैं । लोग मोह माया के जाल में फंस कर इंसानियत को भूलते जा रहे हैं । आज के दौर में कई बदलाव पूरी दुनिया में देखने को मिले हैं ।

एक तरफ पूरी दुनिया सफलता प्राप्त करती जा रही है वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग अपने फायदे के लिए दूसरे का नुकसान करने में नहीं हिचकिचाहते है । आज के दौर में कुछ बच्चे अपने माता पिता का अपमान करने से भी नहीं घबराते है । आज के दौर मे बच्चे अपने माता पिता का सम्मान करना भुल गए है । आज के दौर में व्यक्ति की आवश्यकताएं बढ़ गई है जिन आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए व्यक्ति निरंतर मेहनत करने में लगा है । आज के दौर में प्रदूषण की समस्या बड़ी है क्योंकि जनसंख्या बढ़ने के कारण अधिक मात्रा में प्रदूषण फैल रहा है ।

यह आज के दौर की सबसे बड़ी समस्या है । आज के दौर में शिक्षा का विकास हुआ है । आज के दौर में नई-नई तकनीकों का विकास हुआ है । आज के दौर में कई बीमारियों ने जन्म लिया है जिस बीमारी के चपेट में आकर कई लोगों की जान भी चली गई है । आज के दौर में पैसा कमाना आसान नहीं है । आज के दौर में लोगों की खेलों के प्रति रुचि बढ़ती जा रही है । आज के दौर का मनुष्य कठिनाइयों से नहीं घबराता है । आज के दौर में कुछ परिवारो में आपसी मतभेद बना रहता है । आज के दौर में सभी देश विकसित होते जा रहे हैं ।

आज के दौर में प्रकृति में भी बदलाव आया है । आज के दौर का इंसान टेक्नोलॉजी से जुड़ गया है । आज के दौर में व्यक्ति संकटों से लड़ना सीख गया है । आज के दौर में बेरोजगारी जैसी समस्या का निराकरण करना बहुत ही जरूरी है यदि बेरोजगारी की समस्या का समाधान नहीं किया गया तो आने वाले समय में इसके दुष्प्रभाव देखने को मिलेंगे । आज के दौर में बेरोजगारी बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है घूसखोरी , जमाखोरी । कुछ लोग अपने फायदे के लिए आज के दौर में गरीबों का हक छीन लेते हैं जिससे गरीब अपना जीवन खुशी से नहीं बिता पाते हैं ।

जो लोग आज के दौर में गरीबों का हक छीन कर अपना जीवन व्यतीत करते हैं वह अपनी इंसानियत को पूरी तरह से भूल चुके हैं । ऐसे लोग ना तो समाज के लिए ठीक होते हैं और ना ही देश के लिए । आज के दौर में सरकार निरंतर यह प्रयास कर रही है कि गरीबों की मदद की जाए जिससे कि गरीब भी एक सफल व्यक्ति बन सके । आज के दौर में शिक्षा को बड़ा महत्व दिया जा रहा है । इसीलिए विश्व के सभी देशों का यह प्रयास रहा है कि देश के विकास के लिए देश के युवाओं को शिक्षित करना जरूरी है ।

आज के दौर में पढ़े लिखे , डिग्री प्राप्त कर कई व्यक्ति घूम रहे हैं परंतु  बेरोजगारी की बेड़ियां उनके पैरों में पड़ी हुई है । आज के दौर में बड़ी-बड़ी कंपनियों में नौकरियां नहीं निकल रही है । आज के दौर में व्यक्ति नौकरी की तलाश में इधर उधर भटक रहा है । आज के दौर में सरकार भी बेरोजगारी की समस्या को खत्म नहीं कर पा रही है । आज के दौर में पेट्रोल डीजल के दाम  इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं की आम इंसान पेट्रोल डीजल से चलने वाले वाहनों का उपयोग नहीं कर पा रहा है । आज के दौर में सरकारी डिपार्टमेंट में कुछ अधिकारी रिश्वत लेने से भी नहीं डरते  हैं । आज के दौर में व्यक्ति ना जाने क्यों अपनी मानवता को भूलता जा रहा है ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह बेहतरीन आर्टिकल आज का दौर पर निबंध Aaj ka daur essay in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूले । दोस्तों यदि आपको इस आर्टिकल में कुछ कमी नजर आए तो आप हमें कृपया कर उस कमी के बारे में हमारी ईमेल आईडी पर अवश्य बताएं जिससे कि हम उस कमी को दूर करके यह आर्टिकल आपके समक्ष पुनः प्रस्तुत कर सके धन्यवाद ।।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *