जोकर पर निबंध Joker essay in hindi

Joker essay in hindi

Joker – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से दुनिया को हंसाने वाले जोकर के बारे में बताने जा रहे हैं । चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और जोकर पर लिखे निबंध को पढ़कर जोकर के बारे में जानते हैं ।

Joker essay in hindi
Joker essay in hindi

जोकर के बारे में – जोकर पूरी दुनिया में फेमस है । जोकर की प्रशंसा पूरी दुनिया में की जाती है । जोकर हंसी का पात्र है । लोगों को हंसाना जोकर का सबसे बड़ा काम है । जोकर अपने गम को छुपा कर लोगों को हंसाने का काम करता है । जोकर को अंग्रेजी भाषा में क्लाउन कहते हैं । जो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है । जोकर अपने चेहरे पर मेकअप लगाकर , सुंदर-सुंदर वस्त्र पहनकर सर्कस में काम करते हैं और सर्कस देखने वाले लोगों का मनोरंजन करते हैं । जोकर प्राचीन समय से ही दर्शनीय रहे हैं ।

जोकर की कला , जोकर के बोले गए शब्द से हम सभी हंसते हैं । छोटे-छोटे बच्चों को जोकर बहुत पसंद आता है । प्राचीन समय से ही जोकर पूरी दुनिया में लोगों को हंसाते रहे हैं । जब हम सर्कस देखने जाते हैं तब जोकर के कपड़े , जोकर की सुंदरता , जोकर के द्वारा बोले गए शब्द हम सभी को अच्छे लगते हैं । जोकर की कला का प्रदर्शन हर कोई व्यक्ति नहीं कर सकता है । जोकर का किरदार सिर्फ वह व्यक्ति निभा सकता है जो वाकई में दूसरों को हंसा सकता है । ऐसा लगता है मानो भगवान ने मनुष्य को हंसाने के लिए जोकर की उत्पत्ति की हो ।

जोकर ही है जो दुखी आदमी को  हंसा सकता है । जब किसी व्यक्ति को दुख  या  पीड़ा हो तब  जोकर ही उस व्यक्ति का ध्यान अपनी ओर केंद्रित करके हंसाता है । जीवन में हंसना बहुत जरूरी है । हंसने से हमारा शरीर पॉजिटिव एनर्जी प्राप्त करता है , हंसने से एक उर्जा हमारे अंदर आती है जिससे हमें बहुत अच्छा लगता है । जोकर सबको हंसाने का काम करता है और वह इस बात की चिंता नहीं करता है कि लोग उस पर हसेगें । पूरी दुनिया में जोकर को पसंद किया जाता हैं ।

जो भी व्यक्ति जोकर का किरदार निभाता है वह व्यक्ति कभी भी दूसरे व्यक्ति से घृणा नही करता है क्योंकि उसका काम ही लोगों को हंसाना है ।

जोकर के रहन सहन के बारे में – जोकर एक आम इंसान की तरह नहीं दिखाई देता है । वह आम इंसान से अलग दिखाई देता है । वह रंग-बिरंगे कपड़े पहनता है जिससे कि बच्चे जोकर के कपड़े को देखकर हंसें । जोकर लंबे लंबे जूते पैरों में पहनकर जादू दिखा कर , अच्छी-अच्छी हंसी मजेदार बातें कहकर हम सभी को हंसाता  है । जोकर अपने चेहरे पर मेकअप लगाकर लोगों के सामने आता है जिससे कि लोग उसके चेहरे को देखकर हंसेे । मैजिक ट्रिक्स के द्वारा जोकर हम सभी को हंसाता है । जोकर की जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है ।

पूरी दुनिया में हजारों लाखों की संख्या में जोकर है । जो सर्कस में काम करते हैं और हम सभी को हंसाते हैं । जोकर भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मौजूद हैं जो अपने पहनावे , अपने रहन-सहन , बातचीत के माध्यम से लोगों को हंसाने का काम करते हैं ।

पूरी दुनिया के प्रसिद्ध जोकरो के बारे में – पूरी दुनिया में कई प्रसिद्ध जोकर हैं जिन्होंने अपनी कला से पूरी दुनिया को हंसाया है । सन 1963 को रोनाल्ड मैकडोनाल्ड को दुनिया का सबसे प्रसिद्ध जोकर घोषित किया गया था क्योंकि रोनाल्ड मैकडोनाल्ड ने सर्कस में काम करके लोगों को खूब हंसाया था । पूरी दुनिया में रोनाल्ड मैकडोनाल्ड के चर्चे हुए हैं । जब किसी सर्कस में रोनाल्ड मैकडोनाल्ड अपनी कला दिखाता था तब काफी दर्शक मैकडोनाल्ड के खेल को देखने के लिए आते थे और हंस हंस के अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते थे ।

रोनाल्ड मैकडोनाल्ड की जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है ।एक जोकर के किरदार को आम इंसान नहीं निभा सकता है । सिर्फ जोकर है जो सभी को हंसा सकता है । रोनाल्ड मैकडोनाल्ड के अंदर लोगों को हंसाने की काबिलियत थी और पूरी दुनिया को हंसा कर रोनाल्ड डोनाल्ड ने यह साबित कर दिया था कि दुनिया में हंसी से आनंद प्राप्त किया जा सकता है । जब रोनाल्ड मैकडोनाल्ड जोकर का किरदार निभाता है तब रोनाल्ड मैकडोनाल्ड को बड़ा ही आनंद आता था । रोनाल्ड मैकडोनाल्ड पैसा कमाने के उद्देश्य से जोकर नहीं बना था ।

रोनाल्ड मैकडोनाल्ड का जोकर बनने का सिर्फ एक ही उद्देश्य था वह उद्देश्य सिर्फ दूसरों को खुश करना था । इसी उद्देश्य से रोनाल्ड मैकडोनाल्ड सर्कस में काम किया करता था । सर्कस के बाद कई छोटे-छोटे बच्चों एवं दुखी व्यक्तियों को हंसाने का काम रोनाल्ड मैकडोनाल्ड करता था । इसलिए रोनाल्ड मैकडोनाल्ड को दुनिया का सबसे प्रसिद्ध जोकर घोषित किया गया है । रोनाल्ड डोनाल्ड के बाद मिस्टर बीन भी एक प्रसिद्ध जोकर था जिसने अपनी बातों एवं अपनी कला से लाखों व्यक्तियों को हंसाया है जिसकी जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है ।

मिस्टर बीन दुनिया के हंसमुख जोकर के रूप में पहचाना  जाता हैं । जिसका खेल देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं और अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं । दुनिया में हंसने से खुशी प्राप्त होती है । यह खुशी सबसे ज्यादा हमें जोकर देते हैं ।विश्व के सभी देशों में जोकर होते हैं जो लोगों को हंसाने का काम करते हैं । अपनी नाक पर गोल टीका लगाकर , चेहरे को हंसमुख बनाकर लोगों को हंसाना कोई मामूली बात नहीं है । यह वह व्यक्ति कर सकता है जो दूसरों के खुशी लिए कुछ भी कर सकता है , जो दूसरे को खुश देख कर अपने आप में खुशी महसूस करता है ।

इसीलिए यह दुनिया के सबसे प्रसिद्ध जोकरो में गिने जाते हैं । जब अमेरिका के द्वारा जोकरो पर रिसर्च किया गया तब अमेरिका देश के सबसे प्रसिद्ध किक्री को सन 2012 में अब तक का सबसे पुराना एवं प्रसिद्ध जोकर घोषित किया गया था । यदि हम किक्री के आज के बारे में बात करें तो वह अपनी 95 की उम्र में भी जोकर का मजेदार किरदार निभाते रहे हैं । किक्री जब सर्कस में जाता था तब काफी लोग किक्री को देखकर हंसते रहते थे क्योंकि वह अपनी मेकअप के माध्यम से , अपने कपड़ों के माध्यम से लोगों को हंसाना प्रारंभ करता था ।

जब तक वह लोगों के सामने रहते हैं तब तक सभी लोग हंसते रहते हैं । उनकी बातों को सुनकर सभी को हंसी आती है । इसीलिए सबसे प्रसिद्ध जोकरो में इनका नाम लिया जाता है । दुनिया के सबसे प्रसिद्ध जोकर किक्री ने इंटरनेशनल अवार्ड भी जीता है । जब किक्री को इंटरनेशन अवार्ड मिला तब उनको बहुत खुशी हुई थी क्योंकि जोकर के लिए यह सबसे बड़ा अवार्ड था जिस अवार्ड को पाने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है । किक्री की मेहनत और लगन को देखते हुए किक्री को इंंटरनेशनल अवार्ड देने का फैसला किया गया था । जिसके बाद  किक्री को दुनिया का सबसे प्रसिद्ध जोकर मान लिया गया था ।

विश्व के सबसे प्रसिद्ध एवं पुराने क्लाउन सोसाइटी के बारे में – विश्व की सबसे पुरानी जोकर सोसाइटी है । जिसे इंटरनेशनल क्लाउन सोसाइटी कहा जाता है । यह सोसाइटी जोकरो को ट्रेनिंग देने का काम करती है । क्लाउन सोसाइटी की स्थापना 1947 में की गई थी क्योंकि पूरी दुनिया में जोकरो की महत्वता को परखा गया था । जब जोकर ने अपने करतब से लोगों को हंसाना प्रारंभ किया तब से पूरी दुनिया में जोकर प्रसिद्ध हो गए हैं । जोकर का खेल देखने के लिए लाखों लोग सर्कस में जाते हैं और अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं ।

विश्व की सबसे पुरानी जोकर सोसाइटी क्लाउन सोसाइटी की स्थापना करने का सिर्फ एक ही उद्देश्य था और वह उद्देश्य जोकर की उत्पत्ति को बरकरार रखना था । यह सबसे बड़ी क्लाउन सोसाइटी थी जहां पर हजारों की संख्या में जोकर ट्रेनिंग लेकर सर्कस में काम करते हैं । सर्कस में जोकर बनके लोगों को हंसाना एक मामूली काम नहीं है ।लोगों को हंसाने के लिए जोकर की परफेक्ट ट्रेनिंग लेनी होती है । ट्रेनिंग लेने के बाद सर्कस में काम करके लोगों को जोकर हंसाते हैं और लोगों को खुशी देते हैं ।

भारत में मनाए गए क्लाउन फेस्टिवल के बारे में – जिस तरह से हम सभी अपने जीवन में आनंद प्राप्त करना चाहते हैं ठीक उसी तरह से जोकर का काम लोगों को खुशी देना होता है । जोकर कभी भी अपने आपके लिए काम नहीं करता है वह लोगों को खुशी देने के लिए काम करता है । दुनिया में जोकर की महत्वता को देखते हुए क्लाउन फेस्टिवल मनाने का फैसला किया गया था ।अमेरिका में प्रतिवर्ष क्लाउन फेस्टिवल बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है । जब अमेरिका में क्लाउन फेस्टिवल मनाने का फैसला लिया गया था तब काफी लोग उस फेस्टिवल को देखने के लिए उत्साहित थे ।

जोकर में लोगों की रुचि को  देखकर भारत में भी क्लाउन फेस्टिवल मनाने का फैसला किया गया था और भारत देश में पहली बार सन 2010 में क्लाउन फेस्टिवल बड़े ही धूमधाम से मनाया गया था । 2010 के बाद प्रतिवर्ष भारत देश में क्लाउन फेस्टिवल बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है । इस फेस्टिवल को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं और अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं । इंडिया में जब क्लाउन फेस्टिवल मनाया जाता है तब उस फेस्टिवल में भारत के सबसे प्रसिद्ध जोकरो को अवार्ड दिया जाता है ।

जोकर जो निरंतर हम सभी को हंसाने का काम करता है उस जोकर को खुश करना हम सभी का दायित्व है । इसी उद्देश्य से भारत देश में क्लाउन फेस्टिवल मनाने का फैसला किया गया था । यदि हम क्लाउन फेस्टिवल को देखने के लिए जाएं तो हमें पता चलेगा की क्लाउन फेस्टिवल कितनी धूमधाम से मनाया जाता है । अमेरिका में जब क्लाउन फेस्टिवल मनाया जाता है तब दुनिया के सबसे प्रसिद्ध जोकर को अवार्ड देकर सम्मानित किया जाता है ।

जब जोकर अपनी कला शैली से हम सभी को हंसा सकता है तब हमारा भी यह दायित्व बनता है कि हम जोकर को सम्मान देकर उसकी इज्जत करें । इसी उद्देश्य से अमेरिका एवं भारत देश में क्लाउन फेस्टिवल मनाया जाता है । भारत देश में 2010 के बाद से प्रतिवर्ष क्लाउन फेस्टिवल मनाया जाता है जिस फेस्टिवल को देखने की रुचि भारत के लोग लेते हैं और क्लाउन फेस्टिवल को देखने के लिए आते हैं । जब क्लाउन फेस्टिवल  की स्टेज पर कई जोकर अपना किरदार दिखाते हैं तब वहां पर आने वाले लोग अपने जीवन में खुशी का अनुभव करते हैं ।

क्लाउन फेस्टिवल में आने वाले लोग हंस-हंसकर पेट पकड़ कर बैठ जाते हैं क्योंकि क्लाउन फेस्टिवल में बड़ा ही आनंद आता है । यदि हम अपने जीवन में आनंद प्राप्त करना चाहते हैं तो हमें क्लाउन फेस्टिवल को देखने के लिए अवश्य जाना चाहिए । क्लाउन फेस्टिवल के कार्यक्रम में जाने से हमें खुशी , आनंद प्राप्त होता है ।

पूरी दुनिया में जोकरो  की घटती हुई संख्या के बारे में – आज हम देख रहे हैं कि हर व्यक्ति सफल इंसान बनने के लिए निरंतर भागदौड़ कर रहा है । किसी व्यक्ति को 1 सेकंड की भी फुर्सत नहीं है । प्राचीन समय में सभी लोग आनंद प्राप्त करने के लिए तत्पर रहते थे ना जाने यह दुनिया कहां खोती जा रही है । जोकरो की घटती हुई संख्या यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि जोकर ही एक ऐसा व्यक्ति है जो पूरी दुनिया को हंसा सकता है परंतु आज जोकरो की घटती हुई संख्या चिंता का विषय बन गई है । 2004 में जब एक सर्वे कराया गया तब यह पता चला कि जोकरो की सदस्यता में बहुत ही गिरावट आई है जो गिरावट 3500 से घटकर 2500 पर आ गई है ।

यह चिंता का सबसे बड़ा विषय है क्योंकि जोकरों की घटती हुई संख्या यह बता रही है कि कोई भी व्यक्ति जोकर बनना नहीं चाहता है । जोकर बनकर लोगों को हंसाना कोई आसान काम नहीं है । इस काम को करने के लिए बहुत हिम्मत की आवश्यकता होती है । परंतु यह हिम्मत आज की पीढ़ी नहीं दिखा पा रही है । अमेरिका में जोकरो की कमी है । अमेरिका में जोकरो की कमी को पूरा करने के लिए लोगों को जोकर बनने के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है ।

बड़े-बड़े सर्कस जो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है उन सर्कसो मे जोकर बनकर किस तरह से लोगों को हंसाना है यह सिखाया जाता है । जहां पर कई लोग जोकर बनने की ट्रेनिंग लेकर सर्कस में काम करके लाखों रुपए कमा रहे हैं । हम आज की पीढ़ी से यदि पूछे की तुम आगे क्या बनना चाहते हो तो सभी लोग यही कहेंगे मैं डॉक्टर बनना चाहता हूं , मैं इंजीनियर बनना चाहता हूं , मैं बिजनेसमैन बनना चाहता हूं , मैं व्यापार करना चाहता हूं परंतु कोई भी व्यक्ति यह नहीं कहेगा कि मैं एक जोकर बनना चाहता हूं , जोकर बनकर मैं पूरी दुनिया को हंसाना चाहता हूं ।

यदि हम जोकर बनके लोगों को हंसा कर अपने जीवन में आनंद प्राप्त करना चाहते हैं तो हमें जोकर अवश्य बनना चाहिए । दूसरे को खुशी देकर ही आनंद प्राप्त होता है । डॉक्टर , इंजीनियर तो सभी बनना चाहते हैं यदि हम अपने जीवन में कुछ अलग करना चाहते हैं तो एक जोकर बनने का निर्णय लेना चाहिए क्योंकि यह निर्णय अपने लिए नहीं लिया जाता यह निर्णय दूसरों को खुशी देने के लिए लिया जाता है । जोकर बनने का निर्णय साधारण व्यक्ति नहीं ले पाता है । जोकर बनने का निर्णय वह व्यक्ति लेता है जो निडर होता है ।

जोकर कभी भी यह नहीं सोचता है कि सामने वाला व्यक्ति उसके बारे में क्या सोचता है । जोकर का सिर्फ एक ही उद्देश्य होता है कि लोगों को हंसाना और वह पूरी मेहनत और लगन से पूरी दुनिया को हंसाने में कामयाब हुआ है । जोकर की महत्वता को देखते हुए जोकर के ऊपर कई प्रसिद्ध फिल्में भी बनाई गई हैं । जिन फिल्मों को देखकर काफी लोग अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं । पूरी दुनिया में घटती हुई जोकर की संख्या को कम करने के लिए नई पीढ़ी को आगे आना होगा और जोकर बनकर अपने कैरियर को आगे बढ़ाना होगा तब जाकर के जोकरो की घटती हुई संख्या को रोका जा सकता है ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह बेहतरीन लेख जोकर पर निबंध Joker essay in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तो एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूलें धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *