शिमला की यात्रा पर निबंध Essay on shimla trip in hindi

Essay on shimla trip in hindi

Shimla trip – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से शिमला की यात्रा पर लिखे निबंध के बारे में बताने जा रहे हैं । तो चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस आर्टिकल को पढ़कर शिमला की यात्रा पर लिखे निबंध के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Essay on shimla trip in hindi
Essay on shimla trip in hindi

शिमला की यात्रा के बारे में – दोस्तों मैं आपको आज मेरी शिमला यात्रा के बारे में बताने जा रहा हूं । जब मैं टीवी में शिमला के सुंदर-सुंदर पर्यटन स्थलों को देखता था तब मैं अपने जीवन में बड़ा आनंद प्राप्त करता था । मेरी इच्छा शिमला घूमने की होती थी । एक बार मैंने अपने सभी मित्रों को अपने घर पर बुलाया और सभी से मैंने शिमला घूमने की बात कही थी । मैंने सभी को शिमला के सुंदर-सुंदर पर्यटन स्थलों के बारे में बताया था । मेरी बातों को सुनकर मेरे सभी मित्रों ने शिमला जाने का विचार बना लिया था । इसके बाद सभी ने शिमला जाने का विचार बनाया और सभी ट्रेन के माध्यम से शिमला की यात्रा प्रारंभ करने के लिए तैयार हो चुके थे ।

ट्रेन के माध्यम से हम सभी मित्र इंजॉय करते हुए शिमला पहुंचे थे । जब हम सभी मित्र शिमला पहुंचे तब रात हो चुकी थी और हम थक भी गए थे । शिमला के स्टेशन से हम अपने होटल जाने के लिए तैयार थे । जब हमने एक ऑटो ड्राइवर से होटल जाने के रास्ते के बारे में पूछा तब उस ड्राइवर ने यह बताया कि जहां पर तुम्हारा होटल है वहां पर किसी तरह का कोई भी साधन नहीं चलता है । आपको पैदल ही जाना पड़ेगा । हम सभी स्टेशन से होटल की ओर माल रोड होते हुए पैदल पहुंचे थे । टोटल पहुंचने के बाद हम बहुत थक चुके थे क्योंकि स्टेशन से जहां हमारा होटल था वहां पर पहुंचने में हमें बहुत समय लग चुका था । हम बहुत जोर से थक चुके थे ।

हम सभी मित्रों ने होटल में जाकर स्नान करके खाना खाया था । इसके बाद हम सभी लोग सो गए थे । इसके बाद जब सुबह हुई तब हम सभी उठ कर  स्नान करके शिमला की यात्रा करने के लिए तैयार थे । हम सभी ने सबसे पहले एक गाड़ी बुकिंग की थी जिस गाड़ी के माध्यम से हम शिमला की यात्रा करने वाले थे । सबसे पहले हम लक्कड़ बाजार पहुंचे थे । जहां की सुंदरता को देख कर हम अपने जीवन में आनंद प्राप्त कर रहे थे । लक्कड़ बाजार में सुंदर-सुंदर लकड़ियों के बने सामान बिकते हैं जिसकी सुंदरता देखने के लायक है । हम लक्कड़ बाजार से होते हुए रिज पहुंचे थे ।

रिज की सुंदरता वाकई में देखने के लायक है । रिज मे एक चर्च भी है जहां पर हम घूमने के लिए गए थे । उसके बाद हम स्कैंडल प्वाइंट पर पहुंचे थे । जहां की सुंदरता के चर्चे हमने पहले से सुने हुए थे । जब हम वहां पर पहुंचे तब स्कैंडल प्वाइंट की सुंदरता को देखकर अपने जीवन में आनंद प्राप्त कर रहे थे । इसके बाद हम बाईसरिगल लोज को देखने के लिए भी गए थे जिसकी हमने पहले खूब तारीफ सुनी थी । इसके बाद हम सभी कुफरी भी घूमने के लिए गए थे । कुफरी में हम सभी ने घोड़े की सवारी की थी ।  जब हम घोड़े की सवारी कर रहे थे तब हमें बड़ा आनंद आ रहा था ।

इसके बाद हम जाखू मंदिर पहुंचे थे क्योंकि भारत देश का यह सबसे प्राचीन मंदिर है जिसकी सुंदरता के चर्चे काफी किए जाते हैं । जाखू मंदिर की सुंदरता के चर्चे पहले ही हम सुन चुके थे । जाखू मंदिर के दर्शन करने के बाद हम अपने जीवन में आनंद प्राप्त कर रहे थे क्योंकि हमें जाखू मंदिर देखने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था । जब हम जाखू मंदिर पहुंचे तब वहां की सुंदरता देखकर हमें बड़ा आनंद आ रहा था । जाखू मंदिर पर काफी भीड़ थी क्योंकि उस दिन मंगलवार का दिन था और काफी लोग हनुमान जी के दर्शनों के लिए वहां पर आए हुए थे ।

जाखू मंदिर पर हम तकरीबन 4 से 5 घंटे तक रुके थे । इसके बाद हम संकट मोचन मंदिर के दर्शनों के लिए भी गए हुए थे । संकट मोचन मंदिर पर भी काफी भीड़ थी । वहां पर हम सभी ने हनुमान जी के दर्शन किए थे । इसके बाद हम सभी को जोर से भूख लग रही थी तो हम सभी ने वहां पर स्थित होटल में खाना खाने का प्लान बनाया था । इसके बाद हम सभी ने होटल में खाना खाया था । खाना खा कर अब हम आगे की यात्रा करने के लिए तैयार थे । इसके बाद हम शिमला के पहाड़ी इलाकों पर भी घूमने के लिए गए थे ।

जब हम शिमला के पहाड़ी इलाकों पर पहुंचे तब हमें ठंड  महसूस होने लगी थी क्योंकि बर्फीला इलाका होने के कारण वहां का टेंपरेचर काफी कम हो गया था । हम सभी ने गर्म कपड़े पहन लिए थे क्योंकि हमें पता था की शिमला में अधिक ठंड होती है । इसलिए हम गर्म कपड़े  रख कर ले गए थे ।  जब हम शिमला के बर्फीले इलाकों में पहुंचे तब हम अपने जीवन में आनंद प्राप्त कर रहे थे । बर्फीले इलाके में हमारे साथ साथ कई ऐसे पर्यटक थे जो अपनी फैमिली के साथ बर्फीली इलाके में घूमकर आनंद प्राप्त कर रहे थे ।

उसी समय मैंने यह विचार बनाया कि मैं अगली बार अपनी पूरी फैमिली के साथ में घूमने के लिए अवश्य आऊंगा और अपने परिवार के साथ घूम कर बहुत इंजॉय करूंगा । इस तरह से हम सभी मित्रों ने शिमला घुमा और शिमला घूमने के बाद हम सभी ट्रेन के माध्यम से घर पर वापस आ गए थे ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह जबरदस्त लेख शिमला की यात्रा पर निबंध Essay on shimla trip in hindi यदि आपको पसंद आए तो आप सब्सक्राइब अवश्य करें । दोस्तों यदि आपको इस लेख में किसी तरह की कोई कमी नजर आए तो आप हमें उस कमी के बारे में बताएं जिससे कि हम उस कमी को पूरी कर सकें धन्यवाद ।

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *