कोरोना एक वैश्विक संकट पर निबंध Essay on korona ek vaishvik sankat in hindi

Essay on korona ek vaishvik sankat in hindi

दोस्तों आज हम पढ़ेंगे कोरोनावायरस पर हमारे द्वारा लिखे इस निबंध को तो चलिए पढ़ते हैं आज के इस निबंध को

Coronavirus se bachne ke upay par notes in hindi

हमारी इस प्यारी सी दुनिया में कई तरह के संकट आते हैं इस दुनिया में हमने कई तरह के युद्ध, कई तरह के हमलों के बारे में सुना है जिससे देश और दुनिया को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ा है। जब भी हमारे भारत देश पर कोई संकट आता है तो हमारे आर्मी ऑफिसर अपने देश की सरहद पर अपने परिवार से दूर खड़े रहते हैं सिर्फ अपने देश की सुरक्षा के लिए वह सिर्फ अपने देश को बचाना चाहते हैं।

आज इस पूरी दुनिया में कोरोना का संक्रमण है यह कोरोना किसी सड़क पर खड़े होकर लड़ाई करके हमसे दूर नहीं हो सकता बल्कि यह कोरोना संकट यदि दूर हो सकता है तो सिर्फ और सिर्फ घरों में रहकर।आज हम देखें तो कोरोना की इस वैश्विक संकट से पूरा विश्व जूझ रहा है। चीन से शुरू हुआ यह कोरोनावायरस आज कई सारे देशों में धीरे-धीरे फैलता जा रहा है। चीन और इटली जैसे देश इस समय बेहद ही गंभीर स्थिति में है। इटली में आजकल 600 या 700 लोग रोजाना मर रहे हैं वहां पर इस बीमारी से पीड़ित मरीजों के इलाज के लिए भी जगह कम पड़ रही है।

लोग अपने मृतक परिजनों से भी नहीं मिल पा रहे हैं इस वैश्विक महामारी से पूरी दुनिया जूझ रही है। हमारे भारत देश में भी स्थिति धीरे-धीरे काफी गंभीर होती दिख रही है इसी की स्थिति को देखकर हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 24 मार्च को 12:00 बजे से पूरे भारत देश को लोक डाउन करने का आदेश दिया। इससे जरूर ही कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या कम होगी लेकिन वास्तव में यदि इस कोरोनावायरस से हमें अपने परिवार वालों को भी बचाना है तो हम सभी को इसका पूर्णता पालन करना होगा इस वैश्विक महामारी के समय कई ऐसे लोग हैं जो शाम के समय मौका देख कर अपने घर से बाहर निकल कर आस पड़ोस वाले, जान पहचान वालों, दोस्तों आदि से छुपकर मिलते हैं

ऐसे लोग अपना ही नहीं अपने पूरे परिवार का और अपने देश को बहुत बड़े संकट में डालते हैं। हमें प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के लॉक डाउन के आदेश का पालन करना चाहिए और समझना चाहिए कि यह एक ऐसी बीमारी है जिसको रोकने के लिए यदि हमने प्रयास नहीं किया, यदि हम इसी तरह से बेवकूवो की तरह निडर होकर घूमने लगे तो जरूर ही यह संकट हम सबके परिवार के लिए खतरनाक हो सकता है।

यदि हम अपने घरों में रहकर इस कोरोनावायरस के संकट से अपने देश को बचा सकते हैं तो हमें यह करना चाहिए। यदि हम यह नहीं कर पा रहे हैं तो हमें देश के नागरिक कहने का कोई भी अधिकार नहीं है। हमें कोरोना वैश्विक महामारी से यदि कोई बचा सकता है तो घर में रहकर सिर्फ और सिर्फ हम ही बचा सकते हैं। हम अपने आपको अपने परिवार वालों को और अपने पूरे देश को बचा सकते हैं, यह कोरोनावायरस की महामारी बहुत ही तेजी से फैल रही है

इस कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 67 दिनों में लगभग एक लाख तक पहुंची थी लेकिन 200000 तक पहुंचने में इसे केवल 11 दिन लगे थे इससे अगले तीन लाख तक पहुंचने में इसे केवल 4 दिन लगे थे इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि कितनी बड़ी ब्याधि हमारे देश में आ चुकी है। हम सभी को सरकार के दिए गए निर्देशों का पालन करना चाहिए और अपने देश के प्रति अपने परिवार वालों के प्रति और अपने खुद के प्रति अपने कर्तव्य को निभाना चाहिए।

यहां हम कोरोना वायरस से बचने के कुछ उपाय बता रहे हैं आप इन्हें जरूर पढ़ें

coronavirus se kaise bache essay in hindi

कोरोना वायरस से बचने के लिए हमें निम्नलिखित कुछ उपाय करने चाहिए

यदि आप कोरोना बाइरस से बचना चाहते हैं तो आपको चाहिए कि आप सरकार के द्वारा बताए गए निर्देशों का पूर्णता पालन करें, आप अपना समय घर पर ही बिताएं

इसके अलावा आपको कुछ समय के अंतराल में अपने हाथ धो लेना है क्योंकि हम कई ऐसी चीजों से भी हाथ लगा सकते हैं जो कोरोना से संक्रमित है। हाथ धोने से हम उस वायरस के संक्रमण से बच सकते हैं।

हमें चाहिए कि हम घर की साफ सफाई का विशेष कर ध्यान दें जिससे हम कोरोना के खतरे से बच सकें। अगर किसी एमरजेंसी में या घर का सामान खरीदते समय हमें घर से जाना पड़े तो मास्क लगाकर ही जाना चाहिए और गलती से भी किसी के गले नहीं लगना चाहिए और ना ही किसी से हाथ मिलाना चाहिए।

हमें सर्दी खांसी की शिकायत है तो अपने परिवार के सदस्यों से दूर ही रहना चाहिए इससे आप अपने परिवार को सुरक्षित रख पाएंगे। आप कोरोना वायरस के बारे में जागरूक करने वाली बातें अपने दोस्तों को भी शेयर कर सकते हैं।

दोस्तों मेरे द्वारा लिखा कोरोना एक वैश्विक संकट पर निबंध आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं इसी तरह के बेहतरीन आर्टिकल को पाने के लिए हमें सब्सक्राइब करना ना भूलें।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *