भूतनाथ मंदिर कोलकाता हिस्ट्री Bhootnath mandir kolkata history in hindi

Bhootnath mandir kolkata history in hindi

Bhootnath mandir – दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित कोलकाता का प्रसिद्ध मंदिर बाबा भूतनाथ मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं । चलिए अब हम आगे बढ़ते हैं और इस जबरदस्त आर्टिकल को पढ़कर बाबा भूतनाथ मंदिर के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं ।

Bhootnath mandir kolkata history in hindi
Bhootnath mandir kolkata history in hindi

Image source – https://en.m.wikipedia.org/wiki/File:Bhootnath_temple_02.jpg

बाबा भूतनाथ मंदिर के बारे में – बाबा भूतनाथ मंदिर कोलकाता शहर में स्थित है । यह सबसे सुंदर और सबसे पुराना मंदिर है । इस मंदिर से कई लोगों की आस्था जुड़ी हुई है । इस मंदिर के निर्माण के बारे में ऐसा कहा जाता है कि इस मंदिर का निर्माण 1527 ईस्वी के दौरान राजा अजबर सेन के द्वारा कराया गया था । जब राजा अजबर सेन ने यह विचार कर लिया था कि यहां पर बाबा भूतनाथ जी का सबसे सुंदर और अद्भुत मंदिर बनाना है तब वह उस मंदिर को बनाने में जुट गए थे ।  राजा अजबर सेन ने यह मंदिर ब्यास नदी के पार बनवाने का निर्णय किया था और इसी सोच के साथ राजा अजबर सेन ने इस मंदिर के निर्माण कार्य को प्रारंभ कर दिया था ।

इस मंदिर के निर्माण के बारे में यह भी कहा जाता है कि प्राचीन समय में जहां पर आज जो मंदिर स्थित है वहां पर एक जंगल था । जिस जंगल में आसपास के इलाकों के सभी जानवर चरने के लिए जाते थे । इस मंदिर के निर्माण के बारे में ऐसा भी कहा जाता था कि प्राचीन समय में जब आसपास की गाय उस जंगल में चरने के लिए जाती थी तब उनके थनो से दूध की धारा बहने लगती थी । जब इस घटना का पता राजा को  चला तो उसने वहां पर जाकर निरीक्षण करने का विचार किया था ।

जब राजा वहां पर पहुंचा तब उसने उस जगह की खुदाई करवाने का विचार बनाया और अपने सभी सैनिकों से वहां पर खुदाई करवाई थी । जिस खुदाई में उस जगह पर भगवान भोलेनाथ की शिवलिंग प्रकट हुई थी ।  राजा ने शिवलिंग को बाहर निकलवाई और उस शिवलिंग को दूध से स्नान कराया था । इसी के साथ में राजा ने वहां पर भव्य मंदिर के निर्माण कार्य प्रारंभ करा दिया था । जब मंदिर का निर्माण कार्य पूरा हो गया था तब राजा के द्वारा वह शिवलिंग उस मंदिर में स्थापित करा दी गई थी ।

जब मंदिर की स्थापना हुई तब राजा ने वहां पर शिव जी का अभिषेक करवाया और पूजा पाठ के साथ उस मंदिर का शुभारंभ कराया था । इसी के साथ वहां पर लोगों का जमावड़ा लगने लगा  और सभी लोगों की आस्था कोलकाता के प्रसिद्ध मंदिर बाबा भूतनाथ मंदिर से जुड़ गई थी ।  दूर-दूर से भक्तगण वहां पर आते हैं और बाबा भूतनाथ मंदिर में जाकर भूतनाथ बाबा के दर्शन करके अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं ।

कोलकाता का प्रसिद्ध बाबा भूतनाथ मंदिर की यात्रा के बारे में – जो भी भक्त कोलकाता के बाबा भूतनाथ मंदिर के दर्शनों के लिए जाता  है वह पूरी श्रद्धा भावना के साथ मंदिर के दर्शनों के लिए जाता है । सबसे पहले बाबा भूतनाथ के मंदिर पर पहुंचने के लिए बांधाघाट लांच घाट से यात्रा प्रारंभ करनी होती है । इस मंदिर की यात्रा तब प्रारंभ होती है जब हम गंगा नदी पर सफर करना प्रारंभ कर देते हैं । इसी के साथ हम यात्रा करते हुए बाबा भूतनाथ मंदिर पर पहुंच जाते हैं । बाबा भूतनाथ मंदिर के अंदर प्रवेश करने से पहले स्नान किया जाता है ।

स्नान के लिए मंदिर ट्रस्ट के माध्यम से स्नान करने की व्यवस्था भी की गई है । स्नान करने के बाद मंदिर के बाहर जो भी भक्तगण प्रसाद , फूल माला लेना चाहता है वह दुकानों से फूल माला प्रसाद ले सकता है । जब भक्तगण फूल माला प्रसाद लेकर मंदिर के अंदर प्रवेश करता है तब उसे लाइन में लगकर मंदिर के अंदर प्रवेश करना पड़ता है । जब भक्तगण बाबा भूतनाथ मंदिर के अंदर पहुंच जाता है तब वह शिवलिंग के दर्शन करके अपने जीवन में आनंद प्राप्त करता है । मंदिर के अंदर जो शिवलिंग स्थित है वह शिवलिंग शेषनाग की छाया में बैठी हुई है ।

जिसके दर्शनों से सभी भक्तों की मनोकामनाएं पूरी होती हैं । देश के कोने कोने से लोग बाबा भूतनाथ मंदिर के दर्शनों के लिए पहुंचते हैं और आनंद प्राप्त करते हैं । शिवरात्रि के शुभ अवसर पर बाबा भूतनाथ मंदिर पर मेला भी लगता है ।जिस मेले में भक्तों का काफी जमावड़ा दिखाई देता है ।मंदिर ट्रस्ट के माध्यम से शिवरात्रि की तैयारियां 1 महीने पहले से ही कर ली जाती हैं और पूरी व्यवस्थाओं के साथ शिवरात्रि के शुभ अवसर पर बाबा भूतनाथ मंदिर पर मेला लगाया जाता है । कोलकाता में शिवरात्रि के दिन दूर-दूर से आए श्रद्धालु गण दिखाई देते हैं ।

ऐसा लगता है मानो सब लोगों की आस्था , विश्वास का केंद्र बाबा भूतनाथ मंदिर है । इन लोगों ने बाबा भूतनाथ मंदिर के दर्शनों की प्रतिज्ञा ली है और बाबा भूतनाथ सभी के जीवन को खुशियों से भरेंगे । बाबा भूतनाथ मंदिर के दर्शनों के लिए भारत देश से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी कई पर्यटक आते हैं और मंदिरों के दर्शन करके अपने जीवन में आनंद प्राप्त करते हैं ।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखा गया यह जबरदस्त आर्टिकल कोलकाता का प्रसिद्ध बाबा भूतनाथ मंदिर का इतिहास  Bhootnath mandir kolkata history in hindi यदि आपको पसंद आए तो सबसे पहले आप सब्सक्राइब करें इसके बाद अपने दोस्तों एवं रिश्तेदारों में शेयर करना ना भूले धन्यवाद ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *