रेल दुर्घटना पर निबंध Train accident essay in hindi

Train accident essay in hindi

दोस्तों कैसे है आप सभी, दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं रेल दुर्घटना पर हमारे द्वारा लिखित निबंध आप इसे पढ़ें

Train accident essay in hindi
Train accident essay in hindi

हम सभी जानते हैं की रेल आज यातायात का प्रमुख साधन बन गया है। रेल के द्वारा हम एक जगह से दूसरे जगह पर पहुंच पाते हैं और कई सुविधाओं का लाभ उठाते हैं। यदि हमें किसी लंबे सफर में जाना है तो वास्तव में रेल का साधन हमारे लिए बहुत ही लाभप्रद होता है। मैं जब अपने कॉलेज के दिनों में था तब ज्यादातर अपने शहर से अपने घर रेल से ही जाया करता था। मैं हर शनिवार को शाम के समय रेल से जाता था, मैं बहुत ही कम बस से सफर करता था। मेरे साथ मेरे नगर का एक दोस्त भी था हम दोनों एक ही साथ सफर करते थे। एक दिन की बात है कि हम शाम को अपने घर जाने वाले थे तब मैंने अपने दोस्त से रेल से चलने को कहा। मेरे बार-बार कहने पर भी वह मेरी बात नहीं मान रहा था क्योंकि वह बार-बार बस से चलने को कह रहा था आखिर में मुझे उसकी बात मानना ही पड़ी क्योंकि हम बहुत ही अच्छे दोस्त थे, हम हमेशा एक दूसरे के साथ रहते थे। अब हमने बस से अपने घर जाने का निर्णय ले लिया था।

हम बस स्टेशन पर पहुंच गए और वहां पर अपनी बस का इंतजार करने लगे जब बस आई तो हम बस में सवार होकर अपने घर पहुंच गए। घर पर पहुंचने की कुछ ही समय बाद हमने देखा उस शहर से हमारे नगर में आने वाली ट्रेन का अकस्मात ही हमारे नगर में एक्सीडेंट हो गया यह खबर हमारे नगर में एक आग की तरह फैल गई। मैं और मेरा दोस्त अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर हमारे नगर के रेलवे स्टेशन पर जा पहुंचे वहां का जो हमने दृश्य देखा तो हमें काफी डर लगने लगा था क्योंकि यदि मैंने आज अपने दोस्त की बात नहीं मानी होती तो इसी ट्रेन में मैं भी होता और मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही होता है। मैंने देखा रेलवे स्टेशन पर बहुत सारे लोग जमा है पुलिस वाले, पत्रकार आदि उपस्थित हैं, कई सुरक्षाकर्मी भी वहां पर मौजूद थे जो लोगों को रेल के डिब्बों से बाहर निकालने में मदद कर रहे थे। हम जब पहुंचे थे तब हमें रेलवे स्टेशन पर पता चल गया था कि 100 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो चुकी है तभी मरने वालों की गिनती जारी थी लगभग 100 से ज्यादा लोग इस हादसे में मारे गए थे इसके अलावा वहां पर हमने जब चारों तरफ देखा तो कई लोग बुरी तरह चिल्ला रहे हैं, सुरक्षाकर्मी लोगो को ट्रेन के डिब्बे से बाहर निकालने में मदद कर रहे हैं यह हादसा वास्तव में काफी दर्दनाक था।

कई बच्चों की भी मृत्यु हो गई है, एक बच्चा जो वहीं था उसकी मां की मृत्यु हो गई थी वह बहुत ही जोर जोर से चिल्ला रहा था मैंने उसकी मदद की। बहुत सारे लोग उस ट्रेन एक्सीडेंट में घायल हो चुके थे जब रेल का एक्सीडेंट हुआ तभी कुछ ही समय बाद वहां पर प्राथमिक उपचार के लिए डॉक्टर आ चुके थे। प्राथमिक उपचार के बाद घायलों को एम्बुलेंस के द्वारा हॉस्पिटल में भेजा गया और वहां पर उनका उपचार किया गया दरअसल एक्सीडेंट ट्रेनों का एक दूसरों से आपस में भीड़ने के कारण हुआ था यह एक्सीडेंट इतनी तेजी से हुआ था कि आगे वाले 5 डिब्बे एक तरफ खिसक गए थे और वह पूरी तरह से चकनाचूर हो गए थे। बहुत सारे लोगों का तो पता भी नहीं लग पा रहा था कुछ लोग वहीं रेलवे स्टेशन के पास जोर जोर से चिल्ला चिल्लाकर रो रहे थे उनके परिवारजन उस रेल दुर्घटना के शिकार हो गए थे और मारे गए थे। कुछ लोग ऐसे थे इस रेल एक्सीडेंट की वजह से उनके हाथ पैर टूट चुके थे वहां का जो दृश्य था काफी दर्दनाक था। मैं तो अपने बारे में सोच रहा था कि आज अगर मैं इस रेल के द्वारा अपने नगर में आता तो कितना बुरा होता है। आज मैं अपने दोस्त की वजह से सही सलामत हूं।

कुछ समय बाद मै रेल एक्सीडेंट का यह दृश्य देखकर अपने घर चला गया। मैंने सुबह अखबार में पढ़ा कि यह दुर्घटना ड्राइवर की गलती से हुई है वास्तव में रेलवे विभाग को इस ओर विशेष ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि एक किसी की गलती से बेकसूर लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। रेलवे विभाग को और सुरक्षा बरतने की जरूरत है जिससे आने वाले समय में रेल एक्सीडेंट ना हो।

दोस्तों हमारे द्वारा लिखी रेल एक्सीडेंट की दुर्घटना को पढ़ने के बाद आप हमें कमेंटस करके बताएं कि यह लेख Train accident essay in hindi आपको कैसा लगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *