मेरा प्रिय खिलौना गुड़िया पर निबंध mera priya khilona gudiya essay in hindi

mera priya khilona gudiya essay in hindi

मेरा प्रिय खिलौना गुड़िया यह एक हमारे द्वारा लिखित काल्पनिक आर्टिकल है इसे आप पढ़े और इस विषय में अच्छी जानकारी लेकर इस विषय पर निबंध लिख सकते हैं चलिए पढ़ते हैं इस निबंध को।

mera priya khilona gudiya essay in hindi
mera priya khilona gudiya essay in hindi
मैं भारत के ग्रामीण क्षेत्र से हूं मेरी उम्र 8 साल है मुझे खेलना बहुत पसंद है मैं अपनी सहेलियों के साथ तरह तरह के खेल खेलती हूं। मुझे गुड़िया के साथ खेलना बहुत पसंद है यह गुड़िया एक प्लास्टिक का खिलौना है जो कि मेरे चाचा जी ने मेरे जन्मदिन के मौके पर दी थी।यह मुझे बहुत ही पसंद है। मेरी प्लास्टिक की गुड़िया के भूरे बाल हैं वह फ्रॉक पहनती है दिखने में बहुत ही सुंदर लगती है वह मेरा प्रिय खिलौना है। जब भी उसको मैं खड़ी करती हूं तो उसकी आंखें खुल जाती हैं और जब भी मैं उसको लिटाती हूं तो अपने आप ही उसकी आंखें बंद हो जाती हैं मैं अपनी सहेलियों के साथ में मिलकर उस गुड़िया के साथ खेलती हूं वास्तव में मुझे उसके साथ खेलना बहुत पसंद है। मैं मेरी सहेलियों के साथ खेलती हु और मेरी गुड़िया को नए कपड़े और कुछ गहने पहनाती हु जिससे मेरी गुड़िया बहुत ही सुंदर लगने लगती है।

मुझे मेरे जन्मदिन के मौके पर रिश्तेदारों ने बहुत से खिलौने दीऐ जैसे कि कार, हेलीकॉप्टर, ट्रैक्टर, साइकिल और गुड़िया इन सभी खिलौनों में गुड़िया मुझे बहुत ही पसंद आई। मैं अक्सर इस गुड़िया को लेने के लिए अपने पापा से जिद किया करती थी लेकिन मुझे पता नहीं था कि मेरी इच्छा मेरे चाचा पूरी कर देंगे वास्तव में मुझे जब गुड़िया मिली तो मुझे बहुत ही खुशी हुई मैंने अन्य खिलौनों की ओर विशेष ध्यान नहीं दिया मेरी नजर सिर्फ मेरी गुड़िया की ओर थी। मेरा प्रिय खिलौना गुड़िया हमेशा मेरे साथ रहती है मैं जब भी कहीं जाती हूं तो उसको साथ ले जाती हैं हमेशा वह मेरे साथ बिस्तर पर ही रहती है। घर में मेरी मम्मी हमेशा मुझसे कहती है कि तू हमेशा गुड़िया के साथ ही खेलती रहती है लेकिन मैं ज्यादातर उनकी बात को अनदेखा कर देती हूं वह भी फिर मुझसे नहीं कहती क्योंकि वह भी समझती हैं कि मैं मेरी गुड़िया को बहुत ही पसंद करती हूं। गुड़िया मेरा सबसे पसंदीदा खिलौना है मैं हर समय उसके साथ रहना और खेलना पसंद करती हु। कई बार तो मैं अपने स्कूल के बैग में भी अपनी गुड़िया को साथ ले जाती हूं वास्तव में मैं इस प्लास्टिक की गुड़िया के साथ मिलकर अपने जीवन में बहुत खुश हूं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *