मनुष्य पर निबंध Essay on man in hindi

Essay on man in hindi

दोस्तों कैसे हैं आप सभी, दोस्तों आज हम आपके लिए लाए हैं मनुष्य पर लिखित हमारे द्वारा निबंध इस निबंध से आप जानकारी लेकर अपने स्कूलों की परीक्षा में मनुष्य पर निबंध लिख सकते हैं तो चलिए पढ़ते हैं हमारे आज के इस निबंध को

Essay on man in hindi
Essay on man in hindi

जब से इस दुनिया का विकास हुआ है तब से इस दुनिया में बहुत सारे जीव जंतु, पशु पक्षी आदि भी जन्मे हैं इनमें से ही एक है मनुष्य जो कि सबसे अलग है। मनुष्य दुनिया का सबसे बुद्धिमान जीव है पहले से आज तक मनुष्य ने अपनी सोच समझ से काफी कुछ बदल दिया है। पहले के जमाने में जहां मनुष्य गुफाओं में घर बनाकर रहते थे वह अपनी जीविका चलाने के लिए जीव जंतुओं का शिकार करते थे, पत्तियां, फल फूल खाते थे वह कच्चा भोजन करते थे लेकिन बदलते जमाने में मनुष्य में काफी परिवर्तन आने लगा मनुष्य की सूझबूझ बढ़ने लगी उसने आग का आविष्कार किया और वह भोजन पका कर खाने लगा। समय के साथ मनुष्य में और भी कई तरह के परिवर्तन आने लगे मनुष्य ने अपने रहने का स्थान यानी घर भी बना लिया उसने अपनी आवश्यकता अनुसार कई चीजों का आविष्कार किया जो कि उसके लिए बेहद फायदेमंद साबित हुआ। कहते हैं कि मनुष्य की प्रजाति बंदरों से ही विकसित हुई है समय के साथ मनुष्य ने अपने दिमाग से लगातार विकास करना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे मनुष्य आज पूरी तरह को बदल चुका है आज वह इतना होशियार हो चुका है की भले ही वह आज उड़ नहीं सकता लेकिन उसने अपने उड़ने के लिए कई सारे वाहन बना दिए है।

वह तेजी से दौड़ नहीं सकता लेकिन उसने बहुत से वाहन बना दिए जो तेजी से दौड़ सकते हैं। मनुष्य आज प्रगति के सबसे ऊंचे शिखर पर है। मनुष्य ने अपने दिमाग का उचित उपयोग किया इसलिए वह बहुत ही तेजी से विकास करता चला गया और कहते हैं कि हम जिस चीज का भी उपयोग ज्यादा करते हैं उसमें और भी परफेक्ट होते जाते हैं। मनुष्य का दिमाग भी तेज होने लगा आज कंप्यूटर का जमाना है कंप्यूटर कुछ ही सेकंड में हमारा सब कुछ कार्य कर देता है या हमें किसी भी विषय की तुरंत जानकारी दे देता है। कंप्यूटर और इंटरनेट, मोबाइल के जमाने में सब कुछ सुलभ हो गया है यह सब मनुष्य के दिमाग का ही नतीजा है। कंप्यूटर से भी इंटेलिजेंट मनुष्य है क्योंकि एक मनुष्य ने ही इस कंप्यूटर, इंटरनेट का आविष्कार किया है लेकिन बदलते जमाने के साथ जैसे जैसे मनुष्य प्रगति की राह पर बढ़ता गया मनुष्य इन चीजों का उपयोग ज्यादा करने लगा।

आजकल हम देखें तो किसी स्थान पर जाने के लिए मनुष्य वाहनों का उपयोग करता है वह इन वाहनों का इतना ज्यादा उपयोग करता है कि आज वाहनों से निकलने वाले धुएं की वजह से हमारा पूरा वातावरण प्रदूषित हो गया है जिससे कई सारी बीमारियां हमारी इस दुनिया में फैलने लगी और हमारा रहना भी मुश्किल होने लगा। मनुष्य के लिए कई सारे विज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि आने वाले कुछ सालों में मनुष्य का इस पृथ्वी पर रहना भी बहुत मुश्किल होगा उसे रहने के लिए अपने जीवन को यापन करने के लिए किसी अन्य ग्रह पर जाना पड़ेगा। मनुष्य ने अपने द्वारा किए हुए आविष्कारों का कुछ ज्यादा ही या गलत तरह से उपयोग करना शुरू कर दिया और पर्यावरण इस प्रकृति को काफी नुकसान भी हो रहा है। आज मनुष्य इतना आलसी हो चुका है कि वह घर से बाहर निकलने के लिए भी मोटरबाइक जैसे साधनों का उपयोग करता है वह पैदल कम चलता है।

आज का मनुष्य पैसा कमाने की इस अंधाधुंध में ऐसे फँस चुका है कि उसे अपने स्वास्थ्य का ख्याल ही नहीं रहा वह मोबाइल, कंप्यूटर, इंटरनेट का बहुत ज्यादा उपयोग करने लगा है जिससे उसकी सेहत, उसकी आंखों की रोशनी भी कम होती जा रही हैं। विकास की अंधाधुंध में कई तरह की फैक्ट्रियां आज हमारे देश में हैं जो बहुत ही हानिकारक धुंआ छोड़ती हैं। मनुष्य भले ही तेजी से विकास कर रहा है लेकिन विकास के साथ वह अपना एक तरह से नुकसान भी कर रहा है आज इस पूरी दुनिया पर राज केवल मनुष्य का ही है। बहुत सारे जानवर, पशु पक्षी जो कुछ हद तक शारीरिक तौर पर बढ़कर देखे जाते थे लेकिन मनुष्य ने अपने दिमाग के बल पर उनको भी अपने बस में कर लिया है आज वह जानवर मनुष्य के इशारे पर नाचते हुए सर्कस शो में देखने को मिलते हैं। आज मनुष्य विकास की चरम सीमा पर पहुंच गया है वह आगे भी और विकास तेजी से कर रहा है लेकिन मनुष्य को चाहिए कि इन सुख-सुविधाओं का कुछ ज्यादा उपयोग ना करें वरना उसके स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव भी हो सकता है।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया ये आर्टिकल Essay on man in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *