मेरा आदर्श व्यक्ति पर निबंध Essay on mera adarsh vyakti in hindi

Essay on mera adarsh vyakti in hindi

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,आज का हमारा आर्टिकल मेरा आदर्श व्यक्ति पर लिखा गया है यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही हेल्पफुल है. हमारे द्वारा लिखित इस आर्टिकल का उपयोग आप अपने स्कूल,कॉलेज की परीक्षा में एवं जानकारी लेने के लिए पढ़ सकते हैं.हम इस आर्टिकल में एक आदर्श नागरिक के बारे में बताएं साथ में मेरा आदर्श व्यक्ति के बारे में हम जानकारी देंगे तो चलिए पढ़ते हैं आज के इस आर्टिकल को

Essay on mera adarsh vyakti in hindi
Essay on mera adarsh vyakti in hindi

प्रस्तावना

वास्तव में हर एक नागरिक के जीवन में एक आदर्श व्यक्ति होता है जिससे वह प्रेरणा लेता है और बहुत कुछ सीखता है एक आदर्श व्यक्ति में इतने अच्छे गुण होते हैं कि सामने वाला व्यक्ति प्रभावित होकर उसके हर एक गुण को अपनाने लगता है और जीवन में आगे बढ़ता जाता है वास्तव में अगर हम एक आदर्श नागरिक से प्रेरणा लें तो हमारा जीवन भी उसी की तरह परिवर्तित होता जाता है आदर्श व्यक्ति हमारे लिए बहुत ही हेल्पफुल साबित हो सकता है.

आदर्श व्यक्ति के गुण

आदर्श व्यक्ति में ऐसे कई गुण होते हैं जिसकी वजह से वह व्यक्ति आदर्श व्यक्ति बनता है आदर्श व्यक्ति पूर्णता ईमानदार होता है.बहुत से लोग तो ऐसे होते हैं जो अपने खुद के प्रति ईमानदारी नहीं बरत पाते तो वह दूसरों के प्रति या अपनो के प्रति, देश के प्रति ईमानदारी क्या वरतेंगे वास्तव में आदर्श व्यक्ति अपनों के प्रति,अपने कार्य के प्रति, दूसरों के प्रति और पूरे देश के प्रति ईमानदार होते है क्योंकि वास्तव में ईमानदारी ही ऐसा कर्म है जो एक इंसान को आगे बढ़ाता है.
आदर्श व्यक्ति में सत्य बोलने और सत्य के मार्ग पर चलने की प्रवृत्ति होती है आजकल के जमाने में बहुत से लोग झूठ बोलते हैं लेकिन आदर्श व्यक्ति वास्तव में हमेशा सत्य के मार्ग पर चलता है क्योंकि आदर्श नागरिक तो वह होता है जिससे दूसरे प्रेरित होते हैं.
आदर्श व्यक्ति महात्मा गांधी जी की तरह अहिंसा अपनाते है क्योंकि अहिंसा ही एक ऐसा कर्म है जो अच्छे अच्छे कार्य को भी करवा देता है आज हम देखें तो महात्मा गांधी जी ने इस अहिंसा के दम पर देश को आजादी दिला दी और बहुत कुछ किया.

आदर्श व्यक्ति हमेशा समय पर कार्य करता है यह एक आदर्श व्यक्ति की निशानी है.आज हम देखें हैं तो जमाना बदल रहा है लोगो की प्रवृत्ति बदल गई है लोग समय के पाबंद नहीं होते. जब भी उन्हें कहीं जाना होता है है तभी जाते हैं समय के पाबंद नहीं होते वह इंसान जीवन में ज्यादा आगे नहीं बढ़ पाता क्योंकि आदर्श व्यक्ति समय का पूरी तरह पालन करता है वह समय के हर मिनट की कदर करता है और बिल्कुल भी समय बर्बाद नहीं करता वास्तव में आदर्श व्यक्ति में इसी तरह के और भी कई सारे गुण हो सकते हैं जो उसे अच्छा इंसान, आदर्श व्यक्ति बनाते हैं.
एक आदर्श व्यक्ति दूसरों का,बड़ों का सम्मान करता है वह अपने माता पिता का आदर करता है वह कभी भी उन्हें दुख नहीं पहुंचाता.आजकल के बदलते जमाने में बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो बड़े बुजुर्गों या अपने माता पिता गुरु को सम्मान नहीं देते ऐसे लोगों का जीवन नहीं बदलता है.वह जीवन में वास्तव में कुछ नहीं कर पाते और अगर कर भी लेते हैं तो वह सब कुछ पाकर भी जीवन में बहुत ज्यादा दुखी रहते हैं वास्तव में अगर हमें जीवन में सुखी रहना है तो एक आदर्श व्यक्ति बन के दूसरों का सम्मान करना चाहिए तब हमारे पास सब कुछ होगा.

मेरा आदर्श व्यक्ति

मेरे जीवन का आदर्श व्यक्ति महात्मा गांधी जी हैं जो कि हमेशा सत्य के मार्ग पर चड़ते थे उन्होंने अहिंसा के रास्ते पर चलकर देश को आजादी दिलाई और हमेशा सत्य के मार्ग पर चलें.वो समय के पाबंद थे उनके जीवन के वृतांत सुनने पर हमें ज्ञात होता है की वह किसी भी सभा में जाते थे तो समय पर ही पहुंचते थे वो समय का महत्व समझते थे.
महात्मा गांधी जी का जन्म 2 अक्टूबर सन 1869 में हुआ था इनके पिता का नाम करमचंद गांधी एवं माता का नाम पुतलीबाई था उन्होंने देश को स्वतंत्रता दिलवाने में सबसे अहम भूमिका निभाई है उन्होंने अंग्रेजों को देश से भगाने के लिए और अपने देश को स्वतंत्र करवाने के लिए कई सारे आंदोलन किए और जिसका परिणाम यह है कि आज हम हमारे देश में स्वतंत्र हैं वास्तव में महात्मा गांधी अनुशासनप्रिय थे और अनुशासन में रहना पसंद करते थे.

इनमें आदर्श व्यक्ति के सभी गुण थे वह सिर्फ अपने लिए नहीं बल्कि पूरे देश के लिए कार्य करते थे इसलिए ही आज महात्मा गांधी जी की पूजा की जाती है उन्हें सम्मान दिया जाता है वह एक आदर्श व्यक्ति थे . वह संपत्ति का बिल्कुल भी गलत उपयोग नहीं करते थे वह एक ऐसे आदर्श व्यक्ति थे जिनसे अंग्रेज भी काफी प्रभावित रहते थे वह एकदम सादा सिंपल रहने वाले देश प्रेमी थे जिन्हें देखकर अच्छे-अच्छे लोग प्रणाम करने लगते थे.वह एक महान शख्स थे उन्होंने हम सभी के लिए जो कुछ किया है वास्तव में वह प्रशंसनीय है उनमे एक आदर्श व्यक्ति के सारे गुण थे.

आदर्श व्यक्ति के गुणों को अपनाएं

वास्तव में जो आदर्श व्यक्ति के गुण होते हैं हमें उन गुणों को अपने जीवन में अपनाना चाहिए क्योंकि लोग कितनी भी पढ़ाई करें पढ़ाई करने का तब तक कोई प्रमुख उद्देश्य पूरा नहीं हो सकता जब तक एक इंसान आदर्श व्यक्ति ना बने. अगर आप दूसरों का सम्मान करना ही नहीं जानते, अगर आप सत्य ईमानदारी के रास्ते पर चलना नहीं जानते, अगर आप किसी भी लड़ाई को आराम से शांत करना नहीं जानते, अगर आप एक आदर्श व्यक्ति की तरह गरीब, असहायों की मदद करना नहीं जानते तो वास्तव में आप जीवन में कुछ भी नहीं कर सकते. हमें जीवन में आगे बढ़ने के लिए, सफलता पाने के लिए,जीवन में इज्जत पाने के लिए आदर्श व्यक्ति के गुणों को अपनाना चाहिए और अपने जीवन को बदलने की कोशिश करना चाहिए.

उपसंहार

वास्तव में आदर्श व्यक्ति हमारे जीवन के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है हमें एक आदर्श व्यक्ति से वह सारे गुण सीखने चाहिए जो वास्तव में एक मनुष्य के अंदर होना चाहिए एक आदर्श व्यक्ति हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया है ये आर्टिकल Essay on mera adarsh vyakti in hindi पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूले इसे शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Essay on mera adarsh vyakti in hindi कैसा लगा जिससे नए नए आर्टिकल लिखने प्रति हमें प्रोत्साहन मिल सके और इसी तरह के नए-नए आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें जिससे हमारे द्वारा लिखी कोई भी पोस्ट आप पढना भूल ना पाए.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *