जल के महत्व कहानी Story on importance of water in our life in hindi

Story on importance of water in our life in hindi

दोस्तों जैसे कि हम सभी जानते हैं कि पानी हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण है इसके बगैर हमारा जीवन संभव नहीं है आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी सुनाने वाले हैं जिसे पढ़कर आप जरूर ही इस जल के महत्व को समझ सकेंगे तो चलिए पढ़ते हैं हमारी आज की इस कहानी को

Story on importance of water in our life in hindi
Story on importance of water in our life in hindi

रोहन एक 10 साल का लड़का था वह खुशमिजाज था वह सुबह जल्दी जागता था नहाता था और खाना खाकर स्कूल जाता था उसमें सब कुछ अच्छा था बस उसकी एक ही आदत खराब थी पानी को व्यर्थ बहाने की.वह सुबह जब बाथरूम में नहाने जाता था तो जल का अपव्यय करता था वह अकेला ही पांच सात बाल्टियां से नहाता था उसकी मम्मी उसे हमेशा समझाती थी कि बेटा पानी का इतना अपव्यय मत करो यह पानी अनमोल है लेकिन वह कुछ भी नहीं समझता था वह अपनी मां की बात को नजर अंदाज करता था.
पानी व्यर्थ बहाने की उसकी आदत कम नहीं हुई धीरे-धीरे वह 20 साल का हो गया उसकी शादी हो गई. उसके पापा एक जॉब करते थे उसके पापा का ट्रांसफर किसी दूसरे शहर में हो गया अब रोहन अपनी बीवी के साथ ही रहता था.

गर्मियों का दिन था काफी समय से पानी भी नहीं बरशा था जिस वजह के चलते इस साल बहुत ही सूखा पड़ गया था.सूखा इतना था की उसके मोहल्ले में कहीं पर भी पानी नहीं था आसपास में वैसे तो तीन नल लगे हुए थे लेकिन किसी भी नल से पानी नहीं आता था बेचारा रोहन सुबह-सुबह ही बड़ी-बड़ी बाल्टियों को लेकर पानी भरने चला जाता था उसे दो या तीन बाल्टी पानी भरने के लिए घंटों तक लाइन में खड़ा होना पड़ता था वह अपने इस रोज रोज के पानी भरने के जीवन से तंग आ चुका था.वह अपनी बीवी से कहता कि तुम शोच के लिए बाहर खुले में जाओ क्योंकि पानी नहीं है.रोहन पानी की समस्या से बेहद परेशान रहता था वह सुबह 11:00 बजे जॉब पर जाता था लेकिन सुबह 5:00 बजे से केवल पानी ही पानी भरता रहता था उसका बच्चा भी पानी को फिजूल बर्बाद करता था रोहन से यह सब नहीं देखा जाता था कभी-कभी वह अपने बच्चे को डांट भी लगा देता था लेकिन ऐसा देखकर उसे अपने बचपन के दिन याद आ जाते थे कि मैं भी अपने बच्चे की तरह बेहद शरारती था और पानी के महत्व को नहीं समझता था.मैं बचपन से ही पानी को व्यर्थ बहाते हुए आया हूं अब मुझे पानी का मूल्य समझ में आया है.

Related- बूँद बूँद से घट भरता है की कहानी boond boond se ghada bharta hai kahani

उसके मोहल्ले में अगर कोई राहगीर चला आता तो उसे भी पानी पीने को नहीं मिलता था उस राहगीर को पास की दुकान से पैसों से पानी खरीदना पड़ता था. ₹10 में मिलने वाली पानी की बोतल उसके मोहल्ले में ₹20 में मिलती थी क्योंकि पानी की कोई कीमत नहीं होती पानी तो अनमोल होता है और अगर पानी ना हो तो किसी भी चीज का मोल नहीं होता है.

रोहन अब समझ चुका था कि हमें पानी को कभी भी बर्बाद नहीं करना चाहिए.पानी के महत्व पर लिखी हमारी ये कहानी आपको कैसी लगी.आप अपने दोस्तों में इस कहानी को शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Story on importance of water in our life in hindi कैसा लगा इसी तरह के नए-नए आर्टिकल पाने के लिए हमें सब्सक्राइब जरूर करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *