जल बचाओ जीवन बचाओ पर निबंध Save water save life essay in hindi language

Save water save life essay in hindi language

Jal bachao jeevan bachao essay in hindi-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज का हमारा निबंध Pani bachao essay in hindi आप सभी के लिए बहुत ही प्रेरणादायक है दोस्तों हमारे इस निबंध का उपयोग स्कूल कॉलेज के विद्यार्थी अपनी परीक्षा में लिखने के लिए यहां से जानकारी हासिल कर सकते हैं और इस निबंध का उद्देश्य यह भी है कि लोग जल संरक्षण को समझें और इस दुनिया में आने वाली बहुत बड़ी प्रॉब्लम को रोकें तो चलिए पढ़ते हैं आज के हमारे इस लिखित निबंध Save water save life essay को

Save water save life essay in hindi language
Save water save life essay in hindi language

कहते हैं जल का कोई मौल नहीं है लेकिन वास्तव में जल अनमोल होता है क्योंकि यह हमको जीवन देता है अगर पृथ्वी पर रहने वाले जीवो को कुछ समय तक जल ना मिले तो वास्तव में उनकी मृत्यु हो सकती है क्योंकि जल उनके शरीर को शीतलता प्रदान करता है इस दुनिया में हर एक जीव जंतुओं के लिए जल अति आवश्यक है आज हमारे देश में लोगों को मुफ्त में जल मिल जाता है जिस वजह से वह जल का कोई विशेष रूप से संरक्षण नहीं करते.हम सभी को जल संरक्षण करना चाहिए जिससे हम आने वाले भविष्य को कुछ हद तक जल की कमी होने से बचा सके.

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो जल संरक्षण नहीं करते वह जल फालतू में ही बहाते हैं वह अपने दैनिक जीवन की जरूरतों के लिए कुछ ज्यादा ही व्यर्थ का जल बहा देते हैं जिससे जल का कोई भी सदुपयोग नहीं हो पाता.हम सभी को चाहिए कि हम जल संरक्षण करें क्योंकि वास्तव में यदि हम जल संरक्षण नहीं करते तो जरूर ही हम आने वाले भविष्य को खतरे में डाल रहे हैं जब जल सुरक्षित रहेगा तभी हम सुरक्षित रह सकेंगे क्योंकि जल ही जीवन है जल के बिना इस दुनिया में कुछ भी नहीं है हम अपने दैनिक जीवन में जो फल फूल और अनाज का प्रयोग करते हैं वह हमें पेड़ पौधों से ही प्राप्त होता है और पेड़ पौधों को भी जल की जरूरत होती है अगर उनको भी जल ना मिले तो वह भी सूख जाएंगे और हमको अनाज या फल फूल नहीं मिल पाएंगे जिस वजह से हम अनाज का उपयोग ना करके भोजन नहीं कर पाएंगे और बहुत सारी समस्याओं का सामना हमको करना पड़ेगा.

किसान खेती करता है और उसके द्वारा अन्न उगाया जाता है उनका उपयोग हम सभी करते हैं लेकिन अगर जल ही ना हो तो किसान कैसे खेती कर पाएगा क्योंकि जल के बिना कुछ भी संभव नहीं है हम सभी को व्यर्थ का जल नहीं बहाना चाहिए जितना उपयोग हो उतना ही जल का उपयोग करें क्योंकि आने वाले समय में हम बहुत सारी परेशानियों से घिर सकते हैं आज हमारे देश में देखें तो जल से संबंधित बहुत सारी समस्याएं हैं

Related- जल ही जीवन है नारे jal hi jeevan hai slogan in hindi

किसी किसी स्थान पर तो पीने का पानी भी बड़ी मुश्किल से मिल पाता है सरकार वहां पर पीने के पानी की व्यवस्था करने के लिए बहुत से प्रयास कर रही है.कभी कभी सूखा होता है तो वहां के लोगों को बहुत सारी समस्याओं से जूझना पड़ता है अगर आप भी चाहते हैं कि इस तरह की परेशानी हमारे देश में ना आए तो हमको जल के महत्व को समझकर जल संरक्षण करना होगा तभी हो सकता है कि हम आने वाली प्रॉब्लम से बच सकें.हमको निम्नलिखित उपाय करके जल संरक्षण करना चाहिए
हमें बरसात के पानी का सदुपयोग करना चाहिए.हमें बरसात के पानी को कपड़े धोने के कार्यों में लेना चाहिए जिससे जल की सुरक्षा हो सके और वह व्यर्थ ना बहे.दरअसल बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो कपड़े धोने के लिए शुद्ध पानी का उपयोग करते हैं वह पानी को व्यर्थ बहाते हैं हमें कपड़े धोने जैसे कार्यों के लिए बरसात के पानी का उपयोग करना चाहिए जिससे जल को संरक्षित करके अपने भविष्य को बचाया जा सके.

जरूरत ना पड़ने पर नलों को बंद कर देना चाहिए दरअसल बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो कपड़े या बर्तन धो रहे होते हैं और साथ में नल को भी चालू छोड़ देते हैं और वह फिर बर्तन को धोते हैं तब तक नल चालू रहते हैं और उनसे बहुत सारा पानी बहता चला जाता है अगर आप भी ऐसा करते हैं तो व्यर्थ जल बहाना इस देश दुनिया के लिए बहुत ही घातक साबित हो सकता है क्योंकि जल की समस्या दिनों दिन हो रही है और ऐसा करने से जल ना मिल पाने की समस्या और भी तेजी से हमारे समक्ष प्रस्तुत होगी और हम बहुत सारी परेशानियों से घिर सकेंगे इसलिए हमें विशेष रुप से ध्यान देकर नलों का उपयोग न होने पर बंद कर देना चाहिए.
वॉशिंग मशीन में एक साथ में ही बहुत सारे कपड़े धोए.अगर हम ऐसा करते हैं तो कुछ हद तक हम पानी को बचा सकते हैं कुछ लोग होते हैं जो रोजाना कम कम कपड़े धोते हैं और वॉशिंग मशीन में बहुत सा पानी व्यर्थ चला जाता है हमें ऐसा नहीं करना चाहिए और हमें सारे कपड़े खराब होने पर एक साथ ही वॉशिंग मशीन में धोना चाहिए जिससे जल संरक्षित रह सके.

हमें नदी,तालाब आदि के पानी को गंदा नहीं करना चाहिए,उनके आस-पास गंदे कपड़े नहीं धोना चाहिए,उनके पास में शौच आदि क्रियाएं नहीं करना चाहिए जिससे जल प्रदूषित होने से बच सके और हम उस जल का उपयोग अच्छी तरह से कर सके.
बर्तन धोते समय किसी बाल्टी में पानी लेकर बर्तन धोये जिससे पानी को हम बचा सके कुछ महिलाएं नल के नीचे ही बर्तन धोती हैं और बहुत सा पानी व्यर्थ बह जाता है अगर हम बाल्टी में पानी लेकर बर्तन धोते हैं तो कुछ हद तक हम पानी को संरक्षित कर सकेंगे और उस अमूल्य जल को बचा सकेंगे जिसकी जरूरत धरती के हर एक जीव को है.
हमें शॉवर के नीचे नहीं नहाना चाहिए क्योंकि शॉवर की नीचे नहाने से बहुत पानी व्यर्थ होता है हमें बाल्टी में पानी लेकर ही नहाना चाहिए इससे हम बहुत से व्यर्थ पानी को बहने से बचा सकेंगे और जल संरक्षित कर सकेंगे.

अगर सार्वजनिक स्थानों की नल की टोटियां,नल इत्यादि खराब हो तो तुरंत जलदाय ऑफिस में सूचित करें क्योंकि हम देश के नागरिक हैं और जल संरक्षित करना हमारा कर्तव्य है हम अगर सूचित करते हैं तो वह उन नल की त्रुटियों को सही करवाकर व्यर्थ बहते जल को रोक सकेंगे और जल संरक्षित हो सकेगा इस तरह से हम बहुत सारा जल व्यर्थ होने से रोक सकेंगे.
वास्तव में हम सभी को जल संरक्षित करना चाहिए क्योंकि जब जल होगा तभी हमारा जीवन होगा जल के बिना इस पृथ्वी पर किसी भी जीव का जीवित रहना मुश्किल है हमें जल के महत्व को समझकर इसको हमेशा व्यर्थ बहने से रोकना चाहिए और जल संरक्षित करना चाहिए.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल Save water save life essay in hindi language पसंद आया हो तो कृपया कर इसे Save water save life essay शेयर जरूर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें और हमें कमेंट के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Save water save life essay in hindi language कैसा लगा और इसी तरह के आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें कृपया सब्सक्राइब जरूर करें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *