भैया दूज पर कविता Bhai dooj poems hindi language

Bhai dooj poems hindi

Bhai dooj par kavita-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों भाई दूज के इस पावन अवसर पर आप सभी को बधाई हो दोस्तों भाई दूज एक ऐसा पावन पर्व है जो प्राचीन काल से ही मनाया जाता है जिसमें बहने अपने भाई को प्रेम से तिलक लगाकर उन्हें खाना खिलाती है उनकी आरती उतारती हैं वास्तव में भाई दूज भाई बहन दोनों के बीच में प्रेम उत्पन्न करता है आज मैंने भाई दूज पर बहुत ही अच्छी कविता Bhai dooj poems hindi लिखी है आप इसे पढ़ें और अपनी बहन के साथ इस पर्व को मनाएं

Bhai dooj poems hindi
Bhai dooj poems hindi

प्रेम का ये बंधन है ख़ुशी का ये बंधन है
भाई बहन का बंधन है
थाल सजाकर तिलक लगाना
मिठाई खिलाकर प्रेम जताना
ऐसा भाई दूज का पर्व हैं

ना में मांगू मोती का हार
ना मांगू महंगा उपहार
में बस तेरे प्रेम को मांगू
ऐसा ही ये प्रेम का बंधन है

बहने इस दिन आरती उतारती
भाई की लम्बी उम्र की कामना करती
ऐसा ही है ये प्रेम का बंधन
ऐसा भाई दूज का पर्व हैं

भाई बहन के प्रेम का प्रतीक है                                                                                                                                                                  ख़ुशी मनाने का ये पर्व है                                                                                                                                                                           प्रेम का ये बंधन है                                                                                                                                                                                     भाई बहन का ये बंधन है

दोस्तों हमें कमेंटस के जरिए बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखी कविता Bhai dooj poems hindi कैसी लगी और हमारा Facebook पेज लाइक करना ना भूलें जिससे हमारे फेसबुक पेज पर आपको अपडेट मिल सके और हमारी इस पोस्ट Bhai dooj par kavita को शेयर जरुर करे.हमारी नई नई पोस्ट को अपने ईमेल पर पाने के लिए हमें सब्सक्राइब करना भी ना भूलें जिससे आप हमारी किसी भी पोस्ट को मिस ना कर पाएं.अगर आप हमें कमेंटस के जरिए बताएँगे तो हमें अगली पोस्ट लिखने के प्रति प्रोत्साहन मिलगा और हम नई-नई इसी तरह की पोस्ट लिख सकेंगे.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *