बुनकर और वन देवी

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज की हमारी कहानी आपको जीवन में बहुत ही प्रेरणा देगी चलिए पढ़ते हैं हमारी आज की कहानी को दोस्तों एक गांव में एक बुनकर रहता था वह कपड़ों को सिलता था सिलाई करता था एक दिन मशीन चलाते हुए उसकी मशीन का एक तरफ का हिस्सा टूट गया जिस वजह से उसकी मशीन नहीं चल पा रही थी उसने सोचा क्यों ना मैं इसमें लगाने के लिए जंगल से एक लकड़ी ले आऊं तब वह जंगल की ओर निकल पड़ा उसने चारों ओर देखा लकडी नहीं मिली लेकिन आगे चलकर वह एक पेड़ के पास पहुंचा उसको एक लकड़ी पसंद आई तो उसने उस लड़की को काटने के लिए जैसे ही उस वृक्ष पर प्रहार किया तो उस पेड़ से आवाज आई कि इस पेड़ों को मत काटो मैं वन देवी हूं लेकिन वह व्यक्ति वन देवी सेे कहने लगा कि अगर मैंने लकडी नहीं काटी तो मेरी मशीन नहीं चल पाएगी और मेरे बीवी बच्चे भूखे मरेंगे.वन देवी को दया आ गई उसने कहा कि तुम मुझसे कुछ वर मांगोगे तो मैं तुमको दूंगी.

किसान व्यक्ति बहुत सोच विचार करने लगा कुछ समय बाद उसको उसने वनदेवी से कहा कि मैं घर जाकर अपने परिवार वालों से राय लेता हूं उसके बाद आपसे वर मांग लूंगा वह वहां से निकल गया.रास्ते में उसको उसका एक दोस्त मिला उसने दोस्त को इस बारे में बताया तो उसका दोस्त कहने लगा कि एक काम कर वन देवी से मांगले की ये पूरा राज्य तेरा हो जाए ऐसा सुनकर वह व्यक्ति अपने घर की ओर अपने बीवी बच्चों के पास चल पड़ा जब वह अपने बीवी बच्चों के पास पहुंचा तो उसने ये पूरी बात अपने बीवी बच्चों से कही बीवी कहने लगी की राज मांगने से क्या होगा राज्य तो कौरवों के पास भी था लेकिन उनको जंगल-जंगल भटकना पड़ा था आप राज्य मत मांगो आप दो हाथ और दो पेर और मांग लो जिससे आप एक साथ दो मशीनें चला सकेंगे और आपकी इनकम दुगनी होगी उस व्यक्ति को अपनी पत्नी की ये सलाह पसंद आई और वह जंगल में जाकर वनदेवी से यह वर मांगता है और वनदेवी उसको यह वर दे देती हैं अब उस व्यक्ति के दो सिर और चार हाथ हो जाते हैं वह जैसे ही अपने घर की ओर निकलता है तो गांववासी उसको भूत समझते हैं और उसकी पिटाई लगा देते हैं इस तरह से उस व्यक्ति ने अपनी मूर्खता के कारण अपने मौके को गवा दिया.

दोस्तों इसी तरह हमको भी अगर मौका मिले तो उस मौके को गवारा नहीं चाहिए सोच समझ के कुछ अच्छा मांगना चाहिए क्योंकि मौका सिर्फ एक बार आता है.अगर आपको हमारी ये कहानी पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें और हमारा फेसबुक पेज लाइक करना न भूले और हमें कमेंट्स के लिए बताएं कि आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *