स्वच्छ विद्यालय पर निबंध Essay on cleanliness in school in hindi

Essay on cleanliness in school in hindi

Swachh vidyalaya essay in hindi-हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी,दोस्तों आज का हमारा आर्टिकल Essay on cleanliness in school in hindi आप सभी के लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण है यह आपके लिए प्रेरणादायक भी है.विद्यार्थी अपनी स्कूल,कॉलेज की परीक्षा में लिखने के लिए इस निबंध से जानकारी ले सकते हैं चलिये पढते हैं हमारे आज के इस निबंध को.

Essay on cleanliness in school in hindi
Essay on cleanliness in school in hindi

आज के इस आधुनिक युग में हम सभी को चाहिए कि हम हमारे चारों ओर के वातावरण को स्वच्छ रखें,हम विद्यालय को स्वच्छ रखें.दरह्सल हर एक इंसान के जीवन की शुरुआत होती है विद्यालय से.हर एक बच्चा विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने के लिए जाता है उस विद्यालय में अन्य छात्रों एवं अध्यापकों से मिलता है एक बच्चा जो कुछ भी नहीं जानता उसके जीवन की शुरुआत विद्यालय से ही होती है विद्यालय मैं गुरु के द्वारा बताए गए ज्ञान के आधार पर हर एक विद्यार्थी में इतनी समझ आती है कि वह सही और गलत को समझ सकता है विद्यार्थी के लिए विद्यालय सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है हर किसी को चाहिए की विद्यालय को स्वच्छ रखें क्योंकि जब विद्यालय स्वच्छ होगा तभी बच्चे एक अच्छी जिन्दगी जी सकेगी और जीवन में स्वच्छता के लिए बहुत कुछ कर सकेंगे,वह अपने देश को हमेशा स्वच्छ रखने के लिए प्रयास कर सकेंगे.विद्यालय में बच्चों को पढ़ाने के लिए अलग-अलग कक्षाएं प्रयोगशालाएं एवं पुस्तकालय होती हैं कक्षा में बच्चों को कोई पाठ पढ़ाया जाता है तो वही प्रयोगशाला में तरह-तरह के प्रयोग दिखाए जाते हैं तथा अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए कोई भी विद्यार्थी पुस्तकालय में अच्छी अच्छी शिक्षाप्रद पुस्तकें भी पड़ सकता है लेकिन इस क्षेत्र को स्वच्छ रखना बहुत जरूरी है अगर पुस्तकालय,कक्षा आदि में स्वच्छता होगी तो पढ़ाई करने में भी विद्यार्थियों का मन लगेगा और उनका स्वास्थ्य ठीक रहेगा.

अपने स्कूल की कक्षाओं आदि को स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी सभी की है वैसे तो विद्यालय को स्वच्छ रखने के लिए कुछ लोग रखे जाते हैं लेकिन इसी के साथ में विद्यार्थियों का भी कर्तव्य होता है कि वह अपने कक्षाओं,पुस्तकालय, प्रयोगशालाओं आदि में गंदगी ना फैलाएं अगर उसमें गंदगी फैलती है तो उसकी सफाई भी वह करें क्योंकि उनके जीवन की शुरुआत उनके विद्यालय से होती है विद्यालय में बच्चे,बच्चियों की सुविधाओं के लिए शौचालय की व्यवस्था की जाती है हर एक विद्यार्थी का कर्तव्य है कि वह अपने शौचालय को अस्वच्छ ना करें क्योंकि वोही उसका उपयोग करते हैं उसकी स्वच्छता का ख्याल रखें और जहां पर पानी भरा हो या हम जहां से पानी लेते हैं वहां पर व्यर्थ का पानी फैलाकर चारों ओर गंदगी ना फैलाएं क्योंकि हर एक विद्यार्थी का कर्तव्य होता है कि अपने वातावरण को,अपने चारों ओर की स्कूल की कक्षाओं को स्वच्छ रखें.

Related- स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत अभियान पर निबंध swachh bharat swasth bharat essay in hindi

इसके अलावा विद्यार्थियों के लिए जरूरी है कि वह पढ़ाई के साथ स्कूल में समय मिलने पर खेल के मैदान में खेल खेले.इसके लिए विद्यालय में खेल मैदान होता है विद्यार्थियों का कर्तव्य है खेल के मैदान की साफ सफाई रखें,चारों ओर गंदगी न फैलाएं अगर किसी भी तरह की पॉलिथीन कागज आप अपने साथ ले जाते हैं तो सिर्फ कूड़ेदान में ही डाले.व्यर्थ के खेल के मैदान में कूड़ा करकट फेंकने से चारों ओर गंदगी होती है और ये एक बहुत ही बुरी बात है स्कूल की इमारतो,भवनों का समय समय पर ख्याल रखें,स्कूल में कम से कम हर साल पुताई भी होना चाहिए इसके लिए विद्यालय प्रबंधन का कर्तव्य है कि वह अपने स्कूल का रखरखाव करें और दीवालो का हर साल रंगाई-पुताई करवाएं जिससे भवन स्वच्छ रहें.स्कूल में अगर कोई सी भी मूर्ति हो तो उसकी भी साफ-सफाई करे.विद्यार्थियों को भी इस ओर विशेष ध्यान देना चाहिए.

स्कूल के कर्मचारियों का कर्तव्य है कि वह बच्चों के लिए बनाए जाने वाले खाने को स्वच्छ रखें और रसोई घर का भी साफ सफाई का विशेष रुप से ध्यान दें.स्कूल में जरूरी है की अध्यापक अपने स्टूडेंट को समय-समय पर स्वच्छता के बारे में बताएं जिससे हर एक विद्यार्थी स्वच्छता के प्रति सचेत रह सके क्योंकि स्वछता से ही हम सभी स्वस्थ रह सकते हैं जैसे की हम सभी जानते हैं की देश का विकास होने के लिए जरूरी है कि हमारे बच्चे हमारे देश के विद्यार्थी स्वस्थ रहें और वह स्वस्थ तभी रहेंगे जब वह अच्छे और स्वच्छ वातावरण में रहे.हर मां-बाप को,हर अध्यापक,टीचर का कर्तव्य है कि वह अपने स्टूडेंट्स या बच्चों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करें और स्कूल कॉलेज में अगर किसी तरह की गंदगी है तो खुद उसकी साफ सफाई करे.अपने स्कूल कॉलेज की सफाई का ख्याल रखना,स्कूल-कॉलेज को स्वच्छ रखना हर स्टूडेंट्स का कर्तव्य है क्योंकि विद्यालय एक छात्र के लिए मंदिर की तरह होता है.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह आर्टिकल clean school essay in hindi पसंद आए तो शेयर जरुर करें और हमारा Facebook पेज लाइक करना न भूलें और हमें कमेंट के जरिए बताएं कि आपको हमारा यह आर्टिकल Swachh vidyalaya essay in hindi कैसा लगा अगर आप चाहें हमारे इसी तरह के Essay on cleanliness in school in hindi अगले आर्टिकल को सीधे अपने ईमेल पर पाना तो हमें सब्सक्राइब जरूर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *