नारी सुरक्षा पर निबंध “Mahila suraksha essay in hindi”

Mahila suraksha essay in hindi

Mahila suraksha essay in hindi-दोस्तों आजकल हम चारो और देखते है की नारी पर अत्याचार काफी बढ चुके है इसलिए Nari suraksha की ओर हमें विशेषकर ध्यान देने की जरुरत है इसलिए हमने आज की पोस्ट लिखी है,आज की हमारी ये पोस्ट Mahila suraksha essay in hindi विशेष रूप से हम सभी के लिए है,हम सब जानते है की आज की नारी सुरक्षित नहीं है,आज की नारी अगर घर
से निकलती है तोह डर डरकर निकलती है,आखिर ऐसा क्यों? आज हम चारो तरफ देख रहे है की नारी कही पर भी सुरक्षित नहीं है,आखिर हमको ऐसा क्या करना चाहिए जिससे हमारे देश की नारी सुरक्षित हो जाए और हमारे देश एक नयी ऊचाइयो पर पहुच जाए.

Mahila suraksha essay in hindi
Mahila suraksha essay in hindi
दोस्तों जैसे की मेने अपने पिछले article नारी पर अत्याचार में आप सभी को बताया था नारी अत्याचार के बारे में हमारी ये पोस्ट जरुर पढें-नारी पर अत्याचार Nari Par Atyachar Essay in Hindi

नारी सुरक्षा पर विशेष Mahila suraksha essay in hindi

आज हम विशेष रूप से नारी पर सुरक्षा के बारे में बात करेंगे,दोस्तोंआज की नारी बिलकुल भी सुरक्षित नहीं है,चाहे वोह नारी ऑफिस में काम करने वाली हो,या घर में रहने वाली,या अपने पढाई के लिए घर से बहार रहने वाली नारी हो,मुझे कहते हुए भी लज्जा हो रही है की इनमे से कोई भी नारी सुरक्षित नहीं है,आखिर ऐसा क्यों?
आज हम देखे तोह ऑफिस में काम कर रहा बॉस नारी पर बुरी नजर डालता है,जो घर से बहार लडकिया पढाई के लिए रहती है,वोह भी सुरक्षित नहीं है,और तोह और हमारे घर में रहने वाली महिलाए तक सुरक्षित नहीं है,क्योकि कभी कभी तोह सुनने में आया है की रिश्तेदार ही नारी पर बुरी नजर डालते है,और कुछ लोग नारी पर अत्याचार करते है,उन्हें अपने चप्पल की जूती समझते है,और अपने आप को शेष्ठ समझते है,मेरा मानना है की ऐसे लोगो को माफ़ नहीं करना चाहिए बल्कि ऐसे लोगो को कड़ी से कड़ी सजा देना चाहिए.
आज हम देख रहे है की बहुत सी लडकिया जो हॉस्टल में रहती है,हॉस्टल में रहने वाले लडकियो पर कडा प्रबंध लगाते है,वोह हॉस्टल की लडकियों को शाम को बहार नहीं जाने देते या शाम को जल्दी घर पर आने के निर्देश देते है,लेकिन वही दूसरी और लडको के हॉस्टल में तोह ऐसे कोई प्रबंध नहीं होते,हॉस्टल में जो होता है देखा जाए तोह सही होता है क्योकि वोह भी जानते है की नारी सुरक्षित नहीं है,अगर ये देर से
वापिस आई या शाम को कही घूमने गयी तोह इसके साथ कुछ गलत हो सकता है,और ये सब हमारे ऊपर आ सकता है लेकिन जरा सोचिये की आखिर हॉस्टल वालो को ऐसा करने की जरुरत क्यों है क्योकि नारी बिलकुल भी सुरक्षित नहीं है.
ज्यादातर लोग नारी को अपने से नीचा मानते है,वोह उनकी नहीं सुनते और किसी इन्सान ने तोह ये तक कहावत बना दी की “जूती और नारी हमेशा पेरो में अच्छे लगते है” ये तोह बिलकुल ही बुरा हो रहा है हमारे देश की नारी के साथ,हां में मानता हु की कुछ नारिया गलत हो सकती है लेकिन सबको गलत समझना और ऐसी गन्दी कहावत बनाना बिलकुल भी सही नहीं है,ये नारी जाति के लिए बहुत गलत है.
आज नारी सुरक्षित नहीं है तोह कई कारण है जैसे की-लोगो की गलत मानसिकता,bollywood की दुनिया और विदेशी संस्कृति
दोस्तों जैसे की हमने पहले ही आपको बताया की जहा पर भी नारिया जाती है,वहां के लोग उन्हें गन्दी नजर से देखते है,क्योकि लोगो की मानसिकता गन्दी हो चुकी है,उसे सुधारना बहुत जरुरी है,और दूसरा कारण ये भी है की bollywood वाले आजकल ऐसी ऐसी फिल्मे बना रहे है की लोगो की मानसिकता गन्दी होती जा रही है.
आप सोचिये की अगर आपके घर में भगवान की पूजा की जाती है,रामायण,गीता जैसे पुराण पढें जाते है तोह बहुत ज्यादा चांस होते है की आपभी अपने परिवार की तरह ही बनेंगे क्योकि जैसी संगत बैसी रंगत,यानी आप जो भी देखते हो उसका आप पर असर होता है,इसी तरह जब हमारी युवा पीड़ी दिन रात bollywood की गन्दी फिल्मे देखती है तोह उन पर बहुत ज्यादा गलत असर पड़ता है,और वोह अपनी मानसिक स्थिति को संभाल नहीं पाते,और बेचारी नारी के साथ कुछ गलत कर देते है.
इसके आलावा हम देखे तोह आज देश में विदेशी संस्कृति अपनाई जा रही है,देश की कुछ नारिया छोटे छोटे कपडे पहनने लगी है,इन सबको देखकर भी आजकल के लोगो की मानसिकता खराब हो जाती है,मेने देखा है की bollywood की कुछ हीरोइन तोह हद ही पार कर देती है,वोह किसी किसी शो में ऐसे कपडे पहनकर आती है,की उनके अन्दर के कपडे भी साफ़ साफ़ नजर आते है,अगर ऐसा होगा तोह सोचिये की कोई लड़का ये सब देखेगा तोह जाहिर सी बात है वोह कोई महात्मा तोह बनेगा नहीं,गलत काम करने वाला ही बनेगा.मेने देखा है की आज कल के टीवी या अखबारों के प्रचार में अगर किसी भी product का प्रचार होता है तोह उसमे लड़की छोटे कपडे पहनकर जरुर आती है,में तोह समझ ही नहीं पाता की कंपनी product का प्रचार कर रही है या नारी के जिस्म का.दोस्तों हमें नारी की सुरक्षा करनी चाहिए ना की उसके जिस्म को दिखाकर उससे पैसे कमाना चाहिए.
दोस्तों मेने बहुत सी वेबसाइट या अखबारों में पढा है की ये छोटे कपडे कुछ भी मायने नहीं रखते,लेकिन में आपसे कहता हु की हर एक चीज से फर्ग पड़ता है,अगर आप नारी को सुरक्षित देखना चाहते है,तोह समझिये की नारी पर अत्याचार होने का कोई एक कारण नहीं है बल्कि बहुत से कारण है लेकिन में आपको बतादू की नारी अगर आज सुरक्षित नहीं है तोह उसका सबसे बड़ा कारण है लोगो की सोच,इसलिए लोगो को नारी को अपनी माँ बहन की नजर से देखना चाहिए और उनका सम्मान करना चाहिए.
दोस्तों अगर हम अपने घरो की महिलाओं और लडकियों का आने वाले समय में सुरक्षित देखना चाहते है तोह हमें एक बदलाव लाने की जरुरत है,हमें नारी को सम्मान देना चाहिए और उसकी हमेशा रक्षा करनी चाहिए,उनको गलत नजरिये से ना देखते हुए अपनी माँ बहन के रूप में देखना चाहिए और इस बात को समझना चाहिए की आज आप जो भी है,जहा पर भी है सिर्फ और सिर्फ नारी की वजह से ही है क्योकि अगर नारी ना होती तोह आप इस दुनिया में बिलकुल भी ना होते.
नारी हमारी घर की लाज है,हमारे देश की शान है,अगर हमने हमारी नारी को समय रहते सुरक्षित रखने के उपायों के बारे में ना सोचा तोह हमारा देश विशाल अंधकारमय हो जाएगा,क्योकि नारी ही जननी है,नारी ही हमारे देश की सबकुछ है.
जब भी हम किसी नारी को रात में अकेला देखे तोह उसको सुरक्षित घर जाने दे,और अगर नारी के साथ कोई अत्याचार कर रहा हो तोह हमें उसकी सुरक्षा के लिए लड़ना चाहिए और ऐसे लोगो को सबक सिखाना चाहिए और साथ में ही पुलिस में रिपोर्ट करनी चाहिए,जब उसके साथ कड़ी कार्यवाही होगी तभी उसकी अकल ठिकाने आएगी. क्योकि अगर हमारे देश में इस तरह के अपराध होते है तोह उसका सबसे बड़ा
कारण लोगो का ये समझना है की में नारी से श्रेष्ठ हु,में नारी के साथ कुछ भी कर सकता हु लेकिन में आपसे एक बात कह दू की नारी से श्रेष्ठ आप उस पर अत्याचार करने से नहीं बन सकते,इससे तोह आप पुरुष कहलाने के काविल भी नहीं बच पाओगे.
हमारे देश की पुलिस को भी ऐसे लोगो के साथ कठोरता से पेश आना चाहिए,और ऐसे बुरे लोगो को सक्त से सक्त सजा देनी चाहिए,तभी ऐसे लोगो की अक्ल ठीकाने पर आएगी.
हमारा देश एक ऐसा देश है जहा पर प्राचीन काल से ही नारी को पूजा जाता है,उन्हें घर की लक्ष्मी समझा जाता है लेकिन आजकल ऐसा कुछ देखने को नहीं मिल रहा है,आजकल के जमाने में कुछ पति अपनी पत्नी के साथ मारपीट करते है,मतलब ऐसे लोग नारी को कमजोर समझते है,उन्हें समझना चाहिए की नारी देवी का अवतार है,नारी घर की लक्ष्मी है,हमें उनकी इज्जत करना चाहिए और उनकी सुरक्षा करनी चाहिए ना की ऐसे अपराध.
दोस्तों इस article Mahila suraksha essay in hindi को लिखने के पीछे हमारा उद्धेश्य सिर्फ लोगो में एक अच्छी सोच फेलाना है,अगर आप हमारी बात से सहमत नहीं है या आपको कुछ भी गलत लगे या कुछ कहना चाहे तोह कृपया हमें comments करे,अगर वोह बात गलत होगी तोह हम उसे इस पोस्ट Mahila suraksha essay in hindi में से हटा देंगे.

अगर आपको हमारी ये पोस्ट Nari suraksha par nibandh in hindi पसंद आई हो तोह इसे शेयर जरुर करे और हमारी
नयी पोस्ट सीधे अपने मेल पर पाने के लिए हमें subscribe करे.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *