बारासिंघा की कहानी “Ghamandi Barasingha Story in Hindi”

दोस्तों आज की हमारी ये कहानी Ghamandi Barasingha Story in Hindi आप सभी को काफी कुछ सिखाने वाली है,कभी-कभी क्या होता है कि इंसान अपने अंदर घमंड करने लगता है क्योंकि उसके पास कुछ खास होता है अगर हमारे पास भगवान ने कोई चीज खास दी है,कुछ अच्छा दिया है तो उसका हमें मान करना चाहिए लेकिन अगर हम उस चीज के बदौलत घमंड करने लगते हैं तो एक दिन हमारा वह घमंड चूर-चूर हो जाता है एक स्टोरी के जरिए मैं आप सभी को समझाने वाला हूं.

Ghamandi Barasingha Story in Hindi

काफी समय पहले की बात है कि एक बारहसिंहा अपने जीवन में काफी खुश था क्योंकि उसके पास 12 सिंह थे जो उसे बहुत ही प्रिय थे जब भी वह कभी शिकार करता तो उसके सीग उसकी मदद करते,उसको अपने सींगों की वजह से अपने आप पर घमंड होने लगा था,एक दिन वह एक नदी के किनारे पानी पीने के लिए जाता है,वह अपने आप को देखता है वह अपने सींगों को देख कर काफी खुश होता है कहता है भगवान आपने मुझे इतने अच्छे सीग दिए हैं,दूसरी ओर जब वह अपने पैरों को देखता है तो सोचता है की हे भगवान आपने मुझे इतने भद्दे पैर क्यों दिए मैं अपने इन पैरों की वजह से बहुत शर्म महसूस करता हूं.

ये भी पढें-गाय और शेर की कहानी

वह बारहसिंह सोच ही रहा था कि इतने में ही वहां पर कुछ शिकारी आ जाते हैं और जब बारहसिंहा उनके आने की आवाज सुनता है तो वह वहां से बहुत तेजी से भागने लगता है बहुत तेजी से शिकारी उस बारहसिंहा के पीछे पड़ जाते हैं इतने में ही बारहसिंघा बहुत तेजी से भागने लगता है और उनसे बहुत दूर निकल जाता है,इतने में ही दौड़ते-दौड़ते उसके सिंह झाड़ियों में बीद जाते हैं,वो उन सींगों को निकालने की कोशिश करता है और झाड़ियों को जोर से हिलाता है लेकिन काफी कोशिश करने के बावजूद भी वह बारहसिंहा अपने सींगों को नहीं निकाल पाता.

कुछ समय बाद जब शिकारी उन हिलती हुई झाड़ियों को देखते हैं तो वह उधर आ जाते हैं उनको बारहसिंघा दिख जाता है,तो बारहसिंघा सोचता है की काश मेरे सींग नहीं होते तो मेरी जान बच जाती मैं सोचने लगता की आज मैं अगर इन शिकारियो से बचकर यहाँ तक आया तो अपने पैरों की वजह से क्योंकि मैं अपने पैरों से चलकर ही यहां तक पहुंच पाया हूं लेकिन अपने सिंगो की वजह से आज मैं मर जाऊंगा,वह बारासिंघा शिकारियों की तरफ देख कर दुखी होने लगता है,शिकारी उसका शिकार कर देते हैं और वह मारा जाता है दोस्तों इसलिए कहते हैं कभी भी किसी भी चीज पर घमंड नहीं करना चाहिए बारहसिंघा आज अगर मारा गया तो सिर्फ अपने सींगो की वजह से क्योंकि कभी-कभी जिस चीज को हम अपनी खास समझते हैं वही हमें हमारे लिए बेकार साबित होते हैं इसलिए कभी भी किसी चीज पर घमंड ना करें और ना ही किसी चीज को बेकार समझे.

ये भी पढें-चींटी और कबूतर “Chiti Aur Kabootar Story in Hindi”

अगर आपको हमारी ये पोस्ट Ghamandi Barasingha Story in Hindi पसंद आई हो तोह इसे शेयर जरुर करे,और हमारी अगली पोस्ट अपनी email id पर पाने के लिए subscribe करे.

और हमें comments के जरिये बताये की आपको हमारी ये कहानी Ghamandi Barasingha Story in Hindi कैसी लगी.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *